News Nation Logo
Banner

कांग्रेस के विधायक ने किसानों को दी खुली छूट, अधिकारियों को जूता मारना पड़े तो मारो

छत्तीसगढ़ की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस के एक विधायक ने भड़काऊ भाषण दिया है.

By : Dalchand Kumar | Updated on: 12 Sep 2019, 10:15:33 AM
कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह (फाइल फोटो)

कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह (फाइल फोटो)

बलरामपुर:

छत्तीसगढ़ की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस के एक विधायक ने भड़काऊ भाषण दिया है. किसानों के हक में बोलते हुए कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने कहा अधिकारियों को जूतों से मारने की खुली छूट दे डाली. विधायक ने कहा कि अगर कोई अधिकारी किसानों को धोखा देगा और बड़बड़ी करेगा तो बर्दाश्त नहीं होगा. ऐसे अधिकारियों को जूता मारना पड़े तो मारो. विधायक बृहस्पति सिंह बुधवार को छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे. 

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस नेता बोले- दूसरे के किए में फीता काटने वाले PM मोदी चंद्रयान-2 लॉन्च करने गए और फेल हो गए

जनसभा को संबोधित करते हुए बृहस्पति सिंह ने कहा, 'कई किसानों ने बैंक से लोन नहीं लिया है, लेकिन बैंक अधिकारियों ने किसानों से गलत तरीके से उनके दस्तखत करवा लिए हैं और उन्हें कर्ज वसूली के नोटिस भेज रहे हैं.ये बहुत ही गंभीर बात है. इस बारे में मैंने मुख्यमंत्री जी को अवगत करवाया है और कलेक्टर को भी निर्देश प्राप्त हुए हैं. मेरा आपके आग्रह है, जहां भी गड़बड़ी है, जो भी अधिकारी गड़बड़ करता है और किसानों को धोखा देता है. अब उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.'

यह भी पढ़ेंः लड़की के लिए मुस्‍लिम युवक ने धर्म बदला, शादी रचाई, अब सुप्रीम कोर्ट ने ये कहा

कांग्रेस विधायक ने आगे कहा, 'हमारे अन्नदाता को कोई परेशान नहीं कर सकता है. जो अन्नदाता हमारा-आपका पेट भरने का काम करता है, उसके साथ जो भी कोई अधिकारी गड़बड़ करेगा, उसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. ऐसे अधिकारियों को हर हाल में जांच करवाकर जेल भेजो, जूता मारना पड़े तो मारो, लेकिन किसानों को देखा देना, बर्दाश्त नहीं होगा.' विधायक ने आरोप लगाया कि बैंकों के अधिकारी किसानों के पुराने कर्जे को जिसे सरकार ने माफ कर दिया है, नया बता रहे हैं और उसकी वसूली के लिए नोटिस भेज रहे हैं.

First Published : 12 Sep 2019, 08:33:22 AM

For all the Latest States News, Chhattisgarh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×