News Nation Logo

छत्तीसगढ़ सीएम बघेल ने 2 हजार 834 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की दी सौगात

छत्तिसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए राज्य के 27 जिलों को कुल 2 हजार 834 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात दी है।

MOHIT RAJ DUBEY | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 19 Sep 2021, 11:40:04 PM
Chhattisgarh CM Baghel

Chhattisgarh CM Baghel (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

छत्तिसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए राज्य के 27 जिलों को कुल 2 हजार 834 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात दी है. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि पौने तीन साल के दौरान कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन सहित बहुत सारी चुनौतियां सामने आयी. इसके बावजूद भी छत्तीसगढ़ में विकास और निर्माण के कार्य लगातार चलते रहे हैं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 401 कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया. जिसमें लोक निर्माण विभाग के 2708 करोड़ की लागत के 332 कार्य सड़क, पुल-पुलिया और भवन निर्माण के हैं.


कार्यक्रम की अध्यक्षता लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने की. इस अवसर पर स्वास्थ मंत्री टी. एस. सिंहदेव, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेम सिंह टेकाम, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, यू डी मिंज, सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं विधायक गुलाब कमरो, बृहस्पत सिंह, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू  उपस्थित थे. वहीं इसके अलावा विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया, सांसद दीपक बैज, इस कार्यक्रम में वर्चुअल रूप से शामिल हुए. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आगे कहा कि बीते जून माह में राज्य के सभी जिलों में विभिन्न विभागों के कुल 8188 कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया गया था. जिनकी कुल लागत 6 हजार 845  करोड़ रुपए थी.

जून माह में ही घर-घर तक पेयजल पहुंचाने के लिए 238 करोड़ रुपए लागत की 658 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया था, जिस पर तेजी से काम जारी है. तब से लेकर अब तक लगातार और भी बहुत से नये कामों की शुरुआत हुई है, और पूर्ण हो चुके कामों का लोकार्पण भी लगातार किया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज लोक निर्माण विभाग के 2708 करोड़ की लगात वाले कार्यों के अलावा अन्य विभागों के 69 कार्यों का भी लोकार्पण और शिलान्यास किया जा रहा है, जिनकी लागत 125.65 करोड़ रुपए है. इनमें ऐसे निर्माण कार्य शामिल है, जिनकी वर्षों से मांग रही है। उन्होंने कहा कि हम सामाजिक क्षेत्र की योजनाओं की तरह निर्माण और जन-सुविधा विकास की योजनाओं पर भी तेजी से काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि राज्य के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में बेहतर आवागमन सुविधा के लिए 312 सड़कों एवं पुलों का कार्य तेजी से कराया जा रहा है.


इसी तरह मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत 266 करोड़ की लागत वाले 2262 कार्य तेजी से पूरे कराए जा रहे हैं. मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि इससे राज्य में सड़क नेटवर्क को और मजबूती मिलेगी. साथ ही जन सुविधाओं का विकास तेजी होगा। कार्यक्रम को लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रदेश में अधोसंरचना निर्माण के काम तेजी से कराए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि सड़कों के साथ-साथ पुल-पुलियों के निर्माण को विशेष प्राथमिकता से कराया जा रहा है, ताकि लोगों को बारहमासी आवागमन की सुविधा मिल सके. उन्होंने धरसा योजना की तैयारी तथा विभाग की कार्य योजना का जानकारी भी दी और कहा कि स्वीकृत सड़कों के निर्माण के साथ-साथ आने वाले वर्षों में राज्य में तीन हजार किलोमीटर लंबी सड़कों की मरम्मत कराया जाना है. लोक निर्माण विभाग के सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी ने स्वागत उद्बोधन में कहा कि पौने तीन सालों में लोक निर्माण विभाग द्वारा लगभग 12 हजार करोड़ रूपए के निर्माण कार्यों की स्वीकृति दी गई है.


 छत्तीसगढ़ सड़क एवं अधोसंरचना विकास निगम द्वारा 5225 करोड़ की लागत के 3900 किलोमीटर लंबी सड़कों एवं पुल-पुलिया के निर्माण कराया जा रहा है।

  • भूपेश बघेल ने जिलों को दी निर्माण एवं विकास कार्यों की सौगात*
  • कोरिया जिले में  95.70 करोड की लागत के 27 कार्य़,
  • सूरजपुर जिले में 60.69 करोड़ की लागत के 13 कार्य,
  • बलरामपुर में जिले में 117.18 करोड़ की लागत के 14 कार्य
  • सरगुजा जिले में 99.07 करोड़ के 9 कार्य
  • जशपुर जिले में 27.53 करोड़ के 6 कार्य
  • रायगढ़ जिले को 203.04 करोड़ की लागत के 11 कार्य, 
  • कोरबा जिले को 109.11 करोड़ की लागत के 6 कार्य, 
  • गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही को 23.95 करोड़ की लागत वाले 3 कार्य
  • मुंगेली जिले को 50.40 करोड़ की लागत के 8 कार्य, 
  • बिलासपुर जिले को 26.04 करोड़ की लागत के 5 कार्य, 
  • महासमुन्द जिले को 102.12 करोड़ की लागत के 16 कार्य
  • बलौदाबाजार जिले को 182.40 करोड़ की लागत के 34 कार्य
  • रायपुर जिले को 271.32 करोड़ की लागत के 41 कार्य, 
  • गरियाबंद जिले को 53.33 करोड़ की लागत के 6 कार्य, 
  • धमतरी जिले को 144.61 करोड़ की लागत के एक कार्य
  • बालोद जिले को 195.72 करोड़ की लागत के 15 कार्य शामिल हैं।
  • इसी तरह दुर्ग जिले को 115.11 करोड़ की लागत के 15 कार्य
  • बेमेतरा जिले को 152.83 करोड़ की लागत के 24 कार्य, 
  • कवर्धा जिले को 130.19 करोड़ की लागत के 10 कार्य, 
  • राजनांदगांव जिले को 145 करोड़ की लागत के 31 कार्य, 
  • कांकेर जिले को 168.21 करोड़ की लागत वाले 26 कार्य
  • कोण्डागांव जिले को 49.47 करोड़ की लागत वाले 11 कार्य
  • नारायणपुर जिले को 52.87 करोड़ की लागत वाले 14 कार्य
  • बस्तर जिले को 139.12 करोड़ की लागत के 29 कार्य, 
  • दंतेवाड़ा को 29.99 करोड़ की लागत के तीन कार्य, 
  • बीजापुर जिले को 10.92 करोड़ की लागत के दो कार्य तथा सुकमा जिले को 78.44 करोड़ की लागत के 11 कार्य शामिल हैं।

First Published : 19 Sep 2021, 11:35:54 PM

For all the Latest States News, Chhattisgarh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.