News Nation Logo
Banner

छत्तीसगढ़ में 30 मेडिकल मोबाइल वैन के साथ सेवा शुरू

छत्तीसगढ़ में रविवार से 30 मोबाइल मेडिकल वैन सेवा की शुरूआत की जा रही है और जल्द ही इस बेड़े में 30 और मोबाइल मेडिकल वैन जोड़े जाएंगे. इस तरह प्रदेश के 14 शहरों में 60 मोबाइल मेडिकल वैन सेवा लोगों को अनवरत मिलेगी.

IANS | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 01 Nov 2020, 05:22:09 PM
Medical mobile van service

Medical mobile van service (Photo Credit: (फोटो-Ians))

रायपुर:  

छत्तीसगढ़ में रविवार से 30 मोबाइल मेडिकल वैन सेवा की शुरूआत की जा रही है और जल्द ही इस बेड़े में 30 और मोबाइल मेडिकल वैन जोड़े जाएंगे. इस तरह प्रदेश के 14 शहरों में 60 मोबाइल मेडिकल वैन सेवा लोगों को अनवरत मिलेगी. मोबाइल मेडिकल वैन में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में फीड बैक जानने के लिए पोल मशीन लगी होंगी. इसमें तीन तरह के बटन होंगे जिसे दबाकर लोग अपनी प्रतिक्रिया से प्रशासन को अवगत करा सकेंगे.

यहां यह उल्लेखनीय है कि भारत में सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा प्रणालियों में अच्छे, अनुकरणीय व्यवहार एवं नवाचारों के लिए वर्ष 2018-19 में उच्च फोकस राज्यों की श्रेणी के अंतर्गत छत्तीसगढ़ को प्रथम स्थान मिल चुका है.

और पढ़ें: Marwahi Assembly Bypoll: चुनाव लड़ने से वंचित जोगी की पार्टी ने किया BJP का समर्थन

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश सचिव और रायपुर नगर निगम परिषद के महापौर एजाज ढेबर ने 14 शहरों में मोबाइल वैन सुविधा शुरू किए जाने के संबंध में जानकारी देते हुए कहा, '' आज से 30 मेडिकल मोबाइल वैन के साथ यह सेवा शुरू की जा रही है और जल्द ही इस बेड़े में 30 और मेडिकल वैन जोड़े जाएंगे. इसके साथ ही इसमें यह सुविधा है कि मरीज को सर्विस अच्छी लगने पर हरा बटन, ठीक-ठाक लगने पर पीली बटन और सुविधाओं से असंतुष्ट होने पर लाल बटन दबानी होगी. इसके साथ ही सर्विस के संबंध में कमिश्नर, कलेक्टर और सचिव की रिपोर्ट शामिल होगी."

उन्होंने बताया कि मोबाइल मेडिकल वैन में अत्याधुनिक जांच मशीन से मरीजों का टेस्ट हो सकेगा. मरीजों के इलाज के लिए बेहतरीन क्वॉलिटी की दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही हैं. यहां बीपी और शुगर जैसी बीमारियों की नियमित जांच के साथ इसकी दवाइयां भी मुफ्त में दी जाएंगी. उन्होंने कहा कि मोबाइल मेडिकल वैन में इंजेक्शन लगाने के लिए एएनएम नर्स रहेगी. मरीजों को दवाइयां बांटने के लिए कुशल फार्मासिस्ट भी होंगे.

रायपुर के महापौर 42 वर्षीय ढेबर ने मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना को नगर निगम में लागू करने की शुरूआत की है. उन्होंने कहा कि इसके तहत नागरिकों को निशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी. इससे कम आय वर्ग के लोगों को फायदा होगा. असंगठित और संगठित क्षेत्र के मजदूरों को इस योजना के तहत मुफ्त इलाज की सुविधा हासिल करने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसमें लोगों को चिकित्सा परामर्श, पैथालॉजी टेस्ट और निशुल्क दवाइयां भी मिलेंगी.

उन्होंने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक में जिन मरीजों के इलाज की आधुनिक सुविधाएं नहीं होंगी, उन्हें बड़े अस्पताल में रेफर किया जाएगा.

रायपुर के यंगेस्ट मेयर ढेबर ने कहा, मेडिकल कॉलेजों को इलाज के लिए नए-नए उपकरण और मॉडर्न लैब की सुविधा दी जाएगी. विशेष सहायता योजना के तहत गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए जरूरतमंदों को 20 लाख रुपये तक की मदद दी जा सकेगी. बीपीएल परिवार को 5 लाख और एपीएल फैमिली को 50 हजार रुपये तक कैशलेस इलाज की सुविधा मिलेगी. इसका फायदा 65 लाख परिवारों को सिर्फ राशनकार्ड से मिल सकेगा.

उन्होंने कहा कि यदि मरीजों को कोई असुविधा होती है या निर्धारित समय में मेडिकल मोबाइल वैन नहीं मिलती या कोई दूसरी शिकायत होती है तो वह टोल फ्री नंबर 1100 पर फोन कर सकते हैं.

गौरतलब है कि रायपुर के नए मेयर एजाज ढेबर ने जनवरी में 21 ब्राह्मणों के शंखनाद के बीच महापौर पद की शपथ ली थी. उनके शपथग्रहण पर हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई विद्वानों ने धर्मग्रंथों का पाठ किया था.

First Published : 01 Nov 2020, 05:22:09 PM

For all the Latest States News, Chhattisgarh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.