News Nation Logo
Banner

नाबालिग से दो महीने तक दुष्कर्म, बच्चा होने पर पंचायत ने सुनाया ऐसा फरमान!

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक नाबालिग लड़की से डरा-धमकर दो महीने तक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. लड़की के गर्भवती होने के बाद इसका खुलासा हुआ है.

By : Dalchand Kumar | Updated on: 10 Nov 2019, 02:01:17 PM
नाबालिग से 2 महीने तक दुष्कर्म, बच्चा होने पर पंचायत ने बोली- बेच दो

नाबालिग से 2 महीने तक दुष्कर्म, बच्चा होने पर पंचायत ने बोली- बेच दो (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर:

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक नाबालिग लड़की से डरा-धमकर दो महीने तक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. लड़की के गर्भवती होने के बाद इसका खुलासा हुआ है. लेकिन हद तो तब हो गई जब बिन ब्याही मां बनकर इंसाफ मांग रही पीड़िता को ही समाज के ठेकेदारों ने दोषी बताया और उसके नवजात को बेचने का फरमान सुना डाला. जिसके बाद पीड़िता और उसका परिवार पुलिस की शरण में पहुंचा और अपनी शिकायत दर्ज करवाई. पीड़िता ने गांव के ही मौलाना और एक अन्य युवक पर डरा-धमकाकर महीनों तक दुष्‍कर्म करने का आरोप लगाया है.

यह भी पढ़ेंः ऑटो और कार में आमने-सामने की भयंकर भिड़ंत, एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत

जानकारी के मुताबिक, मुजफ्फरपुर के कटरा स्थित मस्जिद में कुछ सालों से एक मौलाना रहता है, जिसका नाम मकबूल है. गांव के लोग उसे बारी-बारी से खाना भेजते थे. इस क्रम में मौलाना के लिए नाबालिग लड़की खाना लेकर गई थी. आरोप है कि वहां पर मौलाना ने पहले लड़की को धोखे से नशा देकर बेहोश कर दिया था और फिर उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद आरोपी डरा-धमकाकर लड़की के साथ दो महीने तक इसी तरह दुष्कर्म करता रहा. एक दिन गांव के ही दूसरे युवक को इस बारे में पता चला तो वो भी लड़की को धमकी देकर दुष्‍कर्म करने लगा था. 

दो महीने तक लगातार दुष्कर्म किए जाने पर लड़की गर्भवती हो गई. जिसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ, तो दोनों आरोपी फरार हो गए. फिर गांव में पंचायत बुलाई गई. जिसमें समाज के ठेकेदारों ने न्याय मांग रही पीड़िता को ही दोषी ठहराया. इतना ही नहीं पंचायत ने पीड़िता और उसके परिवार का सामाजिक बहिष्कार किए जाने की बात कही. हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि पंचायत ने नवजात बच्चे को मां से अलग कर 20 हजार रुपये में बेच देने का फैसला सुना डाला.

यह भी पढ़ेंः बैंकों को लूटने वाला शातिर अपराधी गिरफ्तार, गैंग के बारे में जान फटी रह जाएंगी आंखें

पंचायत से न्याय न मिलने के बाद पीड़िता के परिजन महिला थाने पहुंचे और अपनी शिकायत दर्ज करवाई. फिलहाल इस मामले की जांच के लिए एक विशेष टीम गठित की गई है. एसपी सिटी नीरज कुमार सिंह ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है और उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इसके साथ ही पुलिस पीड़िता के बच्‍चे और दोनों आरोपियों का डीएनए टेस्ट कराएगी. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.

वीडियो देखेंः 

First Published : 10 Nov 2019, 01:56:07 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.