logo-image
लोकसभा चुनाव

Tejashwi Yadav: 15 अगस्त के बाद बिहार यात्रा पर निकलेंगे तेजस्वी, विधानसभा चुनाव से पहले बनाई रणनीति

विधानसभा चुनाव में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रखना चाहते हैं. इसे लेकर तेजस्वी ने अपने विधायकों को 2 महीने का अल्टीमेटम भी दे दिया है. 15 अगस्त के बाद तेजस्वी बिहार यात्रा पर निकलेंगे.

Updated on: 23 Jun 2024, 07:48 AM

highlights

  • 15 अगस्त के बाद बिहार यात्रा पर निकलेंगे तेजस्वी
  • विधानसभा चुनाव से पहले लोगों के बीच जाएंगे 
  • तेजस्वी ने विधायकों को दिया 2 महीने का अल्टीमेटम

Patna:

लोकसभा चुनाव के खत्म होते ही बिहार में सभी पार्टियां विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारी में जुट चुकी है. एक तरफ विपक्ष लगातार राज्य सरकार को घेरती नजर आ रही है तो दूसरी तरफ नीतीश सरकार प्रदेश में रोजगार को लेकर सक्रिय नजर आ रहे हैं. इन सबके बीच नेता प्रतपिक्ष तेजस्वी यादव ने ऐलान कर दिया है कि वह 15 अगस्त के बाद एक बार फिर से बिहार दौरे पर निकलेंगे. तेजस्वी यादव बार-बार कह रहे हैं कि इस दौरान वह राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे. वहीं, लोकसभा में आरजेडी की टिकट से चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी भी आभार यात्रा पर निकलेंगे. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में इंडिया एलायंस में रहकर आरजेडी ने 23 सीटों पर अपने उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा था. वहीं, तेजस्वी यादव ने 250 से ज्यादा चुनावी रैलियों को संबोधित किया था. तेजस्वी की आक्रामक रैलियों के बाद भी प्रदेश में आरजेडी सिर्फ चार सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब हो सकी. 

यह भी पढ़ें- RJD सुप्रीमो लालू यादव का बड़ा फैसला, इस दिग्गज नेता को बनाया लोकसभा संसदीय दल का नेता

विधानसभा चुनाव से पहले तेजस्वी की रणनीति

विधानसभा चुनाव से पहले तेजस्वी की यह रैली जमीनी हकीकत जानने और जनता का मन समझने के लिए है. अभी रैली का कोई नाम नहीं दिया गया है. उससे पहले नेता प्रतिपक्ष अपने पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं के साथ लगातार बैठक कर रहे हैं और उनसे फीडबैक ले रहे हैं. बिहार में जो आरक्षण को 50 फीसदी से 65 फीसदी किया गया था, उस पर लगे रोक को लेकर भी तेजस्वी विपक्ष पर निशाना साध रहे हैं और उन्हें आरक्षण विरोधी बता रहे हैं. 

15 अगस्त के बाद यात्रा पर निकलेंगे तेजस्वी

विधानसभा चुनाव को देखते हुए 15 अगस्त के बाद बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव यात्रा पर निकलेंगे और जनता के बीच रहेंगे. बता दें कि महागठबंधन की सरकार टूटने के बाद तेजस्वी ने विधानसभा में कहा था कि नीतीश कुमार ने हमें वनवास नहीं दिया है बल्कि हमें जनता के बीच भेजने का काम किया है. तेजस्वी यादव पहले भी कई बार बिहार यात्रा कर चुके हैं. लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा से पहले भी तेजस्वी बिहार यात्रा पर निकले थे. 

तेजस्वी ने दिया 2 महीने का अल्टीमेटम

आपको बता दें कि तेजस्वी ने अपने पार्टी के सभी विधायकों को 2 महीने का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि सभी नेता अपने-अपने क्षेत्रों में 2 महीने में काम करें, नहीं तो उनका टिकट विधानसभा चुनाव में काट लिया जाएगा. इसे लेकर दिशा निर्देश भी दिए गए हैं. तेजस्वी के इस अल्टीमेटम को आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने भी गंभीरता से लेने को कहा है.