News Nation Logo

अखिलेश यादव ने दिये संकेत, मायावती की चुनाव में करेंगे मदद

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती को चुनावों मदद करने के संकेत दिये।

News Nation Bureau | Edited By : Jeevan Prakash | Updated on: 29 Jul 2017, 06:41:17 PM
समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

highlights

  • अखिलेश ने कहा, मायावती चुनाव लड़ती हैं, तो मैं केवल इतना कहूंगा कि समाजवादियों के सबसे अच्छे संबंध हैं
  • समाजवादी पार्टी नेताओं के इस्तीफे पर अखिलेश ने कहा, यह राजनीतिक भ्रष्टाचार है
  • अखिलेश ने कहा, बीजेपी एमएलसी और एमएलए को लालच देकर तोड़ रही है

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती को चुनावों मदद करने के संकेत दिये। साथ ही अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर राजनीतिक भ्रष्टाचार के आरोप लगाए।

समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, 'अगर मायावती चुनाव लड़ती हैं, तो मैं केवल इतना कहूंगा कि समाजवादियों के सबसे अच्छे संबंध हैं। परिस्थिति के अनुसार राजनीति में किसकी कब मदद करनी पड़े, उसके लिए तैयार रहना चाहिए।'

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद भी अखिलेश यादव ने बीएसपी-एसपी गठबंधन के संकेत दिये थे।

शनिवार सुबह समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को एक बड़ा झटका लगा। समाजवादी पार्टी के एमएलसी और राष्ट्रीय शिया समाज के संस्थापक सदस्य बुक्कल नवाब और यशवंत सिंह ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

इसके अलावा बीएसपी के एमएलसी जयवीर सिंह ने भी इस्तीफा दे दिया है। बीएसपी से इस्तीफा देने के बाद जयवीर सिंह बीजेपी में शामिल हो गए है।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को ही लखनऊ पहुंचे। शाह के लखनऊ आते ही एसपी को बड़ा झटका लगा। इसे शाह का मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है। इस घटनाक्रम को कुछ मंत्रियों को एमएलसी बनाने का रास्ता माना जा रहा है। रिक्त सीट पर बीजेपी नेता उपचुनाव लड़ सकते हैं।

उत्तर प्रदेश में हुए जोड़-तोड़ पर अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) एमएलसी और एमएलए को लालच देकर तोड़ रही है। बीजेपी जनता के बीच जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है।

बिहार में इन लोगों ने राजनीतिक भ्रष्टाचार किया और अब गुजरात में कांग्रेस को तोड़ने में लगे हैं। अखिलेश ने कहा, 'एमएलसी तोड़ना राजनीतिक भ्रष्टाचार है। बुक्कल नवाब अगर कैद नहीं हुए होंगे, तो मैं उनसे पूछूंगा कि क्या कारण है।'

वहीं बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती ने कहा है कि बीजेपी की सत्ता की भूख अब बुरी हवस में बदल गई है। बीजेपी के मुंह में सत्ता हथियाने का खून लग चुका है।

और पढ़ें: राहुल का मोदी पर निशाना, कहा कश्मीर हिंसा से BJP-RSS को फायदा

First Published : 29 Jul 2017, 06:27:53 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो