News Nation Logo
कश्मीर में हो रहीं हत्याएं दुखद, हम निंदा करते हैं: राजीव शुक्ला पीएम नरेंद्र मोदी 20 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे घर में घुसकर गरीब लोगों की हत्या करना दुर्भाग्यपूर्ण है। आतंकियों की यह कायराना हरकत है: सुशील मोदी आतंकियों की मंशा लोगों में डर पैदा करने की है, जिससे लोग कश्मीर छोड़कर चले जाएं: सुशील मोदी उत्तराखंड: बद्रीनाथ धाम में शुरू हुआ सीजन का पहला हिमपात। धाम में पड़ रही कड़ाके की ठंड। राम रहीम को रंजीत सिंह हत्या मामले में उम्रकैद की सजा पंचकूला की CBI अदालत ने सजा का ऐलान किया अन्य 4 दोषियों पर 50-50 हजार रुपए का जुर्माना अदालत ने राम रहीम पर 31 लाख का जुर्माना भी लगाया लंबी लड़ाई के बाद पीड़ित परिवार को मिला इंसाफ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के साथ 5 लोगों को उम्र कैद पंजाब: जालंधर-फगवाड़ा हाईवे पर धनोवाली में एक तेज रफ़्तार गाड़ी ने 2 युवतियों को कुचला देश में अब तक कोविड वैक्सीन की 98 करोड़ डोज़ लगाई गई है: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया आंतरिक सुरक्षा पर राज्यों के IG और DGP के साथ आज अमित शाह की बैठक कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, सुरक्षा बढ़ाई गई दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने “रेड लाईट ऑन, गाड़ी ऑफ” अभियान की शुरुआत की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में कैबिनेट की बैठक हुई महाराष्ट्रः कल्याण की आधारवाड़ी जेल में 20 कैदी कोरोना पॉजिटिव आर्यन खान पर NCB का बड़ा बयान, आर्यन की काउंसिलिंग की गई आर्यन ने दोबारा गलती न करने की बात कही: NCB रिहाई के बाद गरीबों के लिए काम करेंगे आर्यन खान: NCB कांग्रेस सिर्फ एक परिवार की पार्टी है: संबित पात्रा कश्मीर पर कांग्रेस भ्रम फैला रही है: संबित पात्रा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से सावधानी बरतने की अपील की भाजपा कार्यालय में हो रही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का पहला चरण खत्म किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर मोदी नगर (उ.प्र.) में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी ISI Chief पर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, पाक सेना के जनरल ने लगाई लताड़ संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी. जगह-जगह जलभराव

बारिश से आई बाढ़ ने बढ़ाई स्कूली बच्चों की परेशानी, मेढ़ से स्कूल जा रहे बच्चे

बिहार में इस साल विभिन्न नदियों में आई बाढ़ और बारिश से नौनिहालों की भी परेशानी बढ़ गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 17 Sep 2021, 01:49:50 PM
Bihar Floods

बिहार में बाढ़ से चहुंओर मचा है हाहाकार. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • स्कूली बच्चों को खेत के मेढ़ों से गुजरकर स्कूल जाना पड़ रहा
  • आंगनवाड़ी केंद्र के भी चारों तरफ मनुषमारा नदी का पानी फैला

मुजफ्फरपुर:

बिहार में इस साल विभिन्न नदियों में आई बाढ़ और बारिश से नौनिहालों की भी परेशानी बढ़ गई है. खेतों और सड़कों पर जलजमाव के कारण बच्चों को खेत के मेढ़ों से गुजरकर स्कूल जाना पड़ रहा है. औराई प्रखंड क्षेत्र में ऐसे भी स्कूल हैं,जहां रास्ता नहीं है. स्कूल जाने के लिए छात्र-छात्राओं सहित शिक्षकों को भी परेशानी का सामाना करना पड़ रहा है. औराई प्रखंड के परसामा गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय का भवन भी है और स्कूल में शिक्षक और छात्र भी हैं, लेकिन स्कूल में आने जाने जा रास्ता नहीं है. चारों तरफ जलजमाव की समस्या बनी है. बच्चों को खेतों के मेढ़ (पगडंडियों) से होकर स्कूल जाना पड़ता है.

स्कूल के शिक्षक बताते हैं कि कई बार स्थानीय जनप्रतिनिाधियों से भी सड़क बनाने के लिए गुहार लगाई गई, लेकिन सड़क का आजतक निर्माण नही हो सका. विद्यालय के साथ-साथ आंगनवाड़ी केंद्र के भी चारों तरफ मनुषमारा नदी का पानी फैला हुआ है, जिससे बच्चों के आने जाने का भी कोई साधन नहीं है. स्कूल के प्रिंसिपल ब्रह्मदेव बैठा भी कहते हैं करीब 4 माह तक बाढ़ के पानी जमा रहता है, जिससे बच्चों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. उन्होंने मायूस होकर बताया कि हम लोगों ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी इस मामले से अवगत करवाया, लेकिन आज तक स्थिति में सुधार नहीं हो सका, स्कूल के अंदर बाढ़ का पानी जमा हो चुका है.

चरपुरवा विद्यालय का भी कमोबेश यही हाल है. ग्रामीणों का कहना है कि स्कूल के बाहर तीन से चार फीट पानी लगा हुआ है. स्कूल के पास की रहने वाली शैल देवी बताती हैं, चरपुरवा विद्यालय के बाहर 3 फीट से 4 फीट पानी लगभग 3 माह तक लगा रहता है. आने-जाने का दूसरा कोई साधन नहीं है. स्कूल का भवन खेत में निर्माण करवा दिया गया लेकिन रास्ता मुहैया नहीं करवाया गया. यही हाल महेश स्थान स्थित उर्दू मय विद्यालय का है, जहां पहुंचने के लिए बच्चों को खेत से होकर गुजरना पड़ता है. महेशस्थान उर्दू मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक रहमत निशा का कहना है कि स्कूल का आवागमन का कोई रास्ता नहीं है. बच्चों को किसानों की बात भी सुननी पड़ती है. वे बताती हैं कि 4 माह तक स्कूल के आसपास बाढ़ का पानी लगा रहता है. औराई प्रखंड की प्रखंड शिक्षा पदााधिकारी रिमी सिन्हा कहती हैं कि बाढ़ के कारण स्कूल के पास जलजमाव है, इसीलिए दिक्कत है. उन्होंने कहा कि उच्च अधिकारियों से रास्ता के लिए कोई निर्देश नहीं दिया गया है जब आएगा निर्देश तो आगे देखा जाएगा.

First Published : 17 Sep 2021, 01:49:50 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो