logo-image
लोकसभा चुनाव

VIDEO: जब भूत से मिले RJD विधायक तेज प्रताप यादव! पढ़ें दिलचस्प किस्सा

तेज प्रताप यादव ने बताया कि जब वो रात को जा रहे थे तो रास्ते में एक ताड़ का पेड़ मिला. चारो ओर अंधेरा था और धान या बाजरे की खेती की हुई थी वहां पर, जब हम कुछ दूर और आगे बढ़े तो उतने में हमने देखा कि ताड़ के पेड़ पर एक भूत बैठा हुआ है. 

Updated on: 03 Aug 2021, 06:59 PM

highlights

  • तेज प्रताप ने सरकार पर कसा तंज
  • सुनाया भूत से मुलाकात का किस्सा!
  • RJD की सदस्यता लेने पहुचें थे छात्र

पटना:

क्या कभी आपका सामना भूत से हुआ है. अगर नहीं तो फिर आप भी उत्सुक होंगे ये जानने के लिए कि भूत कैसा होता है. आज हम आपको किसी आम आदमी का नहीं बल्कि राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और आरजेडी विधायक तेज प्रताप यादव के भूत से मुलाकात का किस्सा सुनाने जा रहे हैं. तेज प्रताप यादव ने अपने निवास पर आरजेडी की सदस्यता ग्रहण करने के लिए आए छात्रों को भूत के साथ अपनी मुलाकात का किस्सा सुनाया. तेज प्रताप यादव ने इस दौरान कोविड के मामलों को लेकर सरकार पर तंज भी कसा, और सदस्यता के लिए आए हुए लोगों से पूछा इसमें से कितने लोगों ने वैक्सीन लगवाई है.

मंगलवार को लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और विधायक तेज प्रताप यादव के सरकारी आवास पर पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने आए लोगों को तेज प्रताप यादव ने भूत के साथ अपनी मुलाकात पर कहानी सुनाई. आइए आपको भी सुनाते हैं कि क्या हुआ जब तेज प्रताप का सामना हुआ एक भूत से! तेज प्रताप यादव ने बताया कि जब वो रात को जा रहे थे तो रास्ते में एक ताड़ का पेड़ मिला. चारो ओर अंधेरा था और धान या बाजरे की खेती की हुई थी वहां पर, जब हम कुछ दूर और आगे बढ़े तो उतने में हमने देखा कि ताड़ के पेड़ पर एक भूत बैठा हुआ है. 

यह भी पढ़ेंःपटनाः तेज प्रताप यादव की तबीयत बिगड़ी, तेजस्वी भी पहुंचे

तेज प्रताप ने आगे बताया कि भूत हमको देख रहा था और हमको पकड़ने के लिए आगे भी आ रहा है, क्योंकि वो देख लिया था कि हम अकेले हैं. हमने सोचा कि अकेले डरने से कोई फायदा नहीं है हम भी भूत से डरे नहीं और हमने महादेव का नाम लिया तो वो वापस पेड़ पर भागने लगा. इस दौरान वहां उपस्थित लोगों ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनके कहानी सुनाने के अंदाज पर प्रोत्सहित किया. उन्होंने आगे कहा कि उस दिन हम भूत से डरे नहीं और उसको हमने अपने पास बुलाया और पूछा कि भाई तुम्हें क्या समस्या है और क्यों इस तरह से मुझे डरा रहे हो. 

यह भी पढ़ेंःबिहार में सियासी उलटफेर की आशंका, तेज प्रताप यादव ने जीतन राम मांझी को दिया ऑफर

तेज प्रताप ने आगे बताया कि जब मैंने भूत से पूछा तो उसने जवाब दिया कि हम आपका भाषण सुनने गए थे भीड़ में, तेज प्रताप ने आगे बताया कि हमने भूत से कहा कि भाषण सुनने के लिए भीड़ में जाने की क्या जरूरत है. तुम मेरा भाषण सुनने के लिए भीड़ में क्यों गया, हम तुमको यहीं भाषण सुना देते हैं. तेज प्रताप ने सबसे आखिर में बताया कि वो सपना देख रहे थे जिसमें भूत से उन्होंने बात चीत की. दरअसल तेज प्रताप यादव इस कहानी के माध्यम से सरकार पर तंज कस रहे थे.