News Nation Logo

वारिस पठान की गिरफ्तारी होनी चाहिए, तेजस्वी यादव ने बयान की निंदा की

दरअसल, वारिस पठान का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह कथित तौर पर कह रहे हैं कि 15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ लोगों पर भारी पड़ सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 21 Feb 2020, 10:20:55 AM
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (Photo Credit: फाइल फोटो)

पटना:  

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment law) के खिलाफ प्रदर्शनों के बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुस्लिमीन (AIMIM) नेता वारिस पठान के बयान पर बवाल मचना शुरू हो गया है. केंद्र में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के साथ-साथ विपक्षी दलों के नेता भी वारिस पठान के बयान की घोर निंदा कर रहे हैं. बिहार के नेता प्रतिपक्ष और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने तो उन्हें गिरफ्तार किए जाने की मांग की है. तेजस्वी ने भड़काऊ भाषण देने वाले बीजेपी नेताओं को भी निशाने पर लिया है.

यह भी पढ़ेंः नया गठबंधन चाहते हैं पप्पू यादव, प्रशांत किशोर और कन्हैया कुमार को साथ आने का न्योता

वारिस पठान पर तेजस्वी यादव ने कहा, 'बयान निंदनीय है, उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए.' आरजेडी नेता ने आरोप लगाया कि AIMIM बीजेपी की बी टीम की तरह काम कर रही है. उन्होंने मांग की कि इसी तरह बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर और परवेश वर्मा जैसे नेताओं को भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए. तेजस्वी ने कहा कि जो भी भड़काऊ टिप्पणी करते हैं, उसके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए.

इसके अलावा तेजस्वी ने ट्विटर पर लिखा, 'हमारी सांझी विरासत और सांझी शहादत की बदौलत हम सांझी लड़ाई लड़ रहे हैं. भाजपाईयों के लाख चाहने के बावजूद भी ध्रुवीकरण नहीं हो पा रहा तो कट्टरपंथी BJP ने अब अपने सहयोगी कट्टरपंथी लोगों को आगे किया है. संविधानप्रिय व न्यायप्रिय लोग ऐसे जहरीले लोगों का बहिष्कार करें.'

दरअसल, एआईएमआईएम नेता वारिस पठान का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह कथित तौर पर कह रहे हैं कि 15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ लोगों पर भारी पड़ सकते हैं. वो अपने भाषण में कहते हैं, 'हमें साथ चलना होगा. हमें आजादी लेनी होगी. जो चीजें मांगने से नहीं मिलती, हमें छीननी होगी. अब वक्त आ गया है. हमको बोला कि मां-बहनों को आगे भेज दिया और खुद कंबल में बैठ गये. अभी तो सिर्फ शेरनियां बाहर निकली हैं और तुम्हारे पसीने छूट गये. समझ लो, हम लोग साथ आ गये तो क्या होगा. 15 करोड़ हैं, लेकिन 100 करोड़ पर भारी हैं. याद रख लेना यह बात.'

यह भी पढ़ेंः राहुल गांधी का दिखा 'आरक्षण खत्म नहीं होने देंगे अवतार', पटना में लगे पोस्टर

बता दें कि पठान दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं की आलोचनाओं की ओर इशारा कर रहे थे. 16 फरवरी को पठान ने उत्तरी कर्नाटक के कलबुर्गी में सीएए विरोधी रैली को संबोधित करते हुए कथित तौर पर यह बयान दिया था. हालांकि उनके इस बयान पर कड़ा ऐतराज जताते हुए बीजेपी ने कहा कि नए भारत में इस तरह की धमकियां काम नहीं करतीं.

First Published : 21 Feb 2020, 10:14:16 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.