logo-image
लोकसभा चुनाव

आरजेडी के विवादित बयान पर सियासत, BJP ने कहा - सनातन के सबसे बड़ी विरोधी हैं ये लोग

आरजेडी के मुख प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने RJD विधायक के दुर्गा मां पर दिए गए विवादित बयान को लेकर कहा कि यह किसी का व्यक्तिगत बयान है.

Updated on: 27 Oct 2023, 01:09 PM

highlights

  • यह किसी का व्यक्तिगत बयान है - RJD
  • ये लोग तुष्टिकरण की करते हैं राजनीति -  तार किशोर प्रसाद 
  • विजय सिन्हा ने लालू यादव से किया सवाल 

Patna:

आरजेडी विधायक फतेह बहादुर सिंह ने मां दुर्गा को लेकर विवादित बयान दिया है. उनके इस बयान के बाद आरजेडी का विरोध शुरू हो गया है. हालांकि ये पहली बार नहीं है. आरजेडी के तरफ से अक्सर ऐसे बयान दिए जाते हैं. कुछ दिनों पहले ही रामचरितमानस को लेकर विवादित बयान दिया गया था. जहां बीजेपी ये कह रही है कि सनातन का अगर कोई सबसे बड़ा विरोधी कोई है तो वो आरजेडी पार्टी ही है. वहीं, अब आरजेडी ने इस मामले में बयान दिया है.  आरजेडी का कहना है कि उनका इस बयान से कोई लेना देना नहीं है. 

आरजेडी ने दी सफाई 

आरजेडी के मुख प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने RJD विधायक के दुर्गा मां पर दिए गए विवादित बयान को लेकर कहा कि यह किसी का व्यक्तिगत बयान है. उनके बयान से पार्टी किसी भी तरीके का तालुकात नहीं रखती है. हम लोग सभी धर्म में मानने वाले लोग हैं. इस बयान से हमारा कोई लेना देना नहीं है. कहीं ना कहीं अब आरजेडी इस मुद्दे में अपना पल्ला झाड़ते हुए नजर आ रही है. 

यह भी पढ़ें : RJD विधायक ने फिर दिया विवादित बयान, कहा - मां दुर्गा हैं काल्पनिक

 'ये लोग तुष्टिकरण की करते हैं राजनीति'

वहीं, पूर्व उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने कहा कि आरजेडी विधायक ने मां दुर्गा के लिए जो विवादित बयान देने का काम किया है. उन्होंने कहा कि आरजेडी का यह चरित्र ही रहा है. तुष्टिकरण की राजनीति ये लोग करते हैं. यह लोग सनातन के सबसे बड़े विरोधी हैं और जब देश में हिंदू एक साथ एकजुट होता है तो जो लोग इसके विरोधी होते हैं. उनको उसका नुकसान झेलना पड़ता है. आने वाले समय में चुनाव में जनता इसका करारा जवाब देगी.

विजय सिन्हा ने लालू यादव से किया सवाल 

आरजेडी विधायक फतेह बहादुर सिंह के मां दुर्गा पर दिये बयान पर नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि लगातार सनातन धर्म का अपमान करने का काम ये लोग करते हैं. इनके नेता कभी भगवान के अस्तित्व पर सवाल खड़े करते हैं. वे लोग किस तरह की भाषा का इस्तेमाल करते हैं. ये बयान मां भारती के संतान को दुखी कर रहा है. उन्होंने कहा कि लालू यादव और तेजस्वी यादव को अब इस बात का जवाब देना होगा कि इन लोगों को सनातन के प्रति आस्था है या नहीं है.