News Nation Logo
Banner

नीतीश कुमार ने रचा इतिहास 7वीं बार बने CM, देखें मंत्रिमंडल की पूरी लिस्ट

पहली बार बिहार में दो उपमुख्यमंत्री होंगे. नीतीश कुमार के बाद बीजेपी नेता तार किशोर ने  उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली आपको बता दें कि तार किशोर ने कटिहार से चौथी बार विधानसभा चुनाव जीता है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 16 Nov 2020, 05:57:28 PM
Nitish kumar oath

सीएम पद की शपथ लेते हुए नीतीश कुमार (Photo Credit: एनआई ट्विटर)

नई दिल्ली:

जनता दल युनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने इतिहास रचते हुए सातवीं बार बिहार के मुख्मंत्री पद की शपथ ले ली है. बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. आपको बता दें कि इस बार बिहार विधानसभा के इतिहास में  एक और बड़ा बदलाव होने जा रहा है. पहली बार बिहार में दो उपमुख्यमंत्री होंगे. नीतीश कुमार के बाद बीजेपी नेता तार किशोर ने  उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली आपको बता दें कि तार किशोर ने कटिहार से चौथी बार विधानसभा चुनाव जीता है. बिहार की बेतियां से बीजेपी के टिकट पर विधानसभा पहुंची रेणु देवी ने भी उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की है. वो साल 2000 से लेकर 2020 तक लगातार विधायक रहीं हैं.

बीजेपी नेता रेणु देवी और तार किशोर प्रसाद को डिप्टी सीएम बनाया गया है आपको बता दें कि ये पहला मौका है जब बिहार विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में दो डिप्टी सीएम बनाए गए हों. आपको बता दें कि, शपथ ग्रहण समारोह में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद हैं. बिहार में हाल में सम्पन्न हुए विधानसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन को 125 सीटें मिलीं, जिनमें से नीतीश कुमार की जेडीयू को 43 सीटें मिलीं और बीजेपी को जदयू से 31 सीटें अधिक (74 सीटें) हासिल हुईं.

रेणु देवीः  रेणु देवी का जन्म 1 नवंबर 1959 को हुआ था वो बचपन से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गईं. भारतीय जनता पार्टी की विधायक हैं रेणु देवी. वह बिहार सरकार में मंत्री रह चुकी हैं. उसके बाद उन्हें बीजेपी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया था. इस बार बेतिया विधानसभा से रेणु देवी बीजेपी की विधायक चुनी गई हैं. बीजेपी नेता रेणु देवी ने बिहार के डिप्टी सीएम पद की शपथ ली. न्यूज नेशन से बातचीत करते हुए बताया कि वो बिहार को आत्मनिर्भर बनाएंगी और साथ मिलकर बिहार का विकास करेंगीं.

तारकिशोर प्रसादः तारकिशोर प्रसाद, बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं. कटिहार जिले से आने वाले तारकिशोर प्रसाद की पार्टी में अच्छी पकड़ है. 64 साल के तारकिशोर प्रसाद को बीजेपी ने कटिहार सीट से अपना उम्मीदवार बनाया था. 12वीं पास तारकिशोर प्रसाद ने आरजेडी के डॉ राम प्रकाश महतो को हराकर कटिहार सीट से लगातार चौथी बार चुनाव में जीत दर्ज की है. 2015 में लालू और नीतीश की मजबूत जोड़ी के बावजूद भी तार किशोर प्रसाद चुनाव जीतने में सफल हुए थे. इन्होंने पिछली बार जेडीयू के उम्मीदवार को हराया था.

विजय कुमारः जेडीयू नेता विजय कुमार चौधरी शपथ ग्रहण करने के लिए पहुंचे आपको बता दें कि वो जेडीयू कोर टीम के सदस्य हैं और नीतीश कुमार के सबसे करीबियों में से एक माने जाते हैं पिछले 5 सालों से वो विधानसभा अध्यक्ष रहे हैं. विजय कुमार कटिहार से जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं.

विजेंद्र यादवः जेडीयू नेता विजेन्द्र यादव ने भी मंच पर पहुंचकर पद और गोपनीयता की शपथ ली है आपको बता दें कि बिहार के उर्जा मंत्री रह चुके विजेन्द्र यादव सीएम नीतीश कुमार के बेहद करीबी नेताओं में से एक माने जाते हैं वो सुपौल विधानसभा सीट से लगातार 7वीं बार विधायक बनकर विधानसभा पहुंचे हैं आपको बता दें कि वो कोसी क्षेत्र के  'विश्वकर्मा' के नाम से मशहूर हैं.

मेवा लाल चौधरीः मेवा लाल चौधरी इस लिस्ट में शामिल है जो कि तारापुर विधानसभा सीट से दूसरी बार विधानसभा पहुंच हैं आपको बता दें कि साल 2010 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा था जिसके बाद उन्हें पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ा. साल 2015 में जीतकर वह पहली बार विधानसभा पहुंचे. आपको बता दें कि इसके पहले वो भारत सरकार में हॉर्टिकल्चर कमिश्नर रह चुके हैं. वह बिहार के कृषि रोड मैप तैयार करने वाले दल के सदस्य भी रहे हैं. आपको बता दें कि मेवालाल चौधरी मुंगेर जिले के तारापुर विधानसभा सीट से जेडीयू के टिकट पर विधानसभा पहुंचे हैं. इन्होंने अपने निकटम प्रतिद्वंदी RJD के दिव्या प्रकाश को करारी शिकस्त दी है.

अशोक चौधरीः कांग्रेस का दामन छोड़कर साल 2018 में नीतीश की पार्टी जेडीयू में शामिल होने वाले नेता अशोक चौधरी ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली है. अशोक चौधरी पहले भी बिहार कैबिनेट के सदस्य रह चुके हैं वो नीतीश सरकार में बिहार के शिक्षामंत्री रह चुके हैं. इसके अलावा अशोक चौधरी जनता दल युनाइटेड के कार्यकारी अध्यक्ष भी हैं. नीतीश कुमार के बाद पार्टी में सबसे दमदार पकड़ रखते हैं.

शीला मंडलः जनता दल युनाइटेड से मधुबनी के फुलपरास विधानसभा से जीतकर बिहार विधानसभा पहुंचने वाली शीला मंडल को भी पद और गोपनीयता की शपथ के लिए बुलाया गया है उन्होंने भी मंत्रिपद की शपथ ली. आपको बता दें कि शीला मंडल ने कांग्रेस के कृपानाथ का हराकर ये सीट जीती है. शीला मंडल नीतीश कैबिनेट में इस बार नया चेहरा हैं.

संतोष सुमनः एनडीए में शामिल एक और दल हिन्दुस्तान अवाम मोर्चा के विधायक संतोष सुमन पद और गोपनीयता की शपथ लेने के लिए पहुंचे हैं नीतीश कैबिनेट में इस बार हम कोटे को एक ही मंत्रिपद दिया गया है. पहले लोगों को उम्मीद थी पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी को मंत्रिपद दिया जाएगा लेकिन उनके बेटे संतोष सुमन को नीतीश कैबिनेट के लिए मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है. आपको बता दें कि बिहार विधानमंडल में एमएलसी हैं संतोष सुमन.

मुकेश साहनीः विकासशील इंसान पार्टी के मुकेश साहनी भी पद और गोपनीयता की शपथ के लिए मंच पर पहुंचे हैं आपको बता दें कि वीआईपी से भी एक ही मंत्री को नीतीश कैबिनेट में जगह दी जाएगी. वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी को बिहार में सन ऑफ मल्लाह के नाम से भी जाना जाता है. आपको बता दें कि मुकेश साहनी मुंबई फिल्म सिटी में फिल्म का सेट बनाने का काम करते थे वो साल 2013 से राजनीति में आए.

बीजेपी के 5 अन्य नेताओं ने ली शपथ

मंगल पांडेयः बीजेपी के मंगल पांडे को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई. आपको बता दें कि मंगल पांडेय बिहार बीजेपी के भरोसेमंद चेहरों में से एक रहे हैं वो बिहार बीजेपी के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. इसके अलावा बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी चुनाव प्रबंधन समिति के अध्यक्ष भी थे जिनकी देख रेख में बीजेपी की चुनावी रणनीतियां तय की जा रही थीं. आपको बता दें कि मंगल पांडेय नीतीश कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं.

अमरेंद्र प्रताप सिंहः अमरेंद्र प्रताप सिंह को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई. अमरेंद्र प्रताप सिंह आरा से चौथी बार बीजेपी के टिकट पर जीत कर विधानसभा पहुंचे हैं

रामप्रीत पासवानः मधुबनी से विधानसभा चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे बीजेपी नेता रामप्रीत पासवान ने मंत्री पद की शपथ ली. वो मधुबनी की राजनगर सीट जीते

जीवेश मिश्राः बीजेपी नेता जीवेश मिश्रा ने भी मंत्री पद और गोपनीयता की शपथ ली आपको बता दें कि जीवेश मिश्रा दरभंगा के जाले से जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं और मिथिलांचल में वो बीजेपी का बड़ा भूमिहार चेहरा है.

रारामसूरत रायः मसूरत राय ने बिहार के मंत्री की पद और गोपनीयता की शपथ ली. आपको बता दें कि रामसूरत राय मुजफ्फर पुर की औराई सीट से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं.

First Published : 16 Nov 2020, 05:53:12 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.