logo-image
लोकसभा चुनाव

'बिहार में एक नायक के रूप में उभर के आए हैं नीतीश' - जीतन राम मांझी

लोकसभा चुनाव में एनडीए की शानदार जीत पर 'हम' के सांसद जीतन राम मांझी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की खुलकर तारीफ की है. दिल्ली में शनिवार को मांझी ने नीतीश कुमार को एक महान नेता बताते हुए कहा कि वे बिहार के नायक के रूप में सामने आए हैं.

Updated on: 08 Jun 2024, 01:30 PM

highlights

  • मांझी ने CM नीतीश की तारीफ में पढ़े कसीदे
  • 'बिहार में एक नायक के रूप में उभर के आए हैं नीतीश'
  • भूपेश बघेल के बयान पर मांझी की प्रतिक्रिया

 

Patna:

Jitan Ram Manjhi: लोकसभा चुनाव में एनडीए की शानदार जीत पर 'हम' के सांसद जीतन राम मांझी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की खुलकर तारीफ की है. दिल्ली में शनिवार को मांझी ने नीतीश कुमार को एक महान नेता बताते हुए कहा कि वे बिहार के नायक के रूप में सामने आए हैं और हर तरह से सक्षम हैं. उन्होंने नीतीश कुमार के उज्ज्वल भविष्य की कामना भी की. जीतन राम मांझी ने एनडीए मंत्रिपरिषद की शपथ समारोह पर अपनी राय व्यक्त करते हुए कहा कि 9 मई को प्रधानमंत्री और मंत्रिपरिषद की शपथ ली जाएगी. मांझी ने कहा, ''कितने मंत्री और किनको शपथ लेना है, उससे मुझे कोई मतलब नहीं है.'' उन्होंने जवाहरलाल नेहरू का उदाहरण देते हुए कहा कि नेहरू ने भी तीन बार पीएम पद की शपथ ली थी और 62 साल बाद यह प्रक्रिया दोहराई जा रही है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में बारिश की संभावना, IMD ने बताया यूपी-बिहार में मानसून का ताजा हाल

भूपेश बघेल के बयान पर मांझी की प्रतिक्रिया

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि ये केवल उनकी अटकलें हैं. मांझी ने कहा, ''उन्हें तारे दिख रहे हैं और वे दिन में सपने देख रहे हैं.'' उन्होंने यह भी जोड़ा कि सत्ता में आते ही हर विपक्ष कहता है कि सरकार गिर जाएगी और बघेल भी यही कर रहे हैं. मांझी ने विश्वास जताया कि इस बार पीएम मोदी के नेतृत्व में सरकार और भी मजबूत होगी क्योंकि इस बार उनके संकल्प और भी मजबूत हैं.

भूपेश बघेल का दावा -  'मध्यावधि चुनाव की संभावना'

वहीं छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दावा किया है कि छह महीने या एक साल के भीतर देश में मध्यावधि चुनाव हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि एनडीए की सरकार बनी नहीं है, लेकिन जदयू प्रवक्ता अग्निवीर योजना रद्द करने और जातिगत जनगणना की बात कर रहे हैं। बघेल ने कहा कि ये सब मुद्दे वही हैं जिन्हें राहुल गांधी जी ने उठाया है.

बता दें कि जीतन राम मांझी का भूपेश बघेल पर आलोचना करते हुए कहना कि ''उन्हें तारे दिख रहे हैं और वे दिन में सपने देख रहे हैं'' स्पष्ट रूप से दिखाता है कि मांझी बघेल के दावों को महत्व नहीं देते. मांझी का मानना है कि विपक्षी नेता हमेशा सत्ता में आई सरकार को अस्थिर करने की कोशिश करते हैं और बघेल का बयान भी उसी दिशा में एक प्रयास है.