News Nation Logo

आदमखोर बाघ ने दो और लोगों को बनाया अपना शिकार, मां और बेटे की ले ली जान

News State Bihar Jharkhand | Edited By : Rashmi Rani | Updated on: 08 Oct 2022, 12:52:58 PM
tiger

बाघ का आतंक (Photo Credit: फाइल फोटो )

Bagaha:  

बगहा में बाघ के आतंक से लोग परेशान हैं. भय के माहौल में लोग जी रहें है. आदमखोर बाघ ने एक बार फिर दो लोगों को अपना शिकार बना लिया है. जिसमें एक महिला और 7 साल का मासूम शामिल है. अब तक बाघ ने 9 लोगों को मार डाला है. 48 घंटे में बाघ ने 4 लोगों को अपना शिकार बना लिया है. बता दें कि, बाघ को आदमखोर करार देकर उसे मारने का आदेश दे दिया गया है. 

घटना गोवर्द्धना थाना के बलुआ गांव में वाल्मीकि टाइगर रिजर्व की है. आदमखोर बाघ ने मां और बेटे की जान ले ली. मृतकों की पहचान बलुआ गांव के स्व. बहादुर यादव की पत्नी सिमरिकी देवी और उसके सात साल के बेटे शिवम कुमार के रूप में हुई है. घटना के बाद से गांव में हड़कंप मच गया है. मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई है. वे गन्ने के खेत में बाघ की तलाश कर रहे हैं.

बताया जा रहा है कि मां और बेटे बाजार से सब्जी लेने गए थे. इसी दौरान बाघ ने दोनों को मार डाला. हमले के बाद बाघ शव को गन्ने के खेत में घसीटते हुए ले जा रहा था जिस पर ग्रामीणों की नज़र पर गई और शोर मचाने के बाद बाघ शव को छोड़ कर भाग गया. 

आपको बता दें कि, बिहार के चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन ने आदमखोर बाघ को मारने के लिए NTCA को पत्र लिखा था. जिसपर NTCA ने बाघ देखते ही मारने का आदेश दे दिया है. करीब ढाई महीने से वीटीआर के रिहायशी इलाकों में बाघ घूम रहा है. कहा जा रहा है कि बाघ को पकड़ने के लिए पिछले कई दिनों से वन विभाग की टीम लगी हुई है. लेकिन वह पकड़ में नहीं आ रहा है.

First Published : 08 Oct 2022, 12:52:58 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.