News Nation Logo

BREAKING

Banner

लॉकडाउन इफेक्ट: बिहार के मंत्री पढ़ रहे किताब, कर रहे बागवानी में काम

कई मंत्री अपने घरों में कैद होकर आवश्यक सरकारी काम निपटा रहे हैं, तो कई मंत्री पुस्तकें पढ़कर, तो कई अपने परिवारों व बच्चों के साथ समय गुजार रहे हैं.

IANS | Updated on: 25 Mar 2020, 03:44:49 PM
Nandkishor nandi

लॉकडाउन इफेक्ट: बिहार के मंत्री पढ़ रहे किताब, कर रहे बागवानी में काम (Photo Credit: फाइल फोटो)

पटना:

कोरोनावायरस (Corona Virus) के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन से आम और खास की दिनचर्या बदल गई है. आमतौर पर लोगों से घिरे रहने वाले मंत्री भी लॉकडाउन (Lockdown) के नियमों का पालन करते दिख रहे हैं. बिहार (Bihar) के कई मंत्री अपने घरों में कैद होकर आवश्यक सरकारी काम निपटा रहे हैं, तो कई मंत्री पुस्तकें पढ़कर, तो कई अपने परिवारों व बच्चों के साथ समय गुजार रहे हैं.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन से भारतीय अर्थव्यवस्था की टूट जाएगी कमर, इन सेक्टर्स पर पड़ेगा सबसे ज्यादा असर

बिहार सरकार सभी से लॉकडाउन का पालन करने की अपील कर रही है. बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव पूर्णत: लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं. मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा कि अगर आवश्यक सरकारी काम आ रहा है, तो उसे घरों से ही निपटा रहे हैं. वहीं राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी अपना अधिकांश समय घरों में ही गुजार रहे हैं. सरकारी आवश्यक बैठक होने पर घरों से निकल जरूर रहे हैं, लेकिन सरकारी काम भी घरों से ही निपटा रहे हैं. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि लॉकडाउन का पालन करें और घरों में ही रहे.

इधर, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री विनोद कुमार झा इस लॉकडाउन में मिले समय को अच्छी पुस्तकों को पढ़कर गुजार रहे हैं. झा कहते हैं कि उनको प्रारंभ से ही पढ़ने का शौक रहा है. ऐसे में अब समय तो काफी कम मिलता है, लेकिन अभी भी जब समय मिलता है, तो वे पुस्तक पढ़ते हैं. उन्होंने बताया कि घर के कार्यालय से ही सरकारी कामों को निपटा भी रहा हूं.

यह भी पढ़ें: कोरोना संकट के बहाने कांग्रेस को फिर याद आई ‘न्याय’ योजना, कही यह बड़ी बात

बिहार के मंत्री महेश्वर हजारी भी देश के प्रधानमंत्री के फैसले के साथ है. उन्होंने कहा कि कोरोना को हराने के लिए लोगों को घरों में कैद रहना ही पड़ेगा. हजारी घर के गार्डेन में लगे फूल-पत्ती को प्रतिदिन पानी दे रहे हैं और इसी में समय गुजार रहे हैं. उन्होंने कहा कि इससे जो समय बचेगा, उसमें किताब पढूंगा. इस दौरान हालांकि विधायक अपने क्षेत्र के लोगों से बात करना नहीं भूल रहे हैं. कई मंत्री बने विधायक फोन द्वारा ही अपने क्षेत्र की जनता से संपर्क साध रहे हैं. एक नेता कहते भी हैं कि इस साल चुनाव का है, जनता से दूर कैसे रहा जा सकता है.

इसके अलावा राज्य के मंत्री और जद (यू) के नेता अशोक चौधरी अपना ज्यादा समय घर पर गुजार रहे हैं. इस दौरान वे बच्चों के साथ खेल रहे हैं और परिवार को भरपूर समय दे रहे हैं. चौधरी कहते हैं कि सार्वजनिक जीवन में काफी कम समय मिलता है. ऐसे में परिवार को काफी कम समय दे पाता है. इस लॉकडाउन में परिवार के साथ ही समय गुजार रहा हूं.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 25 Mar 2020, 03:44:49 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×