News Nation Logo

घर की चौखट पर बैठे मुखिया की हत्या, हमलावरों ने गोलियों से भूना

बिहार में अपराधिक घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है. ऐसा लगता है जैसे अपराधियों के बीच पुलिस का खौफ खत्म हो चुका है.

By : Dalchand Kumar | Updated on: 15 Jan 2020, 12:32:55 PM
घर की चौखट पर बैठे मुखिया की हत्या, हमलावरों ने गोलियों से भूना

घर की चौखट पर बैठे मुखिया की हत्या, हमलावरों ने गोलियों से भूना (Photo Credit: फाइल फोटो)

समस्तीपुर:

बिहार (Bihar) में अपराधिक घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है. ऐसा लगता है जैसे अपराधियों के बीच पुलिस का खौफ खत्म हो चुका है. यहां आए दिन खुलेआम अपराधी मर्डर, लूट और डकैती की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. ताजा मामला बिहार के समस्तीपुर (Samastipur) जिले से सामने आया है, जहां बेखौफ अपराधियों ने एक मुखिया को गोलियों से भून दिया. इस हमले में मुखिया की मौत हो गई. मृतक की पहचान मोहम्मद शफी के रूप में हुई है. हालांकि अभी तक हत्या (Murder) के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है. घटना जिले के कल्याणपुर थाना क्षेत्र में रतवारा ग्राम पंचायत की है.

यह भी पढ़ेंः मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामला: अदालत ने 20 जनवरी तक फैसला टाला

इस वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी मौके से फरार हो गए. हमलावरों की संख्या दो बताई जा रही है. सरेआम पर हत्याकांड से पूरे इलाके में दहशत फैल गई. सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया. पुलिस के मुताबिक, रतवारा ग्राम पंचायत के मुखिया मोहम्मद शफी देर रात अपने घर के दरवाजे पर बैठा था. तभी वहां पहुंचे अज्ञात अपराधियों ने उस पर जानलेवा हमलाकर दिया और ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं. गंभीर रूप से जख्मी मुखिया को आनन-फानन में एक अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. कल्याणपुर के थाना प्रभारी ब्रजेश कुमार ने कहा कि मुखिया मोहम्मद की हत्या किन कारणों से की गई है, इसका फिलहाल पता नहीं चल पाया है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

यह भी पढ़ेंः भोज खाने मौसी के घर गई लड़की की लाश मिली, हालत देख गांववालों की रूह कांपी

उधर, राजधानी पटना से अपहृत छात्र मनीष रंजन को पूर्वी चंपारण जिला मुख्यालय मोतिहारी से अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त करा लिया गया. पटना नगर पुलिस अधीक्षक विनय कुमार तिवारी ने बताया कि इस सिलसिले में आठ अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि मनीष का अपहरण फिरौती के लिए पटना के पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र से किया गया था. बक्सर जिला के चौसा प्रखंड के पैक्स अध्यक्ष मनोज सिंह कुशवाहा का पुत्र मनीष गुरुवार को इंजीनियरींग की जेईई परीक्षा देने पटना आया था. परीक्षा खत्म होने के बाद शाम करीब 6 बजे मनीष ने फोन पर पिता से बात की थी. लेकिन उसके बाद मनीष का अपहरण हो गया.

यह वीडियो देखेंः 

First Published : 15 Jan 2020, 12:32:55 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.