logo-image
लोकसभा चुनाव

'बेटिए हो रही थी, बेटवा नहीं हो रहा था तो और ज्यादा पैदा कर दिया..'

शुक्रवार को चुनावी सभा को संबोधित करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर जुबानी प्रहार किया. इतना ही नहीं नीतीश ने लालू के बेटे-बेटियों को भी लेकर तंज कसा.

Updated on: 17 May 2024, 07:35 PM

highlights

  • लालू के बच्चों पर क्या बोल गए नीतीश कुमार
  • बेटिए हो रही थी, बेटवा नहीं हो रहा था
  • तो और ज्यादा पैदा कर दिया...

West champaran:

शुक्रवार को चुनावी सभा को संबोधित करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर जुबानी प्रहार किया. इतना ही नहीं नीतीश ने लालू के बेटे-बेटियों को भी लेकर तंज कसा. नीतीश ने कहा कि बेटिए हो रही थी, बेटवा नहीं हो रहा था तो और ज्यादा पैदा कर दिया. साथ ही नीतीश ने यह भी कहा कि जब खुद सीएम पद से हट गए थो पत्नी को मुख्यमंत्री बना दिया. इसके बाद बेटा-बेटी, सबको आगे बढ़ाया. ये कोई मतलब है? आगे नीतीश कुमार ने कहा कि हम लोग को देखिए, हम लोग इतने दिनों से सरकार में है. हम लोगों ने अपने परिवार का विकास किया. हमारे लिए तो पूरा बिहार ही एक परिवार है. इसलिए हमें ऐसे लोगों के प्रति ध्यान रखना चाहिए. ये लोग कोई काम करने वाले नहीं है.

यह भी पढ़ें- साहनी ने सम्राट चौधरी पर लगाया बड़ा आरोप, कहा- पैसे लेकर बेच रहे हैं टिकट

'बेटिए हो रही थी, बेटवा नहीं हो रहा था तो और ज्यादा पैदा कर दिया'

दरअसल, शुक्रवार को नीतीश कुमार पूर्वी चंपारण पहुंचे थे, जहां उन्होंने बीजेपी के प्रत्याशी सह पूर्व केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह के लिए चुनावी सभा को संबोधित किया. इसके साथ ही भ्रष्टाचार को भी लेकर सीएम नीतीश ने विपक्ष पर निशाना साधा. सीएम ने कहा कि उन लोगों पर कितना मामला चल रहा है, ये पूरा देश जानता है. हम लोगों पर इतने दिन में कोई आरोप नहीं है. बिहारी टोन में बोलते हुए नीतीश ने कहा कि ई कांग्रेसिया सब क्या बोलेगा, जातीय गणना भी हम लोग कराए हैं.

राधामोहन सिंह के लिए चुनावी प्रचार करने पहुंचे सीएम नीतीश

सीएम नीतीश कुमार के साथ राधामोहन सिंह के चुनाव प्रचार में बिहार के डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी, विजय कुमार सिन्हा, संजय झा, हरि सहनी और विजय कुमार चौधरी पहुंचे थे. पूर्वी चंपारण में कुल 6 विधानसभा सीट है. वहीं, यहां से 12 प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतरे हैं. बता दें कि बिहार में कुल 40 लोकसभा सीटें हैं. वहीं, प्रदेश में चार चरणों का चुनाव हो चुका है. 20 मई को पांचवें चरण का चुनाव होना है. जिसे लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां जोरशोर से लगी हुई है.