News Nation Logo

समस्तीपुर में जारी है हरे पेड़ों की कटाई, जल जीवन हरियाली योजना पर उठे सवाल

News State Bihar Jharkhand | Edited By : Jatin Madan | Updated on: 16 Nov 2022, 05:26:51 PM
samastipur green trees

हरे पेड़ काटकर बिहार के रास्ते यूपी ले जाए गए हैं. (Photo Credit: News State Bihar Jharkhand)

Samastipur:  

समस्तीपुर जिले के अंतर्गत खानपुर प्रखंड क्षेत्र में सैकड़ों जगहों से लाखों हरे पेड़ों की कटाई की जा रही है. पेड़ों की कटाई के कारण वहां के वातावरण पर बुरा प्रभाव पड़ने की आशंका अब लोगों के बीच होने लगी है. आपको बता दें कि कुछ दिनों में प्रखंड क्षेत्र में से हजारों ट्रक हरे पेड़ काटकर बिहार के रास्ते यूपी ले जाए गए हैं. मामले की जानकारी देते हुए समाजसेवी टनटन झा ने बताया कि सरकार एक ओर जहां सात निश्चय योजना के तहत जल जीवन हरियाली के तहत पेड़ लगाने को लेकर प्रत्येक पंचायत के प्रत्येक सड़कों में करोड़ों रुपए खर्च कर रही हैं. वहीं, यूपी से आए व्यापारियों के द्वारा सड़क के किनारे और किसानों के खेत में लगे लाखों हरे वृक्ष को काटकर वातावरण को प्रदूषित करने का काम किया गया है. 

समाजसेवी टनटन झा ने यह भी बताया कि जब इस मामले की जानकारी उन्होंने सदर एसडीओ को दी तो उनसे लिखित आवेदन का मांगा गया. इस पर टनटन झा ने सवाल उठाते हुए कहा कि अब आम लोगों के हित की बातों को लेकर पदाधिकारी आवेदन की मांग करते हैं. जब आवेदन नहीं दी जाती है तो अवैध लकड़ी काटने पर किसी भी प्रकार का कोई पाबंदी नहीं लगाई जाती है, जिसका खामियाजा है कि आज लाखों पेड़ प्रखंड क्षेत्र से काटकर यूपी के ठेकेदार ले गए. इससे मुख्यमंत्री के सात निश्चय योजना के तहत जल जीवन हरियाली के सपनों को धूमिल किया गया है और आने वाले दिनों में गर्मी के समय में लोगों को इसका परिणाम भुगतना पड़ेगा.

रिपोर्ट : राजीव कुमार सिन्हा

यह भी पढ़ें: बिहार को मिले 10 हजार नए पुलिसकर्मी, CM नीतीश ने बांटे नियुक्ति पत्र

First Published : 16 Nov 2022, 05:26:51 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.