News Nation Logo

तिरहुत को छोड़कर सभी हिस्सों में महागठबंधन की राजग पर बढ़त

राजद, कांग्रेस और वाम दलों का महागठबंधन बिहार चुनाव में राज्य के अधिकांश हिस्सों में राजग से बढ़त बनाता दिख रहा है.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 08 Nov 2020, 11:33:07 AM
Tejashwi Yadav Nitish Kumar

नीतीश कुमार ने कभी बनाया था तेजस्वी को उप मुख्यमंत्री. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

पटना:  

राजद, कांग्रेस और वाम दलों का महागठबंधन बिहार चुनाव में राज्य के अधिकांश हिस्सों में राजग से बढ़त बनाता दिख रहा है. आईएएनएस-सीवोटर बिहार एग्जिट पोल ने यह संभावना जताई है. महागठबंधन में राष्ट्रीय जनता दल (राजद), कांग्रेस और वाम दल शामिल हैं, जबकि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में सत्तारूढ़ जनता दल-यूनाइटेड (जदयू), भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के नेतृत्व वाली हम और मुकेश साहनी के नेतृत्व वाली वीआईपी शामिल है.

आईएएनएस सीवोटर बिहार एग्जिट पोल के अनुसार महागठबंधन को 120 सीटों पर जीत मिलने की संभावना है और वह 243 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के जादुई आंकड़े 122 से दो कदम ही दूर रहेगी और इसने तिरहुत क्षेत्र को छोड़कर जिला मानचित्रण के आधार पर अधिकांश भौगोलिक क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन किया है.ॉ

यह भी पढ़ेंः Exit Poll 2020: रोजगार नीतीश पर पड़ा भारी, तेजस्‍वी ने लूटी महफिल

आईएएनएस सीवोटर एग्जिट पोल में कहा गया है कि अंग क्षेत्र में 23 सीटों में से महागठबंधन को 12 सीटों पर जीत की संभावना है, जबकि यहां से राजग को 11 सीटें मिल सकती हैं. इसी तरह भोजपुर की 52 विधानसभा सीटों में से महागठबंधन को 26 सीटों पर जीत मिल सकती है, जबकि राजग की 23 सीटों पर जीत की संभावना है. भोजपुर की तीन सीटों पर अन्य को जीत मिल सकती है. मगध क्षेत्र में महागठबंधन और राजग के बीच कांटे की टक्कर है और यहां की 52 सीटों पर दोनों की ओर से 26-26 सीटें जीतने की संभावना है.

मिथिला क्षेत्र की 43 सीटों में से 22 सीटों पर महागठबंधन जीतता दिख रहा है, जबकि 20 सीटों पर राजग और एक सीट अन्य के खाते में जा सकती है. सीमांचल (नेपाल की सीमा से सटे जिले) की 24 सीटों में से महागठबधंन फिर से एनडीए पर बढ़त बनाता दिखा है, क्योंकि यहां उसे 14 सीटों पर जीत मिलने की संभावना है, जबकि राजग को यहां 10 सीटों पर जीत मिलने की संभावना है. राजग तिरहुत क्षेत्र में मजबूत दिख रहा है, क्योंकि यहां उसकी 49 में से 26 सीटें जीतने की संभावना है, जबकि महागठबंधन यहां से 20 सीटें जीत सकता है. इसके अलावा इस क्षेत्र की तीन सीटें अन्य के खाते में जाती दिख रही हैं. 

यह भी पढ़ेंः फर्स्ट टाइम वोटर की पसंद महागठबंधन, 55 पार का एनडीए पर भरोसा

लोकसभा मानचित्रण के अनुसार आईएएनएस-सीवोटर एक्जिट पोल ने भविष्यवाणी की है कि महागठबंधन ने उत्तर बिहार को छोड़कर सभी क्षेत्रों में राजग पर बढ़त हासिल की है. इसमें संभावना जताई गई है कि पूर्वी बिहार में महागठबंधन 27 में से 15 विधानसभा सीटें जीत सकता है, जबकि 12 पर राजग की जीत की संभावना है. मगध-भोजपुर क्षेत्र में महागठबंधन को 69 में से 34 सीटों पर जीत मिल सकती है जबकि राजग को यहां 32 और अन्य को तीन सीटों पर जीत मिलने की संभावना है. सीमांचल क्षेत्र में महागठबंधन 24 में से 14 सीटें जीत सकता है, जबकि राजग यहां से 10 सीटें ही हासिल कर पाएगी.

हालांकि राजग उत्तर बिहार का नेतृत्व करता दिख रहा है, क्योंकि यहां वह 73 में से 39 सीटें जीत सकता है, जबकि महागठबंधन के 31 सीटों पर जीतने की संभावना है. इसके अलावा यहां तीन सीटों पर अन्य की जीत हो सकती है. बिहार में शनिवार को शाम छह बजे तीसरे और अंतिम चरण का मतदान संपन्न हुआ. पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर को हुआ था, जबकि दूसरा चरण तीन नवंबर को हुआ था. मतों की गिनती 10 नवंबर को होगी. राजद ने 2015 के विधानसभा चुनावों में 80 सीटें जीती थीं, जबकि जदयू ने 71 सीटें जीती थीं. भाजपा ने उस चुनाव में 53 सीटें जीती थीं और लोजपा ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी.

First Published : 08 Nov 2020, 11:33:07 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.