logo-image
लोकसभा चुनाव

भाजपा नेता के बेटे को मिली VIP से टिकट, पार्टी ने दी चेतावनी

वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने बीजेपी नेता ई. सुदामा मांझी के बेटे प्रेमनाथ चंचल उर्फ चंचल पासवान को गोपालगंज से चुनावी मैदान में उतारा है. गोपालगंज सीट से जेडीयू ने डॉ आलोक कुमार सुमन को पहले ही प्रत्याशी घोषित कर चुकी है.

Updated on: 17 Apr 2024, 06:28 PM

highlights

  • भाजपा नेता के बेटे को मिली VIP से टिकट
  • भाजपा जिलाध्यक्ष ने दी चेतवानी
  • कहा- अगर बेटे के लिए किया प्रचार तो होगी कार्रवाई

Gopalganj:

बिहार में महागठबंधन और एनडीए के बीच सीटों का फॉर्मूला सोच समझकर तय किया गया. महागठबंधन में आरजेडी के पास 23 सीट, कांग्रेस के पास 9, वीआईपी के पास 3 सीटें व अन्य सहयोगी दलों के बीच सीटों का बंटवारा किया गया तो वहीं एनडीए में 17 सीटों पर बीजेपी, 16 सीटों पर जेडीयू, 5 सीटों पर लोजपा (रामविलास) व 1-1 सीट पर हम और एलएनएम चुनाव लड़ने वाली है. लोकसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा के साथ ही सभी नेता पाला बदलते नजर आए. वहीं, इस बीच पप्पू यादव ने अपनी पार्टी जाप का विलय कांग्रेस में कर दिया तो दूसरी तरफ मुकेश साहनी ने भी महागठबंधन का हाथ थाम लिया. महागठबंधन में शामिल होने के बाद साहनी की पार्टी को तीन सीट दिया गया, जिसमें गोपालगंज, झंझारपुर और मोतिहारी शामिल है. पहले वीआईपी ने झंझारपुर सीट से अपने प्रत्याशी की घोषणा की तो उसके बाद गोपालगंज लोकसभा सीट से भी वीआईपी ने अपना उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतार है. 

यह भी पढ़ें- 'इसे हम हरगिज मिटने...', बेटी रोहिणी के चुनाव प्रचार में पिता का हुंकार

भाजपा नेता के बेटे को मिली VIP से टिकट

बता दें कि वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने बीजेपी नेता ई. सुदामा मांझी के बेटे प्रेमनाथ चंचल उर्फ चंचल पासवान को गोपालगंज से चुनावी मैदान में उतारा है. झंझारपुर से सुमन कुमार महासेठ को उम्मीदवार बनाया गया है, तो वहीं अब गोपालगंज सीट से चंचल पासवान को चुनावी मैदान में उतारा गया है. झंझारपुर सीट से 7 मई को तीसरे चरण में मतदान होगा. वहीं, 25 मई को छठे चरण में गोपालगंज सीट पर मतदान होगा.

अगर बेटे के लिए किया प्रचार तो होगी कार्रवाई

आपको बता दें कि चंचल पासवान भाजपा नेता ई. सुदामा मांझी के बेटे हैं. वहीं, चंचल पासवान को गोपालगंज से प्रत्याशी बनाए जाने पर भाजपा जिलाध्यक्ष संदीप कुमार गिरी ने कहा कि अगर हमें सूचना मिलती है कि ई. सुदामा मांझी भाजपा में रहकर अपने बेटे के पक्ष में प्रचार करते हैं तो उनपर कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि गोपालगंज सीट से जेडीयू ने डॉ आलोक कुमार सुमन को पहले ही प्रत्याशी घोषित कर चुकी है. डॉ आलोक कुमार सुमन उसके बाद से ही जनसंपर्क करते नजर आ रहे हैं.