News Nation Logo

अनुच्छेद-370 हटने के बाद बिहार निवासी IAS को मिला JK में पहला निवास प्रमाण पत्र

News Nation Bureau | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 26 Jun 2020, 04:38:40 PM
पीएम मोदी संग अमित शाह (फाइल फोटो)

अमित शाह (फाइल फोटो) (Photo Credit: News Nation)

पटना:  

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 (Article-370) हटने के बाद, पहली बार जम्मू-कश्मीर से बाहर के व्यक्ति को निवास प्रमाण पत्र जारी हुआ है. यह निवास प्रमाण पत्र बिहार के रहने वाले आईएएस (IAS) अधिकारी नवीन चौधरी को जारी किया गया है.

नवीन चौधरी को नए नियम के मुताबिक, प्रमाण पत्र मिला है. दरअसल, केंद्र में नरेंद्र मोदी 2.0 (Narendra Modi 2.0) के सत्ता में आने पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपने घोषणा पत्र (Manifesto) के मुताबिक, साल 2019 में 5 अगस्त को बीजेपी लोकसभा के बाद राज्यसभा (Rajyasabha) में संशोधन बिल (Amedment Bill) लेकर आई.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने राज्यसभा में संकल्प पेश करते हुए कहा था कि, संविधान के अनुच्छेद 370 के सभी खंड जम्मू-कश्मीर में लागू नहीं होंगे. इसके बाद, गृहमंत्री ने सदन में जम्मू एवं कश्मीर राज्य पुनर्गठन विधेयक 2019 पेश किया.

यह भी पढ़ें- आकाशीय बिजली गिरने से 100 से ज्यादा लोगों की मौत, कई घायल

इस बिल के तहत, जम्मू-कश्मीर एवं लद्दाख को अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया. बिल के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर से सरकार ने विशेष राज्य का दर्जा छीन लिया और कहा कि, जम्मू-कश्मीर दिल्ली और पुडुचेरी की तरह होगा, जिसमें विधानसभा में होगी.

वहीं, लद्दाख में विधानसभा नहीं होगी और वह चंडीगढ़ की तरह होगा. हालांकि, बिल का संसद के दोनों सदन में विपक्षी दलों ने जमकर विरोध किया. लेकिन सत्तापक्ष के पास बहुमत होने की वजह से बिल दोनों सदनों से पास हो गया.

First Published : 26 Jun 2020, 04:38:40 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.