logo-image
लोकसभा चुनाव

हिमंत बिस्वा सरमा के बयान पर क्या बोल गए आनंद मिश्रा, जानें

बिहार में लोकसभा चुनाव 2024 के आखिरी चरण यानी 1 जून को बक्सर सीट पर चुनाव होना है. यहां बीजेपी ने अपनी जमीन बचाने के लिए कड़ी मेहनत की है. इस दौरान शनिवार (19 मई) को असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा सिमरी प्रखंड के अर्जुनपुर पहुंचे थे.

Updated on: 20 May 2024, 12:38 PM

highlights

  • हिमंत बिस्वा सरमा के बयान पर क्या बोल गए आनंद मिश्रा
  • कहा- 'बड़े-बड़े नेताओं को लाकर शर्मसार किया जा रहा'
  • बक्सर से निर्दलीय प्रत्याशी हैं आनंद मिश्रा

Patna:

Bihar Lok Sabha Elections 2024: बिहार में लोकसभा चुनाव 2024 के आखिरी चरण यानी 1 जून को बक्सर सीट पर चुनाव होना है. यहां बीजेपी ने अपनी जमीन बचाने के लिए कड़ी मेहनत की है. इस दौरान शनिवार (19 मई) को असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा सिमरी प्रखंड के अर्जुनपुर पहुंचे थे, जहां उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी पूर्व आईपीएस आनंद मिश्रा पर तंज कसते हुए कहा था कि, ''वो लालू यादव से मिलकर विपक्ष को लाभ पहुंचाने का काम कर रहे हैं. चुनाव बाद मैं उसे असम बुलाऊंगा.'' अब आनंद मिश्रा ने उनके इस बयां को लेकर जवाब दिया है. उन्होंने कहा है कि, ''अब मैं उनका एसपी नहीं हूं, यह बात उनको ध्यान में रखना चाहिए.''

यह भी पढ़ें: Bihar Lok Sabha Election 2024: बिहार में 9 बजे तक 8.86 % वोटिंग, नामी चेहरों पर लगा है दांव

हेमंत बिस्वा सरमा पर आनंद मिश्रा का बयान

आपको बता दें कि हिमंत बिस्वा सरमा के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व आईपीएस निर्दलीय प्रत्याशी आनंद मिश्रा ने कहा है कि, ''वह बड़े भाई के समान हैं. उनका प्रेम है, उनको किसी ने ऐसा कान में डाल दिया है कि हम लोग पॉलिटिकल सक्सेसफुल नहीं होंगे. इसलिए वह हमारे पुनर्वास के लिए सोच रहे हैं. यह तो उनका बड़प्पन है. मैं यही कहूंगा कि हम यहां अपने घर पर हैं. गांव पर हैं, पूरी तरह सेटल हैं.'' 

साथ ही आगे आनंद मिश्रा ने कहा कि, ''अब मैं उनका एसपी नहीं हूं, यह बात उनको भी ध्यान में रखना चाहिए कि मैं कोई गाय बकरी नहीं हूं कि राह चलते कोई भी गोदी में उठकर लेकर चला जाएगा. ऐसा कोई कैसे सोच सकता है, मैं अपने गांव में हूं, घर में हूं. मान लिया गया है कि अब वह लोग हार रहे हैं, इसलिए यह मिथिलेश जी के द्वारा चलाया जा रहा निगेटिव फीड है, जो ऊपर भेजा जा रहा है. जब खुद हार रहे हैं, तो मुझे भी हरा दिया जाए. ऐसी चीज किया जाए जैसे कि मेरे नाम का दूसरा व्यक्ति भी खड़ा कर दिया गया है. इस तरह की चीज शोभा नहीं देती.''

'बड़े-बड़े नेताओं को लाकर शर्मसार किया जा रहा' - आनंद मिश्रा 

वहीं आगे आनंद मिश्रा ने कहा कि, ''वे लोग जानते थे कि ब्रह्मपुर क्षेत्र के लोग हमसे सहानुभूति रखते हैं. इसलिए असम के मुख्यमंत्री को इस इलाके में लाया गया. अब तो यह साफ हो गया कि हमें हारने के लिए यह सब किया जा रहा है. अब तो आप लोग देखिए कि आरजेडी को जीताने का कौन काम कर रहा है. असम के मुख्यमंत्री को गलत फीड दिया गया है यहां से. यहां बड़े-बड़े नेताओं को लाकर शर्मसार किया जा रहा है.''

दरअसल, बक्सर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा था कि, ''आनंद मिश्रा ने बीजेपी की सेवा करने के लिए मुझसे वीआरएस लिया था और यहां आकर लालू यादव से मिलकर वह भारत गठबंधन को फायदा पहुंचा रहे हैं. चुनाव बाद में उसको असम बुलाऊंगा.'' वहीं आनंद मिश्रा ने इसी पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.