News Nation Logo

कड़ाके की ठंड और शीतलहर की चपेट में बिहार, 26 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी

उत्तर भारत में पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है तो मैदानी इलाकों में ठंड सितम ढा रही है. बिहार में भी ठंड चरम पर पहुंच चुकी है और शीतलहर ने ठिठुरन और बढ़ा दी है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 20 Dec 2020, 04:10:47 PM
Winter

कड़ाके की ठंड और शीतलहर की चपेट में बिहार, 26 जिलों में ऑरेंज अलर्ट (Photo Credit: फाइल फोटो)

पटना:

उत्तर भारत में पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है तो मैदानी इलाकों में ठंड सितम ढा रही है. बिहार में भी ठंड चरम पर पहुंच चुकी है और शीतलहर ने ठिठुरन और बढ़ा दी है. सर्दी बढ़ने के साथ तापमान भी लगातार गिर रहा है. जिससे लोगों के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं. लेकिन बिहार में ठंड का कहर अभी बाकी है. मौसम विभाग ने बिहार के 26 जिलों में शीतलहर के चलते ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

यह भी पढ़ें : जीतन राम मांझी ने बिहार में 80 फीसदी अपराधों के लिए राजद को दोषी ठहराया

ठंड और बढ़ने के आसार

राज्य के कई हिस्‍सों में न्यूनतम तापमान सामान्य से 7 डिग्री तक नीचे पहुंच चुका है. अब तक गया में न्यूनतम तापमान सबसे कम 3.6 डिग्री दर्ज किया गया है, जबकि राजधानी पटना में इस साल का अब तक का सबसे न्यूनतम तापमान 6 डिग्री दर्ज हुआ है. ठंड और सर्द हवाओं से लोगों का जीना बेहाल हो गया है. हालांकि हवा चलने से कोहरे से पिछले 2 दिनों से राहत मिल रही है. लेकिन आने वाले वक्त में ठंड के बढ़ने के आसार हैं.

इन जिलों में जारी हुआ ऑरेंज अलर्ट

मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक, बिहार में सर्दी और बढ़ने की संभावना है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार सोमवार की सुबह तक ठंड बढ़ेगी. साथ ही आगे तापमान में गिरावट दर्ज की जा सकती है. फिलहाल मौसम विभाग ने 26 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इन जिलों में पटना, नालंदा, दरभंगा, वैशाली, शेखपुरा, बेगूसराय, गया, लखीसराय, नवादा, बक्सर, भोजपुर, रोहतास, सारण, भभुआ, औरंगाबाद, जहानाबाद, अरवल, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, शिवहर, समस्तीपुर, प. चंपारण, सीवान, पूर्वी चंपारण और गोपालगंज शामिल हैं.

यह भी पढ़ें : 'सिर्फ 25% काम कर रही लालू यादव की किडनी' वाले बयान पर डॉक्टर को कारण बताओ नोटिस

ठंड बढ़ने से गरीबों और बुजुर्गों की मुश्किलें पैदा हो गई है. अभी अधिकतर लोग शाम होते ही घरों में दुबके नजर आते है. सुबह 10 बजे से पहले सड़कों पर भी ट्रैफिक का दवाब काफी कम रहता है. हालांकि ठंड को देखते हुए जिला प्रशासन ने नगर निगम और सभी अंचलाधिकारियों को गरीबों के लिए समुचित रैन बसेरा और अलाव का इंतजाम करने का निर्देश दिए हैं.

First Published : 20 Dec 2020, 04:10:47 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.