News Nation Logo

बिहार के कई जिलों में गहराया बाढ़ का कहर, बेकाबू होती जा रही गंगा

पटना के गांधीघाट, हाथीदह और कहलगांव में गंगा अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है. हाथीदह में गंगा नदी नया उच्चतम स्तर पर पहुंच सकती है.हाथीदह में इसका जलस्तर उच्चतम स्तर 43.17 मीटर से मात्र सात सेमी नीचे है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 13 Aug 2021, 09:54:30 AM
flood in bihar

बिहार के कई जिलों में गहराया बाढ़ का कहर, बेकाबू होती जा रही गंगा (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली :

बिहार में बाढ़ जैसे हालात बनने लगे हैं. गंगा कई जगहों पर उच्चतम स्तर पर पहुंचने वाला है. सोन और पुनपुन नदी में भी जलस्तर गंभीर स्थिति में बढ़ रहा है. इलाहाबाद से फरक्का तक गंगा लाल निशान से ऊपर बह रही है. मुंगरे को छोड़कर तमाम जगहों पर गंगा लाल निशान से एक मीटर ऊपर ही जा रही है. बक्सर, पटना समेत तमाम तटवर्ती जिलों के दियारा क्षेत्रों में पानी घरों के अंदर घुसने लगा है. भागलपुर में एनएच 80 पर कई जगहों पर बाढ़ का पानी बहने लगा है. बक्सर कोचस स्टेट हाईवे पर पानी चढ़ गया है. दियारा में लगी खरीब फसलें डूब गई हैं. 

बात समस्तीपुर की करें तो यहां मोहनपुर और मोहिउद्दीननगर प्रखंड की दर्जनों पंचायतों का संपर्क जिला मुख्यालय से कट गया है. यहां गंगा का जलस्तर खतरे के निशान से दो मीटर ऊपर बह रहा है. घरों में पानी जा घुसा है. 

पटना के गांधीघाट, हाथीदह और कहलगांव में गंगा अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है. हाथीदह में गंगा नदी नया उच्चतम स्तर पर पहुंच सकती है.हाथीदह में इसका जलस्तर उच्चतम स्तर 43.17 मीटर से मात्र सात सेमी नीचे है.

गांधी घाट पर भी गंगा 2016 में बने उच्चतम जलस्तर को पार कर सकती है

हाथीदह के साथ पटना के गांधी घाट पर भी गंगा 2016 में बने उच्चतम जलस्तर 50.52 मीटर को पार कर सकती है. वहां अब मात्र 42 सेमी नीचे रह गई है.गुरुवार को वहां 50.10 मीटर जलस्तर के साथ बह रही है और लाल निशान से 1.50 मीटर ऊपर है. 

दीघा घाट में गंगा लाल निशान से 107 सेमी ऊपर चली गई है. भागलपुर में 53 और कहलगांव में 97 सेमी लाल निशान से ऊपर बह रही है. बताया जा रहा है कि गुरुवार को नदी के निशान 10 से 20 सेमी और बढ़ सकती है. 

इसे भी पढ़ें:देश भर के हाईकोर्ट को 453 Judge चाहिए, इलाहाबाद-कलकत्ता HC में सबसे ज्यादा वैकेंसी

पुनपुन और सोन भी तबाही मचाने को तैयार

पुनपुन और सोन नदी में तबाही मचाने को बेकरार है. पटना के श्रीपालपुर में पुनपुन एक बार फिर 1.77 मीटर लाल निशान से ऊपर चली गई. सोन भी मनेर में तीन दिन से लाल निशान से ऊपर बह रह है. गुरुवार को मनेर में यह नद 94 सेमी लाल निशान से ऊपर है. शुक्रवार तक इसमें 20 सेमी और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है. 

कोसी का जलस्तर भी बढ़ा

इधर कोसी में भी पानी बढ़ा है.  कोसी से बराह क्षेत्र में 107 हजार और बराज पर एक लाख 51 हजार घनसेक पानी मिल रहा है. वाल्मीकिनगर पर बराज पर एक लाख छह हजार घनसेक पानी है. दूसरी नदियों में बागमती मुजफ्फरपुर में 74 और बूढी़ गंडक खगड़िया में 171 सेमी पर बह रही है. कमला झंझारपुर में 80 सेमी ऊपर पानी बढ़ा है. गुरुवार को कमला जयनगर में भी लाल निशान से पांच सेमी ऊपर पहुंच गई है. 

First Published : 13 Aug 2021, 09:35:22 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Flood Flood In Bihar Ganga