News Nation Logo
Banner

बिहार का बुरा है हाल : बाढ़ के साथ पैर पसार रहीं संक्रमित बीमारियां, किया जा रहा रसायन का छिड़काव

हालात अब भी सुधरे नहीं हैं कुछ इलाकों में बाढ़ का पानी तो उतरा है लेकिन अब वहां संक्रमित बीमारियां अपने पैर पसारने लगी हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 05 Oct 2019, 11:06:53 AM
बिहार में बाढ़ से जीवन अस्त-व्यस्त है

बिहार में बाढ़ से जीवन अस्त-व्यस्त है (Photo Credit: एएनआई)

New Delhi:

बिहार में दो महीने पहले आई बाढ़ में राज्‍य के 13 जिलों पूर्वी व पश्चिम चंपारण, अररिया, किशनगंज, शिवहर, सुपौल, मधुबनी, सीतामढ़ी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, सहरसा, कटिहार और पूर्णिया में काफी तबाही हुई है. हालात अब भी सुधरे नहीं हैं कुछ इलाकों में बाढ़ का पानी तो उतरा है लेकिन अब वहां संक्रमित बीमारियां अपने पैर पसारने लगी हैं. बाढ़ में मरे हुए जानवर आदि के शवों के कारण पानी और हवा में दुर्गंध फैल रही है. इसके लिए नगर निगम की ओर से जगह-जगह रसायन का छिड़काव किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा फैसला, बाढ़ग्रस्‍त बिहार को मिलेगी 400 करोड़ की सहायता

खासकर पटना में बारिश के बाद जलजमाव को लेकर लोगों की जिन्दगी कैदखाने में बदल गई है. तबाही के सातवें दिन भी राजेंद्रनगर इलाके को जलजमाव से राहत नहीं मिल पाई है. पानी निकलने की गति काफी धीमी है.

यह भी पढ़ें- 2 लाख रुपए मिलेंगे-यह बात सुनते ही पोस्ट ऑफिस में लगा महिलाओं का मजमा

महामारी फैलने की आशंका

पानी के गंदे और बदबूदार होने के कारण इन इलाकों में डेंगू और डायरिया जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ गया है. शुक्रवार को पीएमसीएच में डेंगू के 67 नए मरीज मिले हैं. कंकड़बाग और राजेंद्रनगर इलाके से सबसे अधिक मरीज मिले हैं. इसको देखते हुए कंकड़बाग में दो विशेष कैंप भी लगाए गए हैं, जहां डेंगू की निश्शुल्क जांच की जाएगी. स्वास्थ्य विभाग की ओर से 35 पूजा पंडालों में स्वास्थ्य शिविर लगाने की भी तैयारी है.

अब भी कई इलाकों में जलजमाव की स्थिति

बारिश थमे पांच दिन बीत गए, लेकिन अभी भी राजधानी के दर्जनों मोहल्ले जलजमाव से बुरी तरह प्रभावित हैं. इन इलाकों में अभी भी तीन से चार फीट तक पानी भरा है. इनमें सरिस्ताबाद, अलकापुरी, साधनापुरी, मगध बिहार, अनिसाबाद पुलिस कॉलोनी, बाईपास से उतर सटे आरएमएस कॉलोनी, रुदल पथ, अशोक नगर रोड नंबर-14, 8बी और 8सी, रामलखन पथ, बुद्धा कॉलोनी की अंदर की सड़कें, बाईपास से दक्षिण स्थित मोहल्लों में मधुबन कॉलोनी, एनटीपीसी कॉलोनी, घाना कॉलोनी, पूर्वी रामकृष्णा नगर, त्रिदेव मंदिर, सुभाष नगर, खेमनीचक, महावीर कॉलोनी, सेतु नगर, पूर्वी इंदिरा नगर रोड नंबर-एक व चार, रामजयपाल नगर, देवनगर रोड नंबर चार, जगनपुरा सहित अन्य मोहल्लों में अभी भी भीषण जलजमाव की स्थिति बनी हुई है.

First Published : 05 Oct 2019, 10:53:05 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो