News Nation Logo

Bihar Election Live: नीतीश ने क्यों छोड़ा था लालू का साथ, जेपी नड्डा ने कही ये बात

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में सियासत ने नया मोड़ ले लिया है. 'जंगलराज' को बीजेपी-जदयू ने चुनावी मुद्दा बना लिया है. उधर, मुंगेर की घटना पर जमकर राजनीति हो रही हैं

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 31 Oct 2020, 02:03:28 PM
Bihar Elections 2020

Bihar Election Live: दूसरे चरण में आते-आते बदले गए चुनावी मुद्दे (Photo Credit: फ़ाइल फोटो)

पटना:

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में सियासत ने नया मोड़ ले लिया है. 28 अक्टूबर की रैली में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा राजद सरकार के कार्यकाल को 'जंगलराज' बताया गया और महागठबंधन के सीएम उम्मीदवार तेजस्वी यादव को 'जंगलराज का युवराज' कहा गया था. अब इसी 'जंगलराज' को बीजेपी-जदयू ने चुनावी मुद्दा बना लिया है. उधर, मुंगेर की घटना पर राजद-कांग्रेस जमकर राजनीति कर रही हैं और लगातार नीतीश सरकार को बर्खास्त करने की मांग की जा रही है.

LIVE TV NN

NS

NS

सोनपुर में रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने कहा, 'पिछला चुनाव नीतीश कुमार ने लालू के साथ महागठबंधन में लड़ा था. महागठबंधन क्यों टूटा? महागठबंधन इसलिए टूटा क्योंकि नीतीश समझ गए कि मेरा सुशासन इन कुशासन वालों के साथ नहीं चल सकता है.'

शिवसेना नेता संजय राउत ने तेजस्वी यादव की जमकर तारीफ की है. उन्होंने कहा, 'मैं उस लड़के(तेजस्वी यादव) को बहुत साल से फॉलो कर रहा हूं, बहुत लोग मानते थे कि इस चुनाव में वो कमजोर कड़ी है लेकिन वो एक बहुत मजबूत कड़ी उभर कर सामने आया है. और राज्यों में बड़े नेताओं के जो लड़के राजनीति में आए हैं, उनसे सबसे सुपर तेजस्वी है.' 

राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश पर हमला बोला है. उन्होंने कहा, 'नीतीश कुमार की वैचारिक प्रतिबद्धताएं पूरा देश जानता है, उनकी विश्वसनीयता पूरी तरह खत्म हो चुकी है. पहले चरण के चुनाव के बाद जनता ने स्पष्ट संदेश दिया है कि मुद्दे पर भी चुनाव हो सकता है और बीजेपी और नीतीश जी दोबारा सत्ता में नहीं आने वाले.' 

बिहार: लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने अपने जन्मदिन पर पटना के पटन देवी मंदिर में पूजा की.


सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर पटना में सीएम नीतीश कुमार ने श्रद्धांजलि दी.


सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि जंगलराज के युवराज अपने माता पिता के भयावह शासनकाल के बारे में बात नहीं करना चाहते, लेकिन कम से कम वे यह तो बताएं कि विपक्ष के नेता एवं मंत्री की हैसियत से चमकी बुखार, बाढ़ और लॉकडाउन के समय वे कितने गरीब परिवारों के साथ खड़े हुए?

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 28 अक्टूबर को जिन 71 सीटों पर मतदान हुआ था, उनमें से किसी सीट पर भी पर्यवेक्षकों ने फिर से मतदान कराने की सिफारिश नहीं की है.

First Published : 31 Oct 2020, 06:44:42 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो