News Nation Logo

बिहार: चक्रवात तूफान 'यास' की आशंका से 10 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन रद्द

चक्रवाती तूफान 'यास' की आशंका को लेकर सुरक्षात्मक कदम उठाते हुए पूर्व मध्य रेलवे ने भुवनेश्वर, पुरी, यशवंतपुर आदि स्टेशनों से चलने वाली कुछ स्पेशल ट्रेनों का परिचालन अस्थायी तौर पर रद्द कर दिया है.

By : Ravindra Singh | Updated on: 22 May 2021, 09:34:30 PM
Cyclone Yaas

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

पटना:

चक्रवाती तूफान 'यास' की आशंका को लेकर सुरक्षात्मक कदम उठाते हुए पूर्व मध्य रेलवे ने भुवनेश्वर, पुरी, यशवंतपुर आदि स्टेशनों से चलने वाली कुछ स्पेशल ट्रेनों का परिचालन अस्थायी तौर पर रद्द कर दिया है. पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश् कुमार ने शनिवार को बताया कि चक्रवाती तूफान 'यास' की आशंका को लेकर पूर्व मध्य रेलवे ने सुरक्षात्मक रूप से भुवनेश्वर, पुरी, यशवंतपुर आदि स्टेशनों से चलने वाली कुछ स्पेशल ट्रेनों का परिचालन अस्थायी तौर पर रद्द कर दिया है. उन्होंने कहा कि इनमें पटना, मुजफ्फरपुर तथा जयनगर से खुलने और पहुंचने वाली 3 जोड़ी एवं पूर्व मध्य रेल के कोडरमा, गया, सासाराम, पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन आदि स्टेशनों से होकर नई दिल्ली, आनंदविहार टर्मिनल को जाने-आने वाली 7 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें शामिल हैं .

उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर- यशवंतपुर स्पेशल ट्रेन का परिचालन 24 मई को रद्द रहेगा, जबकि एर्णाकुलम-पटना स्पेशल ट्रेन का परिचालन 24 एवं 25 मई को रद्द रहेगा. इसके अलावा पटना-एर्णाकुलम स्पेशल ट्रेन का परिचालन 27 एवं 28 मई को तथा पुरी-जयनगर स्पेशल ट्रेन का परिचालन 27 मई को रद्द रहेगा. कुमार ने बताया कि जयनगर-पुरी स्पेशल ट्रेन का परिचालन 29 मई को रद्द रहेगा जबकि पटना-पुरी स्पेशल ट्रेन का परिचालन 26 मई को रद्द रहेगा.

उन्होंने कहा कि इसके अलावा पुरी-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन का परिचालन 24, 25 एवं 26 मई को तथा नई दिल्ली-पुरी स्पेशल ट्रेन का परिचालन 23, 24 एवं 25 मई को रद्द रहेगा. इसी तरह आनंदविहार टर्मिनल-भुवनेश्वर स्पेशल ट्रेन का परिचालन 24 मई को जबकि आनंदविहार टर्मिनल-पुरी स्पेशल ट्रेन का परिचालन 24 एवं 26 मई को रद्द रहेगा . उन्होंने कहा कि इसके अलावा भी कई अन्य ट्रेनों के परिचालन को रद्द किया गया है. 

चक्रवात यास से राहत-बचाव के मद्देनजर आठ बाढ़ राहत दल और चार गोताखोर दल बचाव के लिए ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तैनात हैं. ओडिशा और पश्चिम बंगाल तट के साथ सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में सहायता प्रदान करने के लिए चार नौसैनिक जहाज मानवीय सहायता और आपदा राहत (एचएडीआर), गोताखोरी और चिकित्सा टीमों के साथ स्टैंडबाय पर हैं. सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने, हताहतों को निकालने और आवश्यकतानुसार राहत सामग्री को हवा में गिराने के लिए नौसेना के विमानों को नौसेना वायु स्टेशनों, विशाखापत्तनम में आईएनएस देगा और चेन्नई के पास आईएनएस राजाली में तैयार रखा गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 22 May 2021, 09:34:30 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.