News Nation Logo

बिहार में मस्जिद में नमाज पढ़ने से रोका तो नमाजियों ने पुलिस पर बरसाए ईंट पत्थर

लॉकडाउन के दौरान मस्जिद में नमाज के लिए इकट्ठे हुए नमाजियों को समझाने पहुंची पुलिस पर कुछ असामाजिक तत्वों ने हमला बोल दिया.

News State | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 17 Apr 2020, 07:53:54 PM
Nawazi

मस्जिद में नवाज पढ़ने से रोका तो नमाजियों ने पुलिस पर बरसाए ईंट पत्थर (Photo Credit: News State)

दरभंगा:

कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण को रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन की बिहार में जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है. कुछ असामाजिक लोग बार-बार कहने और समझाने के बावजूद नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं. इतना ही नहीं, हमारी सुरक्षा के लिए तैनात पुलिसवालों को भी बख्श रहे हैं. ऐसा ही एक मामला बिहार (Bihar) के दरभंगा से सामने आया है. यहां लॉकडाउन के दौरान मस्जिद में नमाज के लिए इकट्ठे हुए नमाजियों को समझाने पहुंची पुलिस पर कुछ असामाजिक तत्वों ने हमला बोल दिया.

यह भी पढ़ें: कोरोना से जंग जीत रहे बिहार के अस्पतालों में भर्ती मरीज, ठीक होकर इतने लोग लौटे घर

जानकारी के अनुसार, पुलिस को दरभंगा की एक मस्जिद में नमाजियों के इकट्ठा होने की सूचना मिली थी. जिसके बाद मौके पर पुलिस ने नमाजियों को समझाने की कोशिश की और लॉकडाउन के दौरान एक जगह इकट्ठा होकर नमाज पढ़ने से मना किया था. लेकिन ये लोग जुम्मे की नवाज मस्जिद में पढ़ने की जिद कर रहे थे. जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो इन लोगों ने पुलिसवालों पर हमला बोल दिया. नमाजियों ने पुलिस की टीम पर ईंट और पत्थर बरसाए. इस हमले में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया. सूचना मिलने के बाद अन्य पुलिसबल मौके पर पहुंचा और हालात पर काबू पाया.

इससे पहले बुधवार को औरंगाबाद जिले के अकौनी और पूर्वी चंपारण के जागापाकड़ गांव में ग्रामीणों ने स्वास्थ्यकर्मियों पर कुछ लोगों ने हमला बोल दिया था. औरंगाबाद जिले की घटना में अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ ) राजकुमार तिवारी और उनके साथ मौजूद पुलिस के जवानों घायल हो गए. इस घटना में कई स्वस्थ्यकर्मी भी घायल हुए थे. पूर्वी चंपारण की घटना में भी स्वास्थ्यकर्मी और पुलिसकर्मी घायल हुए थे. कुल मिलाकर दोनों घटनाओं में 17 लोग जख्मी हुए थे.

यह भी पढ़ें: corona virus (COVID-19): कोरोना से जंग में पीपीई किट तैयार करने में लगा रेलवे

गौरतलब है कि गुरुवार को ही बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने पुलिसकर्मियों और डॉक्टर्स पर हो रहे हमलों की निंदा करते हुए कड़ी चेतावनी दी थी. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिसकर्मियों पर हमला करने वाले लोगों को हम छोड़ेंगे नहीं, हम उनको जेल में सड़ा देंगे. डीजीपी ने कहा कि अपनी जान हथेली पर रखकर ये लोग लड़ रहे हैं और उनपर हमले किए जा रहे हैं. बावजूद इसके पुलिसकर्मियों पर हमले की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 17 Apr 2020, 05:24:47 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो