News Nation Logo

BREAKING

हथियारों के 3 अवैध कारखानों का भंडाफोड़, नक्सली और अपराधियों को की जानी थी आपूर्ति

बिहार के नक्सल प्रभावित मुंगेर जिले के धरहरा थाना क्षेत्र में पुलिस ने छापेमारी कर तीन अवैध मिनी बंदूक कारखाने का भंडाफोड़ किया.

By : Dalchand Kumar | Updated on: 28 Nov 2019, 09:24:36 AM
हथियारों के 3 अवैध कारखानों का भंडाफोड़, नक्सली को की जानी थी आपूर्ति

हथियारों के 3 अवैध कारखानों का भंडाफोड़, नक्सली को की जानी थी आपूर्ति (Photo Credit: News State)

मुंगेर:

बिहार के नक्सल प्रभावित मुंगेर जिले के धरहरा थाना क्षेत्र में पुलिस ने छापेमारी कर तीन अवैध मिनी बंदूक कारखाने का भंडाफोड़ किया. यहां  से 13 पिस्तौल और 15 कारतूस सहित बड़ी मात्रा में हथियार बनाने में प्रयुक्त होने वाले उपकरणों को बरामद किया गया है. बताया जा रहा है कि अवैध हथियार बनाने का यह कारखाना एक एक गोबर गैस प्लांट में चल रहा था. गोबर गैस प्लांट के भीतर बनाए गए तहखाने को उपलब्ध कराने के लिए प्रति हथियार कमीशन भी दिया जाता था. फिलहाल इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

यह भी पढ़ेंः लालू प्रसाद ने BJP को मात देने के लिए खेला नया दांव, जगदानंद सिंह बने बिहार आरजेडी प्रमुख

मुंगेर के पुलिस उपमहानिरीक्षक मनु महाराज के मुताबिक, गुप्त सूचना मिली थी कि धरहरा गांव में अवैध तरीके से मिनी बंदूक कारखाने चल रहे हैं. इसी आधार पर एक टीम गठित कर गांव में छापेमारी की गई, जहां तीन मिनी बंदूक कारखानों का भंडाफोड़ किया गया. मौके से पुलिस ने एक पूर्णनिर्मित, 12 अर्द्धनिर्मित पिस्तौल, 15 कारतूस और तीन वेस मशीन सहित बड़ी मात्रा में हथियार बनाने में प्रयुक्त होने वाले उपकरण बरामद किए हैं.

पुलिस उपमहानिरीक्षक ने बताया कि सभी कारखाने गोबर गैस प्लांट के तहखाने में चलाए जा रहे थे. उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में उक्त गोबर गैस प्लांट के मालिक गुलाब सिंह और गोपाल के अलावा हथियार कारीगर मोहम्मद राजू, फैयाज व मोहम्मद असलम को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि गुलाब उक्त गोबर गैस प्लांट के भीतर बनाए गए तहखाने को उपलब्ध कराने के लिए प्रति हथियार कमीशन लेता था. गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है. पुलिस उपमहानिरीक्षक मनु महाराज ने बताया कि आरोपियों ने स्वीकार किया है कि उक्त हथियारों की अपराधियों और नक्सलियों को आपूर्ति की जानी थी. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है.

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में खेल बिगड़ने के बाद बीजेपी ने बिहार में शुरू किया ये काम

इससे पहले भी मुंगेर जिले में ही हथियार की तस्करी पकड़ी थी. कासिमबाजार थाना क्षेत्र में पुलिस ने छापेमारी कर बड़ी मात्रा में हथियार और हथियार बनाने में प्रयुक्त होने वाले उपकरण भी बरामद किए थे. साथ ही 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. इसमें सबसे बड़ी बात यह सामने आई थी कि बड़ी संख्या में बरामद हथियारों की यह आपूर्ति नक्सलियों को की जानी थी. बरामद हथियारों की खेप में एक 'बेवली स्कट' राइफल भी थी, जिसका सौदा नक्सलियों के साथ तस्करों का हो चुका था.

यह वीडियो देखेंः 

First Published : 28 Nov 2019, 09:24:36 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.