News Nation Logo
Breaking
Banner

बिहार में 1,20,372 नए किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण किया गया

उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड निर्गत करने के लिए फसल बीमा की अनिवार्यता पर जोर दिये जाने के कारण विगत कुछ वर्षों में नए कार्ड कुछ कम जारी हुए थे.

Bhasha | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 05 Mar 2020, 11:27:26 AM
Kisan Credit Card

बिहार में 1,20,372 नए किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण किया गया (Photo Credit: फाइल फोटो)

पटना:  

बिहार (Bihar) के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बुधवार को बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में अप्रैल से दिसम्बर के बीच 1,20,372 नए तथा 44,36,400 नवीकृत सहित कुल 15,56,772 किसान क्रेडिट कार्ड 'केसीसी' का वितरण बैंकों द्वारा किया गया है. बिहार विधानसभा में राजद विधायक मोहम्मद नवाज आलम द्वारा लाए गए ध्यानाकर्षण सूचना पर सरकार की ओर से जवाब देते हुए सुशील मोदी (Sushil Modi) ने बुधवार को कहा कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में दिसम्बर, 2019 तक 1,20,372 नए तथा 44,36,400 नवीकृत सहित कुल 15,56,772 केसीसी का वितरण बैंकों द्वारा किया गया है. उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan credit card) निर्गत करने के लिए फसल बीमा की अनिवार्यता पर जोर दिये जाने के कारण विगत कुछ वर्षों में नए कार्ड कुछ कम जारी हुए थे.

यह भी पढ़ें: जावेद अख्तर के खिलाफ बिहार में दर्ज हुआ मुकदमा, दिल्ली हिंसा पर दिया था बयान

सुशील मोदी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस मुद्दे को केंद्र के समक्ष उठाया गया था. अब केसीसी ऋण के लिए फसल बीमा की अनिवार्यता को भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा समाप्त कर दिया गया है. सुशील ने कहा कि किसानों को क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ दिलाने के उद्देश्य से, कृषि विभाग द्वारा गत 12 फरवरी से 27 फरवरी तक 15 दिनों के लिए विशेष अभियान चलाया गया. सुशील ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में 31 दिसम्बर, 2019 तक वार्षिक साख योजना के अंतर्गत बैंकों द्वारा कृषि क्षेत्र में 28764 करोड़ रूपये ऋण वितरित किये गये है जो कि निर्धारित लक्ष्य 60,000 करोड़ रूपये का 47.17 प्रतिशत है. पिछले वित्तीय वर्ष 2018-19 में वार्षिक साख योजना के अंतर्गत बैंकों द्वारा कृषि क्षेत्र में 43621 करोड़ रूपये ऋण वितरित किये गये थे जो कि निर्धारित लक्ष्य 60,000 करोड़ रूपये का 72.70 प्रतिशत था.

यह भी पढ़ें: बिहार में चुनावी मझधार पार करने संगठन की मजबूती में जुटे सियासी दल

उन्होंने कहा कि इस वित्तीय वर्ष दिसम्बर, 2019 तक कृषि टर्म लोन के निर्धारित लक्ष्य 15,752 करोड रूपये के विरूद्ध 11,101 करोड़ रूपये (लक्ष्य का 70.48%), किसान क्रेडिट कार्ड के अन्तर्गत 13393 करोड़ रूपये, कृषि यांत्रिकरण में लक्ष्य 3755 करोड़ रूपये के विरूद्ध 270 करोड़ रूपये (लक्ष्य का 7.19%,), कृषि अधारभूत संरचना में लक्ष्य 4390 करोड़ रूपये के विरूद्ध 113 करोड़ रूपये (लक्ष्य का 2.58%), भंडारण सुविधा में निर्धारित लक्ष्य 3144 करोड़ रूपये के विरूद्ध 14 करोड रूपये (लक्ष्य का 0.46%), खाद्य एवं कृषि प्रसंस्करण में निर्धारित लक्ष्य 3347 करोड़ रूपये के विरूद्ध 694 करोड रूपये (लक्ष्य का 20.75%), डेयरी में लक्ष्य 4029 करोड़ रूपये के विरूद्ध 851 करोड़ रूपये (लक्ष्य का 24.38%), मत्स्यन में लक्ष्य 960 करोड़ 'रूपये के विरूद्ध 19 करोड़ रूपये (लक्ष्य का 2.05%) तथा मुर्गीपालन में लक्ष्य 16571 करोड़ रूपये के विरूद्ध 102 करोड़ रूपये (लक्ष्य का 6.11%) के कर्ज वितरित किए गए.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 05 Mar 2020, 11:27:26 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.