News Nation Logo
Banner

जातीय जनगणना को लेकर सोमवार को CM नीतीश के साथ PM से मिलेंगे बिहार के 11 नेता, देखें लिस्ट

बिहार सरकार के द्वारा उन 11 सदस्यों की सूची जारी कर दी गई है जो सोमवार को जाति आधारित जनगणना के मुद्दे पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Rupesh Ranjan | Updated on: 22 Aug 2021, 08:50:03 PM
Nitish kumar

Nitish kumar (Photo Credit: News Nation )

highlights

  • जाति आधारित जनगणना पर नीतीश-तेजस्वी साथ
  • तेजस्वी यादव की मांग पर सीएम नीतीश ने पीएम को लिखा खत
  • सोमवार को 11 सदस्यों की प्रतिनिधिमंडल करेगा पीएम से मुलाकात 

नई दिल्ली:

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में नेता प्रतिपक्ष समेत 11 सदस्यों की समूह जाति आधारित जनगणना कराए जाने की मांग को लेकर सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेगा. बिहार सरकार के द्वारा उन 11 सदस्यों की सूची जारी कर दी गई है जो सोमवार को जाति आधारित जनगणना के मुद्दे पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे. प्राप्त जानकारी के अनुसार भाजपा बिहार के दो उपमुख्यमंत्री में से एक भी उपमुख्यमंत्री प्रधानमंत्री से मिलने वाले इस समूह का हिस्सा नहीं होंगे. भाजपा बिहार इकाई के द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री जनक राम प्रतिनिधिमंडल में भाजपा की बिहार इकाई का प्रतिनिधित्व करेंगे.

यह भी पढ़ें: अफगान उपराष्ट्रपति ने 51 मिलियन डॉलर नकद के साथ दुबई के लिए उड़ान भरी

बिहार सरकार की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार के नेतृत्व में कैबिनेट मंत्री जनक राम, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (राजद), विजय चौधरी (जदयू), जीतन राम मांझी (हम), मुकेश साहनी (वीआईपी), अजीत शर्मा (कांग्रेस), अख्तरुल इमाम (एआईएमआईएम), महबूब अल (सीपीआई-एमएल), सूर्यकांत पासवान और अजय कुमार प्रधानमंत्री से सोमवार को मिलने वाले प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगे.

यह भी पढ़ें: अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए जारी किया अलर्ट- काबुल एयरपोर्ट जाना सुरक्षित नहीं


गौरतलब है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जाति आधारित जनगणना के मुद्दे पर बैठक के लिए राजद नेता तेजस्वी यादव की मांग पर 4 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था. दरअसल में जातिगत जनगणना की मांग राजनीतिक पार्टियों द्वारा बिहार में होती रही है. हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि अभी हम लोग प्रधानमंत्री से मुलाकात कर केन्द्र सरकार के द्वारा जातीय जनगणना कराए जाने की मांग करेंगे. अगर केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश में जातीय जनगणना नहीं कराई जाती है तो तब प्रदेश सरकार के द्वारा बिहार में जातीय जनगणना कराए जाने को लेकर विचार किया जाएगा. हालांकि इस दौरान उन्होंने कहा कि इस पर सभी विपक्षी पार्टियों की आपसी सहमति बहुत ही जरूरी है.

First Published : 22 Aug 2021, 08:50:03 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.