News Nation Logo

द्रमुक महिलाओं का सम्मान नहीं करती : रामदॉस

रामदॉस ने यह भी कहा कि अन्नाद्रमुक के छोटे से नेता से लेकर राज्य के मुख्यमंत्री बनने वाले पलानीसामी में द्रमुक के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के पुत्र द्रमुक अध्यक्ष एम.के. स्टालिन से अधिक राजनीतिक दक्षता है.

IANS | Updated on: 27 Mar 2021, 08:52:38 PM
S  Ramadoss

रामदॉस (Photo Credit: IANS)

highlights

  • रामदॉस ने कहा कि द्रमुक महिलाओं का सम्मान करने के लिए तैयार नहीं है
  • 'ऐसी टिप्पणी बर्दाश्त नहीं की जा सकती, यह द्रमुक पार्टी के लोगों के विचारों की कलई खोल रही है'
  • महिलाओं के खिलाफ ऐसी टिप्पणी करने वालों के खिलाफ पार्टी को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए

चेन्नई:

पीएमके के संस्थापक एस. रामदॉस ने शनिवार को मुख्यमंत्री के. पलानीसामी और उनकी मां के खिलाफ अपमानजनक भाषण के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री व द्रमुक के उप महासचिव ए. राजा की भर्त्सना की. रामदॉस ने कहा कि द्रमुक महिलाओं का सम्मान करने के लिए तैयार नहीं है. उन्होंने अतीत में विभिन्न मुद्दों पर करुणानिधि की प्रतिक्रियाओं का हवाला दिया. रामदॉस ने यह भी कहा कि अन्नाद्रमुक के छोटे से नेता से लेकर राज्य के मुख्यमंत्री बनने वाले पलानीसामी में द्रमुक के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के पुत्र द्रमुक अध्यक्ष एम.के. स्टालिन से अधिक राजनीतिक दक्षता है.

रामदॉस ने कहा, "जब पलानीसामी और स्टालिन की तुलना करने के लिए कई शालीन शब्द हैं, तो राजा द्वारा इस्तेमाल किए गए शब्दों का चुनाव उनका और द्रमुक का भी स्टैंडर्ड दिखाता है." हाल ही में द्रमुक नेता राजा ने स्टालिन और पलानीसामी की तुलना करते समय आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था. इतना ही नहीं, राजा ने पलानीसामी की दिवंगत मां के लिए आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

रामदॉस ने कहा कि स्टालिन के बेटे और पार्टी के यूथ विंग के नेता उदयनिधि स्टालिन ने पलानीसामी और वीके शशिकला के बारे में अपमानजनक टिप्पणी करने का चलन शुरू किया. कुछ दिन पहले, द्रमुक के प्रचार सचिव डिंडीगुल आई लियोनी ने कार्तिकेय शिवसेनापति के लिए थोंडमुथुर निर्वाचन क्षेत्र में प्रचार करते हुए महिलाओं के लिए अभद्र टिप्पणी की थी.

किसी भी महिला के बारे में बुरा बोलना निंदनीय है : कनिमोझी

द्रमुक की लोकसभा सदस्य कनिमोझी ने कहा है कि चाहे कोई भी राजनीतिक नेता हो, अगर वह महिलाओं के बारे में बुरा बोल रहा है तो उसकी निंदा अवश्य की जानी चाहिए. कनिमोझी ने किसी की ओर इशारा किए बिना अपने ट्वीट में कहा कि "अगर हर कोई यह सोचे कि कोई भी महिलाओं का अपमान नहीं कर सकता तो यह समाज के लिए अच्छा है.

यह सामाजिक न्याय है, जिसकी कामना द्रविड़ आंदोलन और पेरियार के नाम से मशहूर दिवंगत ई.वी. रामासामी ने हमेशा की. कुछ दिनों पहले महिलाओं का अनादर करने पर उस समय विवाद शुरू हुआ जब द्रमुक के प्रचार सचिव डिंडीगुल आई लियोनी ने कार्तिकेय शिवसेनापति के लिए थोंडमुथुर निर्वाचन क्षेत्र में प्रचार करते हुए महिलाओं के लिए अभद्र टिप्पणी की.

भाजपा की संस्कृति इकाई की सचिव गायत्री रघुरामन ने कनिमोझी को पार्टी के स्टार प्रचारक द्वारा की गई अभद्र टिप्पणी का जवाब देने के लिए कहा. अन्नाद्रमुक नेता एम.पी. राजशेखरन ने कहा, "ऐसी टिप्पणी बर्दाश्त नहीं की जा सकती, यह द्रमुक पार्टी के लोगों के विचारों की कलई खोल रही है. महिलाओं के खिलाफ ऐसी टिप्पणी करने वालों के खिलाफ पार्टी को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने कहा, "यह हमारी संस्कृति नहीं है. तमिल संस्कृति में हमेशा महिलाओं का सम्मान किया जाता है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 27 Mar 2021, 07:00:47 PM

For all the Latest States News, Tamilnadu News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.