News Nation Logo
Banner

हाईकोर्ट के जज को पत्र, 'नागरिकों के जीवन की रक्षा के लिए' ले संज्ञान

एक वकील ने केरल एचसी के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखकर केरल सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के खिलाफ 'नागरिकों के जीवन की रक्षा के लिए' स्वत: संज्ञान लेने के लिए कहा.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 18 May 2021, 06:33:14 PM
Kerala HC

हाईकोर्ट के जज को पत्र, 'नागरिकों के जीवन की रक्षा के लिए' ले संज्ञान (Photo Credit: @ANI)

highlights

  • केरल में दूसरी वाम सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में केवल एक दिन बचा है
  • हाईकोर्ट के जज को पत्र, 'नागरिकों के जीवन की रक्षा के लिए' ले संज्ञान
  • शपथ ग्रहण समारोह 20 मई को यहां सेंट्रल स्टेडियम में होना है

 

तिरुवनंतपुरम:

एक वकील ने केरल हाईकोर्ट ( Kerala HC ) के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखकर केरल सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के खिलाफ 'नागरिकों के जीवन की रक्षा के लिए' स्वत: संज्ञान लेने के लिए कहा. केरल के मनोनीत सीएम पिनाराई विजयन ने कहा था कि शपथ ग्रहण समारोह में अधिकतम 500 लोगों को अनुमति दी जाएगी. बता दें कि केरल में लगातार दूसरी बार जीतकर बना रहे पी. विजयन की नई कैबिनेट में एक भी पुराने मंत्री को जगह नहीं मिल पाएगी. सीपीआईएम राज्य समिति के बयान के मुताबिक, पी. विजयन को सीपीएम संसदीय दल का नेता चुन लिया गया.

यह भी पढ़ें : सिंगापुर में आया कोरोना बच्चों के लिए बेहद ख़तरनाक, हवाई सेवाएं रद्द हों: केजरीवाल

केरल में दूसरी वाम सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में केवल एक दिन बचा है, ऐसे में एक राजनीतिक संगठन ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर अभूतपूर्व कोविड-19 स्थिति को देखते हुए कार्यक्रम स्थल को राजभवन में स्थानांतरित करने के लिए हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया. डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जॉर्ज सेबेस्टियन ने मुख्य न्यायाधीश को एक पत्र भेजकर संबंधित अधिकारियों को यह निर्देश देने का अनुरोध किया है कि वह समारोह को यहां के सेंट्रल स्टेडियम से राज्यपाल के आधिकारिक निवास, राजभवन में स्थानांतरित करें और कार्यक्रम में शामिल होने वालों की संख्या केवल 50 तक सीमित करें.

यह भी पढ़ें : सीएम ममता ने की राज्यपाल बदलने की मांग, पीएम, राष्ट्रपति को लिखा पत्र

उन्होंने अदालत से अनुरोध किया कि वह महापंजीयक के माध्यम से भेजे गए पत्र को खुद से एक याचिका के रूप में स्वीकार करें. सेबेस्टियन ने यहां एक बयान में कहा कि यह पत्र मुख्य न्यायाधीश को भेजा गया था क्योंकि वह ई-फाइलिंग के संबंध में कुछ विवादों के कारण उच्च न्यायालय में नए मामले दर्ज करने में असमर्थ थे. उन्होंने यह भी कहा कि हालांकि उन्होंने पिछले सप्ताह इस संबंध में राज्यपाल, मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को एक पत्र भेजा था, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई, जिसके बाद उन्होंने अदालत का रुख किया.

यह भी पढ़ें : प्रधानमंत्री मोदी ने एमपी के जन-भागीदारी मॉडल को सराहा, तारीफ में कही ये बात

केरल में पिनाराई विजयन के नेतृत्व वाली नई माकपा नीत एलडीएफ सरकार का शपथ ग्रहण समारोह 20 मई को यहां सेंट्रल स्टेडियम में होना है. विजयन के अनुसार, समारोह कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन करते हुए आयोजित किया जाएगा. समारोह स्टेडियम में 500 आमंत्रित अतिथियों की उपस्थिति में आयोजित किया जाएगा, जिसमें 50,000 लोगों के बैठने की क्षमता है.

First Published : 18 May 2021, 06:23:12 PM

For all the Latest States News, Kerala News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.