News Nation Logo

Lockdown in Kerala: केरल में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते दो दिनों का संपूर्ण लॉकडाउन

Lockdown in Kerala: केरल में बढ़ते कोरोना मामलों के चलते 31 जुलाई व 1 अगस्त को संपूर्ण लॉकडाउन

News Nation Bureau | Edited By : Rajneesh Pandey | Updated on: 29 Jul 2021, 12:48:02 PM
COMPLETE LOCKDOWN IN KERALA

COMPLETE LOCKDOWN IN KERALA (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण केरल में लॉकडाउन
  • दो दिनों 31 जुलाई व 1 अगस्त तक रहेगा लॉकडाउन
  • केरल में बुधवार को कोविड-19 के 22,056 नए मामले

तिरुवनंतपुरम:

Lockdown in Kerala: पूरे देश में जहां कोरोना थमता नजर आ रहा है. वहीं केरल में अब भी लगातार कोरोना के बहुत सारे मामले सामने आ रहे हैं. इस पर सावधानी बरतते हुए केरल की सरकार ने 31 जुलाई व 1 अगस्त को केरल में संपूर्ण लॉकडाउन का आदेश दिया है. केरल में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए भारत सरकार ने एक 6 सदस्यीय स्वास्थ्य टीम को भेज रही है. जिसका नेतृत्व नेशनल सेंटर ऑफ डिजीज कंट्रोल (NCDC) के निदेशक खुद करेंगे. यह 6 सदस्यीय टीम कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने में केरल सरकार की मदद करेगी. ये सारी जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख एल. मंडाविया ने साझा की.

यह भी पढ़ें : केरल के दैनिक कोविड मामले भारत के पॉजिटिव मामलों का 50 प्रतिशत

केरल में कौन-से जिले हैं सबसे ज्यादा प्रभावित

केरल में सबसे अधिक प्रभावित जिलों में मलप्पुरम में 3931, त्रिशूर में 3005, कोझिकोड में 2400, एर्नाकुलम में 2397, पलक्कड़ में 1649, कोल्लम में 1462, अलाप्पुझा में 1461, कन्नूर में 1179, तिरुवनंतपुरम में 1101 और कोट्टायम में 1067 मामले आए हैं.

क्या कहते हैं आंकड़े?

केरल में बुधवार को कोविड-19 के 22,056 नए मामले सामने आए, जिससे संक्रमण के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 33,27,301 हो गई, जबकि 131 और लोगों की मौत होने के साथ वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 16,457 हो गई. राज्य सरकार की ओर से जारी आंकड़ों में कहा गया कि 17,761 लोग संक्रमण से ठीक हुए, जिससे अब तक कुल ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 31,60,804 हो गई है. राज्य में अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,49,534 हो गई है.

लॉकडाउन में ढील पर उच्चतम न्यायालय ने जताई थी नाराजगी

मिली जानकारी के अनुसार, हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने केरल में मनाए गए ईद को 'सुपर स्प्रेडर इवेंट्स' बताया था और राज्य सरकार को पत्र भी लिखा था.  राजेश भूषण ने कहा कि कोरोना के दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालने करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि त्योहारों अथवा सामाजिक समारोहों के दौरान कोरोना के नियमों का सख्ती से पालन कराए जाने की आवश्यकता है ताकि इस विश्वव्यापी महामारी पर काबू पाया जा सके. मालूम हो कि केरल सरकार ने ईद के दौरान राज्य में लॉकडाउन में ढील दे दी थी, जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने भी नाराजगी जताई थी.

First Published : 29 Jul 2021, 10:18:31 AM

For all the Latest States News, Kerala News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.