News Nation Logo
Banner

Tokyo Olympics 2020 Updates : इतिहास रचने से चूकीं कमलप्रीत कौर, डिस्कस थ्रो फाइनल में छठे स्थान पर रहीं Live

टोक्‍यो ओलंपिक 2020 का आज 11वां है. भारतीय खिलाड़ी अभी तक दो पदक अपने नाम कर चुके हैं और अभी भी कुछ और पदक भारतीय टीम की झोली में आ सकते हैं. आज भी कई खिलाड़ी अलग अलग खेलों में जोरआजमाइश करेंगे.

Sports Desk | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 02 Aug 2021, 06:45:01 PM
Olympics 2021 update

Olympics 2021 update (Photo Credit: IANS)

नई दिल्‍ली :

टोक्‍यो ओलंपिक 2020 का आज 11वां है. भारतीय खिलाड़ी अभी तक दो पदक अपने नाम कर चुके हैं और अभी भी कुछ और पदक भारतीय टीम की झोली में आ सकते हैं. आज भी कई खिलाड़ी अलग अलग खेलों में जोरआजमाइश करेंगे. इसमें सबसे प्रमुख होगा. आज जिन महत्‍वपूर्ण खेलों में भारतीय खिलाड़ी दिखाई देंगे, उसमें सुबह आठ बजे से संजीव राजपूत और एश्‍वर्य प्रताप सिंह तोमर 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन क्‍वालीफेशन में उतरेगे. ये मुकाबला दोपहर बाद डेढ़ बजे से होगा.  इसके अलावा आज सुबह साढ़े आठ बजे से भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच हॉकी का मुकाबला होना है. ये क्‍वार्टर फाइनल मैच होगा. इससे पहले पुरुषों की हॉकी टीम सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है. टीम अगर एक मैच और जीत लेती है तो पदक पक्‍का हो जाएगा. वहीं महिला टीम अगर आज का मैच जीत लेती है तो ये भी टीम के लिए बड़ी उपलब्‍धि होगी. 

भारत की कमलप्रीत कौर इतिहास रचने से चूक गई हैं. कमलप्रीत डिस्कस थ्रो के फाइनल में छठे स्थान पर रही हैं. दरअसल, कमलप्रीत के तीन थ्रो फाउल रहे और उनका सर्वश्रेष्ठ थ्रो 63.70 मीटर का रहा. 

टोक्यो ओलंपिक में महिला डिस्कस थ्रो का फाइनल शुरू हो गया है. कमलप्रीत ने शानदार शुरुआत करते हुए पहले प्रयास में 61.62 मीटर चक्का फेंका है.

घुड़सवारी में भारत के लिए एक अच्छी खबर आई है. फौआद मिर्ज़ा ने जंपिंग इवेंट के फाइनल के लिए क्वालिफाई कर लिया है. फौआद क्वालिफिकेशन राउंड में 25वें पायदान पर रहे.

रूस ओलंपिक समिति (आरओसी) के सरगे कामेंस्की 1183 के स्कोर के साथ क्वालीफिकेशन में शीर्ष पर रहे. अन्य फाइनलिस्टों में चीन के चांगहोंग झांग, नॉर्वे के जोन हरमान हेग, सर्बिया के मिलेंको सेबिक, क्रोएशिया के मिरान मारिचिक, यूक्रेन के सेरही कुलिश, क्रोएशिया के पेटार गोरश और बेलारूस के यूरी शचेरबात्सेविच रहे.

भारतीय राइफल शूटिंग टीम के एश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और संजीव राजपूत यहां चल रहे टोक्यो ओलंपिक के पुरुष 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन के फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहे हैं. पिछले साल नई दिल्ली आईएसएसएफ विश्व कप में स्वर्ण पदक जीत चुके एश्वर्य 1167 का स्कोर कर 21वें स्थान पर रहे जबकि संजीव 1157 के स्कोर के साथ 32वें नंबर पर रहे.

दुनिया की नौवें नम्बर की भारतीय टीम ने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए दुनिया की नम्बर-2 आस्ट्रेलिया को हराया और पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंची. अब उसका सामना 4 अगस्त को वर्ल्ड नम्बर-5 अर्जेटीना से होगा, जिसने जर्मनी को हराया.

भारत अपने तीसरे ओलंपिक में खेल रहा है. मास्को (1980) के 36 साल के बाद उसने रियो ओलंपिक (2016) के लिए क्वालीफाई किया था. मास्को ओलंपिक में महिला हॉकी टूर्नामेंट 25 जुलाई से शुरू होकर 31 जुलाई तक चला था. इसमें सिर्फ छह टीमों ने हिस्सा लिया था. जिम्बाब्वे ने पूल चरण के समापन पर पूल के शीर्ष पर स्वर्ण पदक जीता. चेकोस्लोवाकिया और सोवियत संघ ने क्रमश: रजत और कांस्य पदक जीता. भारत ने पूल में पांच मैचों में दो जीत हासिल की थी. उसका एक मैच ड्रॉ रहा था जबकि उसे दो मैचों में हार मिली थी. पांच अंकों के साथ भारत अंतिम रूप से चौथे स्थान पर रहा था. इसके बाद भारत ने 2016 के रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया लेकिन वह 12 टीमों के टूर्नमेंट में अंतिम स्थान पर रही थी. भारत को पूल स्तर पर पांच मैचों में सिर्फ एक ड्रॉ नसीब हुआ था.

भारत की महिला हॉकी टीम ने इतिहास रच दिया है. उसने अपने से कहीं अधिक मजबूत आस्ट्रेलिया को 1-0 से हराकर टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. महिला टीम पहली बार सेमीफाइनल में पहुंची है. ओई हॉकी स्टेडियम नॉर्थ पिच -2 पर खेले गए इस एतिहासिक मैच में हाकेरूज नाम से मशहूर आस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ मैच का एकमात्र गोल 22वें मिनट में गुरजीत कौर ने किया. यह गोल पेनाल्टी कार्नर पर हुआ. दुनिया की नौवें नम्बर की भारतीय टीम ने तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए दुनिया की नम्बर-2 आस्ट्रेलिया को हराया और पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंची. 

ऑस्‍ट्रेलिया को हराकर महिला हॉकी टीम सेमीफाइनल में

भारतीय महिला हॉकी टीम 1-0 से आगे 

इस साल मार्च में पटियाला में आयोजित फेडरेशन कप के दौरान 65 मीटर का मार्क हासिल करने वाली एकमात्र भारतीय कमलप्रीत के अलावा अमेरिका की वेराले अलामान (66.42) ऑटोमेटिक क्वालीफाईंग मार्क हासिल कर सकी थीं.

ओलंपिक स्टेडियम में आज भारत की कमलप्रीत कौर इतिहास रचने उतरेंगी. डिस्कस थ्रो फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी भारतीय बनकर वह पहले ही अपना नाम हिस्ट्रीबुक में दर्ज करा चुकी हैं लेकिन अब उनके सामने खुद को लेजेंड बनाने का वक्त है और यह पदक जीतने के उनके सपने के सात पूरा हो सकता है. कमलप्रीत ने 31 जुलाई को क्वालीफाईंग में 64 मीटर के आटोमेटिक मार्क को छुआ था. ऐसा करने वाली वह सिर्फ दूसरी एथलीट थीं.

100 मीटर के बाद अब 200 मीटर में भी भारत की एकमात्र फर्राटा धाविका दुती चंद को निराशा मिली है. दुती का टोक्यो ओलंपिक का सफर अब समाप्त हो गया है। दुती इससे पहले 100 मीटर हीट्स से ही बाहर हो गई थीं और अब सोमवार को ओलंपिक स्टेडियम में आयोजित 200 हीट्स में सीजन बेस्ट समय निकालने के बावजूद भी वह नाकाम रहीं. दुती को हीट नम्बर-4 में सात खिलाड़ियों के बीच सातवां स्थान मिला. उनके ग्रुप से तीन खिलाड़ी आगे बढ़े जबकि दुती का सफर यहीं समाप्त हो गया.
दुती ने 200 मीटर की दूरी नापने के लिए 23.85 सेकेंड का समय लिया. उनका रिएक्शन टाइम 0.140 रहा, जो सबसे अधिक है. दुती के ग्रुप में नामीबिया की क्रिस्टीन मोमा ने 0.275 रिएक्शन टाइम और 22.11 सेकेंड के साथ पहला स्थान हासिल किया.

First Published : 02 Aug 2021, 08:13:33 AM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.