News Nation Logo
Banner

सचिन तेंदुलकर के शतकों के शतक से भी ज्‍यादा शतक लगा चुके हैं ये बल्‍लेबाज, नाम देखकर चौंक जाएंगे आप

Bhasha | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 21 Apr 2020, 02:54:55 PM
sachin sachin

सचिन तेंदुलकर Sachin Tendulkar (Photo Credit: फाइल फोटो)

New Delhi:  

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)शतकों का शतक पूरा करने वाले दुनिया के पहले और एकमात्र बल्लेबाज हैं, लेकिन प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 100 से अधिक सैकड़े जमाने वाले 25 बल्लेबाजों में कोई भी भारतीय शामिल नहीं है. फिलहाल भारत के किसी क्रिकेटर के इस सूची शामिल होने की संभावना भी नहीं है. सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट में 51 और एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 49 शतक लगाकर 16 मार्च 2012 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों का शतक पूरा किया था. मास्टर ब्लास्टर ने हालांकि प्रथम श्रेणी मैचों में केवल 81 शतक लगाए हैं.

यह भी पढ़ें ः शोएब अख्‍तर ने कर दी भविष्‍यवाणी, जानिए अब कब तक नहीं होगा क्रिकेट

सुनील गावस्कर के नाम पर भी प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 81 सैकड़े दर्ज हैं और इस मामले में भारतीय रिकार्ड मुंबई के इन दोनों ‘लिटिल मास्टर्स’ के नाम पर दर्ज है. सचिन तेंदुलकर ने वैसे प्रथम श्रेणी, लिस्ट ए और T20 तीनों प्रारूपों में कुल मिलाकर 142 शतक लगाए हैं. प्रथम श्रेणी मैचों में सर्वाधिक शतक लगाने का रिकार्ड इंग्लैंड के जैक हाब्स के नाम पर है जिनके नाम पर 199 शतक दर्ज हैं. सचिन तेंदुलकर के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों के रिकार्ड की तरफ विराट कोहली 70 शतक तेजी से बढ़ रहे हैं, लेकिन हाब्स के नाम पर ऐसा रिकार्ड है जो शायद हमेशा अछूता रहेगा. भारत में पहला प्रथम श्रेणी मैच 1864 में मद्रास और कलकत्ता के बीच खेला गया था, लेकिन अब तक उसके केवल नौ बल्लेबाज ही इस प्रारूप में 50 या इससे अधिक शतक लगाए हैं. इनमें से अभी केवल चेतेश्वर पुजारा खेल रहे हैं, जिनके नाम पर प्रथम श्रेणी मैचों में 50 शतक दर्ज हैं. 32 साल के चेतेश्‍वर पुजारा 15 साल के अपने प्रथम श्रेणी करियर में इस मुकाम पर पहुंच पाए हैं. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूप में मिलकर 70 शतक लगा लिए हों लेकिन प्रथम श्रेणी मैचों में उनके नाम पर 34 शतक ही दर्ज हैं. इनमें से 27 शतक उन्होंने टेस्ट मैचों में लगाए हैं. भारत के अन्य प्रमुख सक्रिय बल्लेबाजों में अंजिक्य रहाणे ने प्रथम श्रेणी मैचों में 33, शिखर धवन ने 25 और रोहित शर्मा ने 23 शतक लगाए हैं.

यह भी पढ़ें ः जब अचानक थाने जा पहुंची पहलवान बबीता फोगाट, जानें फिर क्‍या हुआ

प्रथम श्रेणी मैचों में भारत के जिन बल्लेबाजों ने 50 या इससे अधिक शतक लगाए हैं उनमें सचिन तेंदुलकर और गावस्कर (दोनों 81), राहुल द्रविड (68), विजय हजारे (60), वसीम जाफर (57), दिलीप वेंगसरकर और वीवीएस लक्ष्मण (दोनों 55), मोहम्मद अजहरूद्दीन (54) और चेतेश्‍वर पुजारा (50) शामिल हैं. प्रथम श्रेणी मैचों में 100 से अधिक शतक लगाने वाले 25 बल्लेबाजों में इंग्लैंड के 21 बल्लेबाज शामिल हैं. इंग्लैंड में 1772 से प्रथम श्रेणी मैच खेले जा रहे हैं और वहां निरंतर काउंटी क्रिकेट होती रही है. शतकों की सूची में शामिल उसके अधिकतर बल्लेबाजों ने उस जमाने में क्रिकेट खेली थी जबकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की तुलना में प्रथम श्रेणी मैच अधिक खेले जाते थे. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में शतकों का शतक पूरा करने वाले पहले बल्लेबाज डब्ल्यूजी ग्रेस थे, जिन्होंने 30 मई 1895 को यह उपलब्धि हासिल की थी. टेस्ट क्रिकेट में नाकाम लेकिन काउंटी मैचों में बेहद सफल मार्क रामप्रकाश इस सूची में जुड़ने वाले अंतिम बल्लेबाज थे. उन्होंने दो अगस्त 2008 को इस सूची में अपना नाम लिखवाया था. आस्ट्रेलिया के डॉन ब्रैडमैन (117 शतक), वेस्टइंडीज के विव रिचर्ड्स (114), पाकिस्तान के जहीर अब्बास (108) और न्यूजीलैंड के ग्लेन टर्नर (103) भी प्रथम श्रेणी मैचों में शतकों का शतक लगा चुके हैं लेकिन भारत की तरह दक्षिण अफ्रीका या श्रीलंका का कोई भी बल्लेबाज इस मुकाम पर नहीं पहुंचा है. प्रथम श्रेणी मैचों में सर्वाधिक शतक का दक्षिण अफ्रीकी रिकार्ड बैरी रिचर्ड्स (80) और श्रीलंकाई रिकार्ड कुमार संगकारा (64) के नाम पर है.

First Published : 21 Apr 2020, 02:54:55 PM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.