News Nation Logo

BREAKING

प्रो-कबड्डी लीग: फाइनल की आखिरी रेस, क्वालीफायर-2 में पटना पाइरेट्स और बंगाल वॉरियर्स में भिड़ंत आज

दोनों टीमों के लिए यह मैच 'करो या मरो' का होगा क्योंकि दोनों के लिए ही यह मैच फाइनल में पहुंचने का आखिरी मौका है।

IANS | Updated on: 26 Oct 2017, 02:17:08 PM
पटना और बंगाल में भिड़ंत (प्रतिकात्मक तस्वीर)

पटना और बंगाल में भिड़ंत (प्रतिकात्मक तस्वीर)

highlights

  • दोनों टीमों के लिए 'करो या मरो' का मैच, फाइनल में पहुंचने का आखिरी मौका
  • गुजरात फार्च्यूनजाएंट्स पहले ही फाइनल में, बंगाल को मात देकर फाइनल में किया प्रवेश

नई दिल्ली:

पटना पाइरेट्स और बंगाल वॉरियर्स की टीमें प्रो-कबड्डी लीग सीजन-5 में गुरुवार शाम क्वालीफायर-2 मैच के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

दोनों टीमों के लिए यह मैच 'करो या मरो' का होगा क्योंकि दोनों के लिए ही यह मैच फाइनल में पहुंचने का आखिरी मौका है।

इसलिए, रोमांचक मुकाबले की उम्मीद की जा रही है। लीग में शामिल हुई चार नई टीमों में से एक गुजरात फार्च्यूनजाएंट्स ने अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर फाइनल में प्रवेश कर लिया है।

गुजरात ने मंगलवार को खेले गए क्वालीफायर-1 मैच में बंगाल को मात देकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया था। गुजरात से मिली हार के बाद जोन-बी में शीर्ष पर काबिज रही बंगाल के पास क्वालीफायर-2 के जरिए फाइनल में प्रवेश करने का एक और मौका है।

यह भी पढ़ें: फ्रेंच ओपन सुपरसीरीज: सिंधु, सायना और श्रीकांत दूसरे दौर में, कश्यप बाहर

पटना ने मंगलवार को ही एलिमिनेटर-3 में पुनेरी पल्टन को मात देकर क्वालीफायर-2 में प्रवेश किया था। वह इस सीजन में खिताबी जीत हासिल कर हैट्रिक मारना चाहेगी। सीजन-3 और सीजन-4 में उसने लीग का खिताब अपने नाम किया था।

इस लीग में पटना और बंगाल के बीच अब तक खेले गए तीन मुकाबलों पर नजर डाली जाए, तो 25 अगस्त को खेला गया पहला मैच दोनों टीमों के बीच 36-36 से ड्रॉ हुआ था।

इसके बाद, एक सितम्बर को खेले गए दूसरे मैच में बंगाल ने पटना को 41-35 से हराया था, वहीं, तीसरा मैच भी 17 सितम्बर को दोनों टीमों के बीच 37-37 से ड्रॉ हुआ। ऐसे में माना जा रहा है कि दोनों के बीच क्वालीफायर-2 का मैच रोमांचक रहेगा।

बंगाल के खिलाफ इस अहम मैच के बारे में पटना के कप्तान प्रदीप नरवाल ने आईएएनएस से कहा, 'मैट पर मैच क्या रुख लेता है, यह तो मैच के दिन ही पता चलेगा लेकिन अगर हमें जीत हासिल करनी है तो हमें ओर से अच्छा प्रदर्शन करना होगा।'

यह भी पढ़ें: फीफा यू-17 विश्व कप : खिताबी मुकाबले में आमने-सामने होंगे इंग्लैंड और स्पेन

प्रदीप ने कहा, 'मेरी टीम में रेडिंग की जिम्मेदारी मैं और मोनू गोयट मुख्य रूप से संभालेंगे। हमें अपने कमजोर डिफेंस को बेहतर करना होगा। फाइनल में पहुंचना है, तो बंगाल के खिलाफ डिफेंस का मजबूत होना बहुत जरूरी है।'

बंगाल की टीम पर नजर डाली जाए, तो इसका नेतृत्व एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक हासिल करने वाली कबड्डी टीम का हिस्सा रहे डिफेंडर सुरजीत सिंह कर रहे हैं। ऐसे में बंगाल के डिफेंस को भेदना प्रदीप की टीम के लिए थोड़ा मुश्किल होगा।

इस बारे में प्रदीप का कहना है कि वह अपने अच्छे रेडर मोनू गोयट के साथ मिलकर बंगाल के डिफेंस को कमजोर करने का भरसक प्रयास करेंगे।

बंगाल के पास मनिंदर, दीपक नरवाल और जांग कुन ली के रूप अच्छे रेडर भी हैं, जो पटना के डिफेंस पर भारी पड़ सकते हैं। ऐसे में बंगाल की टीम अपनी पहली खिताबी जीत की ओर बढ़ने के लिए पटना के कमजोर डिफेंस से फायदा उठाने की पूरी कोशिश करेगी।

यह भी पढ़ें: B'day: 'टिप टिप बरसा पानी' से छा गई थीं रवीना टंडन, अफेयर की खूब हुई चर्चा

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 26 Oct 2017, 01:58:38 PM