News Nation Logo
Banner

नीरज चोपड़ा की जीत की खबर मिलते ही छलक आए पिता के आंसू, मुंह से निकली यह बात

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने गोल्ड झटक लिया है. देश के लाल नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में इतिहात रच दिया है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 07 Aug 2021, 06:47:43 PM
Olympic: Neeraj Chopra

Olympic: Neeraj Chopra (Photo Credit: google)

नई दिल्ली:  

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने गोल्ड झटक लिया है. देश के लाल नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में इतिहात रच दिया है. देशभर में नीरज चोपड़ा की जीत की खुशियां मनाईं जा रही हैं. उनके गृह राज्य हरियाणा में ढोल नगाड़े बजाए जा रहे हैं, खुशियां मनाईं जा रही हैं और मिठाइयां बांटी जा रही हैं. वहीं, नीरज के परिवार में भी बेहद खुशी का माहौल है. परिवार में त्योहार जैसा माहौल है. इस बीच नीरज चोपड़ा की मां, बहन और दादी का नाचते हुए वीडियो वायरल हो रहा है. 

यह खबर भी पढ़ें- ओलंपिक में गोल्ड मिलते ही खुश हो गए PM मोदी, नीरज चोपड़ा को ऐसे दी बधाई

इस बीच नीरज चोपड़ा के पिता का बयान आया है. नीरज के पिता ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मेरे बेटे के प्रयास से देश का सपना पूरा हुआ है. उनके प्रशिक्षण के स्तर को देखने के बाद हमें इस पदक पर यकीन हो गया था. आपको बता दें कि भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। वह देश के लिए व्यक्तिगत स्वर्ण जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी और पहले एथलीट हैं. नीरज की इस सफलता के साथ भारत 1 स्वर्ण, 2 रजत और चार कांस्य के साथ टोक्यो ओलंपिक का समापन करेगा. नीरज ने अपने दूसरे प्रयास में 87.58 मीटर की दूरी के साथ पहला स्थान हासिल किया। 86.67 मीटर के साथ चेक गणराज्य के याकुब वाल्देज दूसरे स्थान पर रहे जबकि उनके ही देश के विटेस्लाव वेसेली को 85.44 मीटर के साथ कांस्य मिला.

यह भी पढ़ें: संजय दत्त की जगह ये एक्टर बनने वाला था 'खलनायक', संजू को ऐसे मिली फिल्म

नीरज से पहले अभिनव बिंद्रा ने 13 साल पहले बीजिंग ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता था. अभिनव ने हालांकि यह स्वर्ण निशानेबाजी में जीता था. यहां टोक्यो में नीरज ने जो किया है वह ऐतिहासिक है क्योंकि इससे पहले भारत को ओलंपिक में एथलेटिक्स इवेंट्स में कभी कोई पदक नहीं मिला. बिंद्रा के नाम कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स और ओलंपिक में पदक जुड़ गया है। वह तीनों इवेंट्स में मौजूदा चैम्पियन हैं. नीरज ने अपने पहले प्रयास में 87.03 की दूरी नापी और लीडरबोर्ड में पहले स्थान पर पहुंच गए. दूसरे प्रयास में नीरज ने 87.58 भाला फेंका और लीडरबोर्ड पर खुद को मजबूत किया और एक लिहाज से पदक पक्का कर लिया.

First Published : 07 Aug 2021, 06:45:57 PM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.