News Nation Logo

Neeraj Chopra: डायमंड लीग जीतकर नीरज चोपड़ा ने रचा इतिहास, ट्रॉफी जीतने वाले पहले भारतीय

Written By : रोशनी सिंह | Edited By : Roshni Singh | Updated on: 09 Sep 2022, 08:23:34 AM
KBR3DK46CBKGTOMDYZQ5LBGVFE

Neeraj Chopra (Photo Credit: Social Media)

नई दिल्ली:  

Neeraj Chopra Diamond League Final: भारत (India) के स्टार जैवलिन थ्रोअर (Javelin Thrower) नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) का शानदार प्रदर्शन जारी है. शुक्रवार को उन्होंने ज्यूरिख (zurich) में डायमंड लीग (Diamond League) ट्रॉफी जीतकर इतिहास रच दिया. ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट (Olympic Gold Medalist) नीरज चोपड़ा ने शुक्रवार को 88.44 मीटर दूर भाला फेंककर इस खिताब को अपने नाम कर लिया. वे इस प्रतिष्ठित खिताब जीतने वाले पहले भारतीय एथलीट बन गए हैं. नीरज ने डायमंड लीग की फाइनल में साल 2017 और 2018 में क्वालीफाई किया था. मगर वह टॉप 5 से बाहर हो गए थे. इस बार नीरज ने ट्रॉफी जीतकर इतिहास रच दिया है. 

नीरज की डायमंड लीग फाइनल में अच्छी शुरुआत नहीं थी. उन्होंने अपने फाइनल का आगाज फाउल के साथ किया था. वे इस लिस्ट में सबसे निचले पायदान पर थे. मगर अगले ही प्रयास में नीरज ने 88.44 मीटर दूर भाला फेंककर पहला स्थान हासिल कर लिया. नीरज ने इसके बाद तीसरे प्रयास में 88.00 मीटर और चौथे में 86.11 मीटर पांचवें में 87.00 मीटर और छठे प्रयास में 83.60 मीटर दूरी पर जैवलिन थ्रो किया. 

यह भी पढ़ें: Virat Kohli Century: तीन साल बाद विराट के बल्ले से निकला 71वां शतक, T20I का पहला शतक

नीरज से एक पायदान पीछे चेक गणराज्य के जैकब वाडलेच ने 86.94 मीटर थ्रो किया. वहीं जर्मनी (Germany) के जूलियन वेबर ने 83.73 मीटर की दूरी तय कर तीसरा स्थान पाया. भारत के गोल्डन ब्वॉय नीरज चोपड़ा के बीते कुछ साल से शानदान प्रदर्शन कर रहे हैं. 2021 ओलंपिक में स्वर्ण जीतने से पहले उन्होंने 2018 में एशियाई खेलों में स्वर्ण जीता था. इस साल विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में उन्होंने रजत पदक पर कब्जा जमाया था. नीरज चोटिल होने की वजह से इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले गए कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा नहीं ले पाए थे. चोट से उबरते ही उन्होंने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा है.

संयुक्त अमेरिका में वर्ल्ड चैंपियनशिप रजत पदक जीतने में चोटिल हो गए थे. स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा चोट की वजह से एक महीने तक खेल से बाहर रहने बाद शानदार वापसी की है. वह लुसाने डायमंड लीग जीतने वाले पहले भारतीय बने थे. 24 साल के इस खिलाड़ी ने चोट से उबरने के बाद तुरंत फॉर्म हासिल किया. उन्होंने लुसाने में 26 जुलाई को अपने पहले ही प्रयास में 89.08 मीटर तक फाला फेंककर ट्रॉफी अपने नाम कर लिया था.

First Published : 09 Sep 2022, 08:16:57 AM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.