News Nation Logo
Banner

राष्ट्रमंडल निशानेबाजी और तीरंदाजी प्रतियोगिताओं की मेजबानी के लिये सरकार ने दी मंजूरी

इस सप्ताह के शुरू में आईओए ने निशानेबाजी को हटाये जाने के कारण बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के बहिष्कार की धमकी वापस ले ली थी.

Bhasha | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 04 Jan 2020, 06:31:31 PM
भारतीय ओलंपिक संघ

भारतीय ओलंपिक संघ (Photo Credit: IOA)

दिल्ली:  

सरकार ने मार्च 2022 में राष्ट्रमंडल निशानेबाजी चैंपियनशिप और तीरंदाजी प्रतियोगिताओं की मेजबानी करने के भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के प्रस्ताव को शनिवार को ‘सैद्वांतिक’ तौर पर मंजूरी दे दी. ये दोनों ही खेल बर्मिघम में 2022 में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों का हिस्सा नहीं हैं.

ये भी पढ़ें- इरफान पठान ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास, 2012 में खेला था आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच

इस सप्ताह के शुरू में आईओए ने निशानेबाजी को हटाये जाने के कारण बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के बहिष्कार की धमकी वापस ले ली थी और उसने निशानेबाजी चैंपियनशिप की मेजबानी का औपचारिक प्रस्ताव भेजने का फैसला किया जिसमें जीते गये पदक राष्ट्रमंडल खेल 2022 की पदक तालिका में जोड़े जाएं.

ये भी पढ़ें- CAA पर विराट कोहली ने कहा- बिना जानकारी के कानून पर टिप्पणी करना सही नहीं

मंत्रालय ने पत्र में लिखा है, ‘‘मुझे भारतीय ओलंपिक संघ के मार्च 2022 में भारत में राष्ट्रमंडल निशानेबाजी और तीरंदाजी प्रतियोगिताओं के आयोजन के संबंध में एक जनवरी 2020 को भेजे गये पत्र के संदर्भ में सरकार के ‘सैद्धांतिक तौर पर मंजूरी’ देने के बारे में बताने का निर्देश दिया गया है.’’

आईओए ने शुक्रवार को राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के अध्यक्ष डोम लुईस मार्टिन को पत्र लिखकर निशानेबाजी और तीरंदाजी प्रतियोगितों की मेजबानी की लागत के बारे में बताया था.

First Published : 04 Jan 2020, 06:31:31 PM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.