News Nation Logo
Banner
Banner

मुक्केबाजी ओलम्पिक क्वालीफायर: विकास और पूजा को ओलंपिक टिकट, सचिन हारे

एशियाई चैंपियन पूजा ने महिलाओं की 75 किग्रा मुकाबले में थाईलैंड की पोम्नीपा क्यूटी को एकतरफा अंदाज में 5-0 से करारी मात देकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की.

IANS | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 08 Mar 2020, 06:21:52 PM
vikas krishan

विकास कृष्ण (Photo Credit: https://twitter.com)

अम्मान:

भारतीय मुक्केबाज विकास कृष्ण और पूजा रानी ने रविवार को यहां जारी एशिया/ओसनिया ओलम्पिक क्वालीफायर के अपने-अपने भार वर्ग के क्वार्टर फाइनल में जीत दर्ज करके आगामी टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल कर लिया. सचिन कुमार को हालांकि 81 किग्रा वर्ग में हार का सामना करना पड़ा. सचिन को चीन के देक्सियान चेंग ने 3-2 से हराया. सचिन को अभी भी ओलंपिक क्वालीफाई करने का मौका मिल सकता है. बॉक्स ऑफ के जरिए वह अपना ओलंपिक खेलने का सपना पूरा कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- Women T20 World Cup: ताश के पत्तों की तरह ढह गई टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया ने 5वीं बार जीता विश्व कप

एशियाई चैंपियन पूजा ने सेमीफाइनल में पक्की की जगह
मौजूदा एशियाई चैंपियन पूजा ने महिलाओं की 75 किग्रा मुकाबले में थाईलैंड की पोम्नीपा क्यूटी को एकतरफा अंदाज में 5-0 से करारी मात देकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की और देश के लिए मुक्केबाजी में पहला ओलंपिक कोटा हासिल किया. पूजा ने इस जीत के बाद कहा, "मैं पहले कभी भी क्यूटी के खिलाफ नहीं लड़ी थी, इसलिए मन में थोड़ा डर था. लेकिन सबने मुझसे कहा कि जाओ और अपना मुकाबला लड़ो, हम आपकी मदद करेंगे. इसके बाद मैंने अपने मुकाबले पर ध्यान दिया और मैंने एकतरफा जीत हासिल की."

ये भी पढ़ें- IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान, इन खिलाड़ियों की हुई वापसी

विकास ने जीता एकतरफा मुकाबला
उन्होंने कहा, "टोक्यो ओंलपिक के लिए क्वालीफाई करके मुझे बहुत अच्छा लग रहा है. आज अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस भी है, इसलिए मेरी यह जीत सभी महिलाओं को समर्पित है और उन्हें इसकी बधाई. मैं अपने इस बेहतरीन प्रदर्शन के लिए मैं अपने कोचों को भी धन्यवाद देना चाहती हूं." विकास ने पुरुषों के 69 किग्रा में जापान के सेवोनरेटस ओजाका को एकतरफा अंदाज में 5-0 से मात दी. विकास तीसरी बार ओलंपिक कोटा हासिल करने में सफल रहे हैं. वह टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा पाने वाले पहले भारत के पहले पुरुष मुक्केबाज बन गए हैं.

ये भी पढ़ें- विश्व कप फाइनल खेलने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बनी शेफाली वर्मा

विकास ने इस मुकाबले में डिफेंसिव रहकर खेलना पसंद किया. यह आइडिया उनके काम आया और वह काफी आक्रामक हो रहे ओजाका के खिलाफ अंक बटोरने में सफल रहे. विकास ने ओजाका के शरीर पर कई अच्छे प्रहार किए. लवलीना बोर्गोहेन (69 किग्रा), आशीष कुमार (75 किग्रा) और सतीष कुमार (91 प्लस किग्रा) रविवार को ही अपनी चुनौती पेश करेंगे.

First Published : 08 Mar 2020, 06:21:52 PM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो