News Nation Logo

IPL : आठ टीमें भी काफी, लेकिन नए फ्रेंचाइजी होने से होगा फायदा

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में नई टीमों को लाने पर चर्चा लंबे समय से चल रही है. निगाह इस पर है कि 2021 सीजन में आईपीएल में टीमों की संख्या बढ़ती है या नहीं, लेकिन राजस्थान रॉयल्स के मालिक मनोज बडाले को लगता है कि नई टीमों के आने से खेल को फायदा होगा.

IANS | Updated on: 26 Dec 2019, 10:14:00 AM
आईपीएल ट्रॉफी

आईपीएल ट्रॉफी (Photo Credit: आईएएनएस)

New Delhi:

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में नई टीमों को लाने पर चर्चा लंबे समय से चल रही है. निगाह इस पर है कि 2021 सीजन में आईपीएल में टीमों की संख्या बढ़ती है या नहीं, लेकिन राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के मालिक मनोज बडाले (Manoj Badale) को लगता है कि नई टीमों के आने से खेल को फायदा होगा. मनोज बडाले ने आगामी सीजन को लेकर भी चर्चा की. आईपीएल में नई टीमों को लेकर उन्होंने कहा, हमें लगता है कि आईपीएल में समय सीमा और बाकी चीजों को देखते हुए आठ टीमों की संख्या फ्रेंचाइजी और सितारों के लिए अच्छी है. लेकिन, कुछ नए फ्रेंचाइजी लाने से आपको नए स्टेडियम में खेलने, नए प्रशंसकों से जुड़ने और ज्यादा मैच खेलने का मौका मिलेगा, जो निश्चित तौर पर खेल के लिए बेहतर होगा. 

यह भी पढ़ें ः दशक का सर्वश्रेष्ठ कप्तान कौन, जवाब मिला महेंद्र सिंह धोनी

फ्रेंचाइजियों के अंतरराष्‍ट्रीय स्तर पर दोस्ताना मैच खेलने और लीग में पावर प्लेयर को लाने के मामले में भी बडाले ने अपने विचार रखे और कहा कि प्रयोग करने का मौका हमेशा होता है और विदेशी जमीन पर दोस्ताना मैच का विचार ऐसा है जिसे गंभीरता से लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, हमने पहला और अभी तक का इकलौता अंतरराष्‍ट्रीय दोस्ताना मैच लॉर्ड्स में 2009 में मिडिलसेक्स के साथ खेला था. हम हर साल इस तरह के दोस्ताना मैच खेलना पसंद करेंगे. उन्होंने कहा, जहां तक पावर प्लेयर की बात है तो यह निश्चित तौर पर दिलचस्प प्रयोग है, लेकिन इस पर टिप्पणी करने से पहले मुझे देखना होगा कि यह किस तरह से काम करेगा.

यह भी पढ़ें ः केएल राहुल के सामने शिखर धवन ने रखी बड़ी चुनौती, अब क्‍या होगा

आमतौर पर यह माना जाता है कि फ्रेंचाइजी के मालिक क्रिकेट संबंधी गतिविधियों में दखल देते हैं लेकिन बडाले इन सभी से दूर रहे हैं और मानते हैं कि यह उनका कार्यक्षेत्र नहीं है. उन्होंने कहा, यह भी बाकी व्यवसायों की तरह ही है जहां आपको संगठन को चलाने के लिए पेशेवर लोगों पर निर्भर रहना होता है. हमारे पास बेहतरीन कोचिंग स्टाफ और कप्तान हैं जिनको पता है कि इस टीम को सफल कैसे बनाना है. उन्होंने कहा, यह कोच और कप्तान का काम है कि वह मुश्किल समय में टीम को प्रेरित करें. मैं मैच के बाद हल्की फुल्की बातों के लिए हमेशा मौजूद रहूंगा. मेरा काम हमारी फ्रेंचाइजी की संस्कृति, मूल्यों को बनाए रखना है. टीम को पूरी स्वतंत्रता देने के बाद भी अगर टीम अच्छा नहीं करती है तो क्या उन्हें गुस्सा आता है? इस पर बडाले ने कहा, हां कुछ ऐसा समय रहा है जहां गुस्सा आता था लेकिन यह खेला का हिस्सा है. रास्ते में इस तरह की चुनौतियां आती हैं लेकिन इस बार हमारे पास शानदार कोच और कप्तान हैं और एक बेहतरीन युवा टीम जो लंबे समय तक प्रतिस्पर्धा कर सकती है. आईपीएल बेहतरीन टूर्नामेंट है जो पूरे विश्व में अलग है. हमारे प्रशंसक शानदार हैं और जो भी परिणाम आते हैं, उनका समर्थन हमेशा रहता है और वे हमें लगातार प्रेरित करते रहते हैं.

यह भी पढ़ें ः Gabbar is Back : वापसी के बाद इस खिलाड़ी ने पहले ही मैच में जड़ दिया नाबाद शतक

राजस्थान ने अपने नेतृत्व में कई तरह के बदलाव किए हैं लेकिन वह स्टीव स्मिथ के साथ बनी हुई है. इस साल उसने स्मिथ के हमवतन एंड्रयू मैक्डोनाल्ड को टीम का मुख्य कोच बनाया है. बडाले को लगता है कि इन दोनों के पास टीम से बेहतर निकलवाने की क्षमता है. उन्होंने कहा, हम जानते हैं कि हमारे पास कोच और कप्तान का सही संयोजन है. एंड्रयू को चुनने के लिए हमने लंबी प्रक्रिया ली थी और हम उनकी नियुक्ति से काफी खुश हैं. स्मिथ के रूप में हमारे पास ऐसा कप्तान है जिसका आईपीएल में जीत का शानदार रिकार्ड है.

First Published : 26 Dec 2019, 10:14:00 AM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.