logo-image
लोकसभा चुनाव

इन 2 IPL स्टार्स को World Cup टीम में देखना चाहते हैं शास्त्री, साधा सिलेक्टर्स पर निशाना

आईपीएल 2023 में कुछ खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से ना केवल अपनी टीम को जीत दिलाई हैं, बल्कि सभी का दिल भी जीत लिया है. इन खिलाड़ियों में रिंकू सिंह और यशस्वी जायसवाल

Updated on: 12 May 2023, 05:57 PM

highlights

  • जायसवाल और रिंकू ने किया है शानदार प्रदर्शन
  • T20 WC टीम में रिंकू और जायसवाल को देखना चाहते हैं शास्त्री
  • सिलेक्टर्स को अब देना चाहिए मौका

नई दिल्ली:

IPL 2023 : आईपीएल 2023 में कुछ खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से ना केवल अपनी टीम को जीत दिलाई हैं, बल्कि सभी का दिल भी जीत लिया है. इन खिलाड़ियों में रिंकू सिंह और यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) का नाम टॉप पर आता है. इनके प्रदर्शन को देखकर क्रिकेट गलियारों में उन्हें टीम इंडिया में शामिल करने की मांग हो रही है. इस बीच पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने भी रिंकू और जायसवाल को टीम इंडिया में शामिल करने की मांग कर दी है. 

रिंकू और यशस्वी का जलवा

रिंकू सिंह IPL 2023 में KKR के लिए फिनिशर की भूमिका निभा रहे हैं. उन्होंने अब तक खेले गए 12 मैचों में 353 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 22 छक्के लगाए हैं. रिंकू ने गुजरात के खिलाफ आखिरी ओवर की लास्ट 5 गेंदों पर बैक टू बैक छक्के लगाकर अपनी टीम को एक असंभव लगने वाली जीत दिलाई थी. वहीं पंजाब किंग्स के खिलाफ आखिरी गेंद पर चौका लगाकर जीत दिलाई थी. 

यशस्वी जायसवाल की बात करें, तो राजस्थान रॉयल्स के सलामी बल्लेबाज ने अब तक खेले गए 12 मैचों में 52.27 के औसत से 575 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से एक शतक भी निकला है. बीती रात KKR के खिलाफ जायसवाल ने फास्टेस्ट  फिफ्टी लगाने का कारनामा किया और फिर 98(47) रन बनाकर नाबाद लौटे. 

ये भी पढ़ें : BCCI से आया यशस्वी जायसवाल को बुलावा ! खुद जय शाह ने किया पोस्ट

शास्त्री ने की टीम इंडिया में शामिल करने की मांग

टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने ताबड़तोड़ प्रदर्शन कर रहे रिंकू सिंह और यशस्वी जायसवाल को भारतीय टीम में शामिल करने की मांग की है. उन्होंने स्टार स्पोर्ट्स के साथ बातचीत करते हुए कहा, “अगर भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ी वनडे विश्व कप की तैयारियों में बिजी हैं, तो सिलेक्टर्स को यशस्वी और रिंकू जैसे युवाओं को अधिक से अधिक मौके  देने चाहिए. इन खिलाड़ियों को लगातार मौके देने चाहिए और अगले साल वेस्टइंडीज में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए तैयार करना चाहिए. अगर चयनकर्ता अभी भी इन्हे टीम में नहीं चुनते हैं, तो मुझे नहीं पता कि वे और क्या ढूंढ रहे हैं.”