News Nation Logo
Banner

IPL 12, KKR vs DC: कुलदीप यादव ने बताया आंद्रे रसेल को आउट करने का तरीका

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा कि उन्होंने आंद्रे रसेल (Andre Russell) की कमजोरी ढूंढ ली है, जिसका वह 30 मई से 14 जुलाई के बीच होने वाले विश्व कप के दौरान फायदा उठाना चाहते हैं.

PTI | Updated on: 11 Apr 2019, 08:05:40 PM
IPL12, KKRvDC: कुलदीप यादव ने बताया आंद्रे रसेल को आउट करने का तरीका

IPL12, KKRvDC: कुलदीप यादव ने बताया आंद्रे रसेल को आउट करने का तरीका

नई दिल्ली:

भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) का मानना है कि आंद्रे रसेल (Andre Russell) ने टर्न लेती गेंदों के सामने अपनी कमजोरी के संकेत दिए हैं और कहा कि विश्व कप में वेस्ट इंडीज के इस विस्फोटक बल्लेबाज को कुंद करने के लिए उनके पास पर्याप्त अस्त्र हैं. आंद्रे रसेल (Andre Russell) ने कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Night Riders) की तरफ से आईपीएल (IPL) में अब तक बेहतरीन प्रदर्शन किया है. उन्होंने केवल 121 गेंदों पर 257 रन बनाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 212.39 है. केकेआर के उनके साथी कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा कि उन्होंने आंद्रे रसेल (Andre Russell) की कमजोरी ढूंढ ली है, जिसका वह 30 मई से 14 जुलाई के बीच होने वाले विश्व कप के दौरान फायदा उठाना चाहते हैं. 

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा, ‘उसे टर्न लेती गेंदों का सामना करने में कुछ परेशानी होती है. अगर गेंद टर्न ले रही हो तो यह उसकी कमजोरी है.’

उन्होंने कहा, ‘केवल यही नहीं, मैंने विश्व कप में उसके लिए अलग अलग तरह की योजनाएं बनायी हैं. मैं जानता हूं कि उसे कैसे रोकना है और इस बारे में मेरी सोच स्पष्ट है.’

और पढ़ें: IPL 12: देश के लिए कप्तान कोहली में जीत की भूख अलग होती है: कुलदीप यादव

वह आंद्रे रसेल (Andre Russell) के साथ एक ही ड्रेसिंग रूम में रहते हैं लेकिन कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने स्वीकार किया कि वह नेट्स पर कभी आंद्रे रसेल (Andre Russell) के लिए गेंदबाजी नहीं करते.

उन्होंने कहा, ‘वह स्पिनरों के सामने कोई मौका नहीं चूकते हैं. वह तेज गेंदबाजों के लिए आतंक हैं. और मैं उनके लिए कभी नेट्स पर गेंदबाजी नहीं करता. जब आपकी गेंदों पर लगातार दो छक्के लगते हैं तो आप दबाव में आ जाते हैं.’ 

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा, ‘यह महत्वपूर्ण है कि आप कैसे वापसी करते हैं. बल्लेबाज को आउट करने के लिए केवल एक गेंद की जरूरत पड़ती है. आप इससे किसी खिलाड़ी के खेल के स्वभाव का आकलन कर सकते हैं.’

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने अभी तक छह मैचों में केवल तीन विकेट लिए हैं लेकिन भारत के इस चाइनामैन गेंदबाज ने कहा कि वह अपने प्रदर्शन से खुश हैं और वह परिपक्व क्रिकेटर बन गए हैं.

और पढ़ें: IPL 12: एम एस धोनी के लिए ब्रावो ने कही बड़ी बात, बताया CSK की जीत का राज 

उन्होंने कहा, ‘मैं विकेट नहीं ले रहा हूं इसका मतलब यह नहीं है कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रहा हूं. अब मैं एक परिपक्व क्रिकेटर की तरह खेल रहा हूं और मैं टीम के बारे में अधिक सोचता हूं. भले ही मैं विकेट नहीं ले रहा हूं लेकिन इकोनोमी रेट अच्छा है.’

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा, ‘मुझे लगता है कि इस आईपीएल (IPL) में बल्लेबाज मेरी गेंदों पर अधिक आक्रमण नहीं कर रहे हैं. बल्लेबाज मेरे खिलाफ बड़े शॉट नहीं खेल रहे हैं. मैं प्रत्येक मैच तीन चार बाउंड्री ही दे रहा हूं जिसका मतलब है कि बल्लेबाज मेरे सामने सतर्कता बरत रहे हैं. केवल दिल्ली का मैच अपवाद है.’

इस 24 वर्षीय गेंदबाज ने भारतीय टीम के अपने साथी युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) का उदाहरण दिया जिन्होंने छह मैचों में 9 विकेट लिए, लेकिन उनकी टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को इन सभी मैचों में हार का सामना करना पड़ा.

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा, ‘युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) अच्छा प्रदर्शन कर रहा है लेकिन टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही है. आपको अपनी रणनीति के अनुसार खेलना होता है. अगर आपकी टीम सबसे निचले पायदान पर हो तो यह मायने नहीं रखता कि आपने 9 विकेट लिए. मैं नहीं मानता कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रहा हूं.’

और पढ़ें: IPL 12: जानें मुंबई के हाथों हारने के बाद क्या बोले कप्तान आर अश्विन 

उन्होंने कहा कि ईडन गार्डंस का विकेट भी स्पिनरों को पहले की तरह मदद नहीं दे रहा है. कानपुर के इस स्पिनर ने कहा, ‘विकेट से स्पिनरों को कोई मदद नहीं मिल रही है जैसे कि तीन चार पहले मिलती थी. यह बल्लेबाजों के अनुकूल बन गया है. टी20 क्रिकेट के लिए यह अच्छा है.’

First Published : 11 Apr 2019, 08:05:34 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो