News Nation Logo

IPL 2018: ट्रेलर खत्म क्लाइमेक्स शुरू, जानिए प्लेऑफ में पहुंचने वाली चारो टीमों के बारे में

सनराइजर्स हैदराबाद (18 अंक), चेन्नई सुपर किंग्स (18 अक), कोलकाता नाइट राइडर्स (16 अंक) और राजस्थान रायल्स (14 अंक) प्लेआफ में क्वालीफाई कर चुके हैं।

By : Sankalp Thakur | Updated on: 21 May 2018, 05:59:24 PM
आईपीएल 2018 (फाइल फोटो)

आईपीएल 2018 (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

दुनिया के सबसे रोमांचक क्रिकेट मुकाबलों में से एक आईपीएल अब अपने क्लाइमेक्स की तरफ बढ़ चला है। 11वें सीजन के सभी लीग मैच खत्म हो गए हैं। प्लेऑफ की तस्वीर अब साफ है। सनराइजर्स हैदराबाद (18 अंक), चेन्नई सुपर किंग्स (18 अंक), कोलकाता नाइट राइडर्स (16 अंक) और राजस्थान रॉयल्स (14 अंक) प्लेऑफ में क्वालीफाई कर चुकी हैं।

इन चारों के बीच अब आईपीएल 2018 यानी इस टूर्नामेंट की 11वीं खिताब के लिए भिड़ंत होगी। इन चारों टीमों के बीच अब क्वॉलीफायर और एलिमिनेटर मुकाबले होंगे।

पहला क्वालीफायर मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच 22 मई को मुंबई में खेला जाएगा। जो भी टीम पहला क्वालीफायर मैच जीतेगी वह सीधे फाइनल में प्रवेश कर जाएगी।

इसके बाद 23 मई को एलिमिनेटर मुकाबले में कोलकाता और राजस्थान की टीमें आमने-सामने होंगी। इस मैच में जो टीम हारेगी वह बाहर हो जाएगी। वहीं जो भी टीम जीतेगी उसे दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में पहले क्वालीफायर मैच में हारी हुई टीम से खेलना होगा। यह मैच 25 मई को कोलकाता में खेला जाएगा। इस मुकाबले में जीतने वाली टीम फाइनल में क्वालीफायर 1 की विजोता टीम से खिताबी मैच खेलेगी। 

आईपीएल 11 का खिताबी मुकाबला यानी फाइनल मैच 27 मई को मुंबई में खेला जाएगा। आईए जानते हैं प्लेऑफ में जगह बनाने वाली चारों टीमों का कैसा रहा अब तक का सफर

सनराइजर्स हैदराबाद

2016 की आईपीएल विजेता टीम सनराइजर्स हैदराबाद ने सीजन 11 में लीग के 14 मैचों में 9 में जीत हासिल की। हैदराबाद  ने 9 मैच जीत के साथ 18 अंक हुए और प्लेऑफ में सबसे पहले जगह बनाई।

टूर्नामेंट की शुरूआत हैदराबाद के लिए बुरी खबर लेकर आई। पूर्व कप्तान डेविड वार्नर को बॉल टेंपरिंग केस में दोषी होने के कारण आईपीएल से भी बाहर होना पड़ा। इसके बाद टीम की कमान नए कप्तान नए कप्तान के विलियमसन को मिली।

शुरूआती दौर में लगा की डेविड वार्नर की कमी टीम को खलेगी लेकिन नए कप्तान केन विलियमसन ने पूरे टूर्नामेंट में न सिर्फ बेहतरीन कप्तानी की बल्कि बल्ले से भी जमकर बरसे।

विलियमसन ने आईपीएल 2018 के शुरुआती 14 मैचों में 661 रन बनाए। इस दौरान उनकी बैटिंग औसत 60.09 रही। उन्होंने इस सीजन में सबसे ज्यादा 8 अर्धशतक लगाए हैं।

इस टीम के आत्म विश्वास का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि शुरुआती 11 मैचों में से 9 मुकाबले जीते थे। हालांकि आखिरी के तीनों मैचों में सनराइजर्स को हार मिली है लेकिन पूरे सीजन में टीम ने जैसा आत्मविश्वास दिखाया है उसे देखकर लगता है जैसे इस बार भी सनराइजर्स हैदराबाद खिताब की प्रबल दावेदार है।

चेन्नई सुपर किंग्स

कहते हैं जहां एम एस धोनी हो वहां हारने का सवाल ही पैदा नहीं होता। 2 साल बाद आईपीएल में वापसी कर रही चेन्नई की टीम ने इस सीजन के ग्रुप स्टेज में 14 मैच में 9 में जीत हासिल की और उसके भी 18 अंक हैं।

हैदराबाद की तरह चेन्नई की सफलता में भी कप्तान धोनी का अहम योगदान है। एम एस धोनी ने इस सीजन में 430 रन बनाए हैं। उन्होंने 3 अर्धशतक भी लगाए हैं।

धोनी के अलावा सलामी बल्लेबाज अंबाती रायडू ने टीम को प्लेऑफ में पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रायडू ने 45.07 की औसत से चेन्नई के लिए सर्वाधिक 586 रन बनाए हैं। उन्होंने इस दौरान 3 अर्धशतक और 1 शतक भी लगाया है।

गेंदबाजी की बात करें तो शार्दुल ठाकुर चेन्नई के लिए तुरुप का इक्का साबित हुए हैं। उन्होंने 11 लीग मुकाबले खेले जिसमें 14 विकेट झटके।

चेन्नई ने टूर्नामेंट की शुरूआत मुंबई पर जीत के साथ की थी और लीग के आखिरी मैच में किंग्स इलेवन पंजाब को हराया। अब क्वालीफायर मुकाबले में जीतकर वह चौथी बार खिताब अपने नाम करना चाहेगी।

कोलकाता नाइट राइडर्स

कप्तान बदला, आईपीएल के नियम बदले मगर जो चीज नहीं बदली वह है 'करबो लड़बो जीतबो रे' का जज्बा और इसी जज्बे की बदौलत कोलकाता नाइट राइडर्स ने आईपीएल 2018 के प्लेऑफ में जगह बनाई।

टूर्नामेंट शुरू होने से पहले टीम की कमान नए कप्तान दिनेश कार्तिक के हाथों में थी। टीम का मार्गदर्शन करने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई। जहां कार्तिक टूर्नामेंट में 438 रन बनाकर बल्लेबाजी की जिम्मेदारी संभाली तो वहीं गेंदबाजी में सुनील नरेन ने 16 विकेट झटक कर विरोधी टीम की कमर तोड़ दी।

एक वक्त ऐसा भी आया जब लग रहा था कि केकेआर इस बार प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी लेकिन उसने अपने आखिरी तीन मुकाबले जीतकर वापसी की।

नाइट राइडर्स ने अपने 14 मैचों में से 8 मुकाबले जीते और 16 अंक के साथ पॉइंट्स टेबल में तीसरा स्थान हासिल किया। किंग खान की टीम अगर जीत का लय बरकरार रखती है तो वह आईपीएल का खिताब तीसरी बार जीतेगी।

राजस्थान रॉयल्स

आईपीएल के पहले सीजन में खिताब अपने नाम करने वाली टीम राजस्थान रॉयल्स एक बार फिर खिताब की दौड़ में है। राजस्थान ने 14 में से 7 मुकाबले जीते और 14 अकों के साथ प्वाइंट्स टेबल में चौथे स्थान पर रही।

राजस्थान के लिए जोस बटलर ने सर्वाधिक 548 रन बनाए हैं तो वहीं जोफ्रा आर्चर ने गेंदबाजी में कमाल करते हुए 13 विकेट झटके हैं।

इस टीम के साथ भी सीजन की शुरूआत अच्छी नहीं रही थी और कप्तान स्टीव स्मिथ को बॉल टेंपरिंग केस के कारण प्रतिबंधित कर दिया गया था। स्मिथ की जगह टीम की कमान मिली अजिंक्ये रहाणे को। रहाणे ने जिम्मेदारी बखूबी निभाई और मुश्किल वक्त में टीम एक जूट होकर खेली।

हालांकि टीम के दो सबसे महंगे खिलाड़ी बेन स्टोक्स और जयदेव उनादकट पूरे सीजन फ्लॉप रहे लेकिन आखिर में लगातार 5 मैचों में अर्धशतक जमाकर जोस बटलर ने अपने दम पर टीम को प्लेऑफ में पहुंचा दिया।

रॉयल्स ने अपने आखिरी 5 मुकाबलों में से 4 मैच जीते और पॉइंट्स टेबल में चौथे स्थान पर रहे। आईपीएल में अब तक राजस्थान और हैदराबाद 1-1 बार, कोलकाता 2 बार और चेन्नई 3 बार खिताब जीत चुकी है। 

अब सीजन 11 में कौन सी टीम के सर 'क्रिकेटेंमेंट' का सहरा सजेगा इसका फैसला 27 मई को होगा।

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 21 May 2018, 03:24:59 PM