News Nation Logo
Banner

IPL की पहली हैट्रिक गेंदबाज ने नहीं बल्‍कि इस धाकड़ बल्‍लेबाज ने ली थी

हिटमैन रोहित वैसे तो अपने बल्‍ले के कमाल के लिए जाने जाते हैं लेकिन इन्‍होंने IPL के एक मैच में बतौर गेंदबाज वह कर दिखाया जो बड़े बड़े गेंदबाज नहीं कर सके.

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 14 Apr 2019, 05:54:23 PM
हैट्रिक लेने के बाद रोहित शर्मा (file)

हैट्रिक लेने के बाद रोहित शर्मा (file)

नई दिल्‍ली:

वैसे तो क्रिकेट में अक्‍सर हारी हुई बाजी बल्‍लेबाज अपनी बल्‍लेबाजी से पलट देते हैं लेकिन कई ऐसे मौके हैं जिनमें बल्‍लेबाजों ने अपने गेंदबाजी से हारा हुआ मैच जीतवाया है. हीरो कप का वह मुकाबला भला कौन भूल सकता है. वेस्‍टइंडीज के खिलाफ फाइनल मैच में भारती टीम गेंजबाजी कर रही थी और अंतिम ओवर में कैरेबियन टीम को जीत के लिए 6 रन बनाने थे. सचिन तेंदुलकर अंतिम ओवर फेंकने को आए और यह मैच जितवा गए.

यह भी पढ़ेंः IPL 12, KKR vs CSK: चेन्नई सुपरकिंग्स के जबड़े से जीत छीनने के लिए मैदान में उतरेगी कोलकाता, धोनी का पलड़ा भारी

तेंदुलकर की तरह मुंबई का एक और बल्‍लेबाज हैं रोहित शर्मा. हिटमैन रोहित वैसे तो अपने बल्‍ले के कमाल के लिए जाने जाते हैं लेकिन इन्‍होंने IPL के एक मैच में बतौर गेंदबाज वह कर दिखाया जो बड़े बड़े गेंदबाज नहीं कर सके. साल 2009 में इंडियन टी-20 लीग का दूसरा सीजन खेला जा रहा था. 6 मई को खेले गए उस सीजन के 32वें मैच में डेक्कन चार्जर्स और मुंबई के बीच मुकाबला खेला गया.

यह भी पढ़ेंः IPL 12: चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर हमला होता देख इमरान ताहिर भी जंग में कूदे, दिया ये बयान

डेक्‍कन चार्जर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 145 रन बनाए. जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई खराब शुरुआत के बाद डुमिनी की बल्लेबाजी से संभल गई. ऐसा लग रहा था जैसे मुंबई मैच को आसानी से जीत लेगी, लेकिन चार्जर्स के कप्तान गिलक्रिस्ट ने 16वें ओवर में रोहित शर्मा को गेंद थमाई.

यह भी पढ़ेंः IPL 12, MI vs RR: बटलर-रहाणे की जोड़ी ने दिलाई राजस्थान को दूसरी जीत, उलटफेर के बावजूद हार गई मुंबई

रोहित ने अपने ओवर की पांचवीं गेंद पर अभिषेक नायर और आखिरी गेंद पर हरभजन को बोल्ड किया. इसके बाद एक बार फिर से 18वें ओवर में रोहित ने गेंदबाजी की और ओवर की पहली ही गेंद पर डुमिनी को गिलक्रिस्ट के हाथों कैच आउट करवा दिया. डुमिनी को करने के साथ ही रोहित ने इस टूर्नामेंट की हैट्रिक अपने नाम की. इतना ही नहीं रोहित ने 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर सौरव तिवारी को भी पवेलियन की राह दिखाई.

यह भी पढ़ेंः World Cup से पहले गौतम गंभीर ने बताया 4 नंबर के लिए कौन है उपयुक्त खिलाड़ी

रोहित के 4 विकेट के बाद मुंबई 20 ओवर में 126 रन ही बना पाई और मैच हार गई. दिलचस्प बात यह कि रोहित ने बतौर कप्तान जिस मुंबई को 3 बार चैंपियन बनाया है उसी मुंबई के खिलाफ इन्होने ये हैट्रिक ली थी. 36 गेंदों में 38 रन की पारी खेलने वाले रोहित ने गेंदबाजी में 2 ओवर में 6 रन देकर 4 विकेट झटके. इंडियन टी-20 लीग के इतिहास में रोहित ने कुल 15 विकेट लिए हैं. इसमें 11 विकेट रोहित ने साल 2009 में ही लिए थे.

First Published : 14 Apr 2019, 05:49:20 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो