News Nation Logo

BREAKING

CSKvsMI : लसिथ मलिंगा पर भारी पड़ते है एमएस धोनी, देखिए दोनों टीमों के आंकड़े

चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम आईपीएल के 10 सीजन में भाग लिया है जिसमें से टीम आठ बार फाइनल में पहुंची है जबकि मुंबई की टीम 12 सीजन में से पांच बार फाइनल में पहुंचने में सफल रही है.

Bhasha | Updated on: 06 Apr 2020, 03:14:46 PM
dhoni rohit

ms dhoni (Photo Credit: gettyimages)

New Delhi:

न्यूजीलैंड के पूर्व हरफनमौला स्कॉट स्टायरिस का मानना ​​है कि चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) और मुंबई इंडियंस (MI) के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) प्रतिद्वंद्विता में खेल के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर एमएस धोनी और आखिरी ओवरों के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज लथिस मलिंगा के बीच मुकाबले में धोनी भारी पड़ते हैं. चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम आईपीएल के 10 सीजन में भाग लिया है जिसमें से टीम आठ बार फाइनल में पहुंची है जबकि मुंबई की टीम 12 सीजन में से पांच बार फाइनल में पहुंचने में सफल रही है. फाइनल में मुंबई का प्रदर्शन हालांकि अच्छा रहा है जिसने इस खिताब को चार बार जीता है. 

यह भी पढ़ें : लॉकडाउन में क्रिकेट नहीं तो इस खेल में फिर से हाथ आजमाने लगे युवजेंद्र चहल

स्टायरिश ने स्टार स्पोट्र्स से कहा, यह निरंतरता से जुड़ा है, सीएसके का प्रदर्शन नॉकआउट मैचों में शानदार रहा है. आईपीएल से उम्मीद होती है कि वह भारतीय टीम के लिए खिलाड़ी तैयार करें और इस मामले में सीएसके ने सबसे ज्यादा नवोदित खिलाड़ियों को तैयार किया है. टीम की कोशिश नए खिलाड़ियों को तैयार करने की रहती है. उन्होंने कहा, आखिरी ओवरों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज के खिलाफ यह मैच के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर के बारे में है. धोनी और मलिंगा के मुकाबले में चेन्नई की टीम के कप्तान यानी एमएस धोनी भारी पड़े हैं.

यह भी पढ़ें : 15.50 करोड़ रुपये वाले खिलाड़ी की प्राथमिकता में IPL नहीं, कुछ और ही है

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी संजय मांजरेकर का मानना है कि आईपीएल में चेन्नई की टीम सबसे निरंतर रही है लेकिन बाद के साल में मुंबई इंडियंस उन पर भरी पड़ी है. मौजूदा चैम्पियन मुंबई इंडियंस ने चार बार आईपीएल के खिताब को हासिल किया है जबकि चेन्नई तीन बार चैम्पियन रही है. संजय मांजरेकर ने कहा, जब हम जीतने की प्रतिशत को देखते हैं, जोकि टीमों की सफलता को मापने का अच्छा तरीका है तो यह रिकार्ड चेन्नई के पक्ष में है. बाद के साल में हालांकि मुंबई इंडियंस ने शानदार वापसी की और ज्यादा मुकाबलों में जीत दर्ज की है.

यह भी पढ़ें : धोनी की पहली शतकीय पारी देखकर आशीष नेहरा को कैसा लगा, जानिए क्या बोले

उन्होंने कहा, मुंबई इंडियंस ने चार बार चैम्पियन बनी है, जबकि सीएसके ने तीन बार खिताब जीता है. मुंबई की टीम हालांकि दो सत्र अधिक खेली है, जब चेन्नई सुपरकिंग्स को दो सीजन के लिए प्रतिबंधित किया गया था. जब आप रिकार्ड पर गौर करते हैं, तो मुंबई इंडियंस एक ऐसी टीम के रूप में उभर रही है, जो पिछले कुछ वर्षों में चेन्नई को चुनौती दे रही है, वे वास्तव में चेन्नई की तुलना में बेहतर टीम रही है. संजय मांजरेकर ने कहा, जब मुंबई की टीम फाइनल में पहुंचती है जो उनके जीतने का अधिक मौका रहता है. अगर आप पूरे आईपीएल को देखेंगे तो चेन्नई को सबसे सफल टीम कहा जा सकता है लेकिन अब मुंबई का रिकार्ड बेहतर हो रहा है.

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 06 Apr 2020, 02:57:29 PM