News Nation Logo
Banner

World Cup 2019 : इंग्‍लैंड-न्‍यूजीलैंड के बीच फाइनल में ये होंगे अम्पायर

IANS | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 12 Jul 2019, 06:52:45 PM
प्रतिकात्‍मक चित्र

लंदन:  

श्रीलंका के कुमार धर्मसेना और दक्षिण अफ्रीका के मारियस एरासमस रविवार को होने वाले आईसीसी विश्व कप-2019 के फाइनल में ऑन-फील्ड अम्पायर होंगे. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को एक बयान में यह जानकारी दी. दोनों सेमीफाइनल के समाप्त होने के बाद मेजबान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच फाइनल मैच लॉर्ड्स मैदान पर खेला जाएगा. आईसीसी ने कहा कि आस्ट्रेलिया के रॉड टकर मुकाबले में तीसरे अम्पायर होंगे. चौथे अधिकारी की जिम्मेदारी पाकिस्तान के अलीम दार को सौंपी गई है. श्रीलंका के रंजन मदुग्ले मैच रेफरी होंगे. न्यूजीलैंड ने भारत तथा इंग्लैंड ने आस्ट्रेलिया को हराकर फाइनल में जगह बनाई है. इन दोनों टीमों ने अब तक विश्व कप नहीं जीता है.

14 जुलाई को फाइनल मुकाबले के लिए इस बड़ी तैयारी में आईसीसी

इंग्लैंड एवं वेल्स में जारी आईसीसी विश्व कप में गुरुवार को एक बार फिर राजनीतिक संदेश फैलाने की घटना सामने आई. एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड में खेले जा रहे ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच दूसरे सेमीफाइनल के दौरान स्टेडियम के ऊपर से एक विमान निकला, जिस पर एक बैनर टंगा था और उस पर लिखा था 'विश्व को बलूचिस्तान के लिए आवाज उठानी चाहिए.' हालांकि आईसीसी अब 14 जुलाई को होने वाले फाइनल मैच के दौरान लॉर्ड्स को उड़ान निषिद्ध क्षेत्र बनाने पर काम कर रहा है. आईसीसी ने कहा, "आईसीसी विश्व कप में हम किसी भी प्रकार के राजनीतिक संदेशों की निंदा नहीं करते हैं. विश्व कप को राजनीतिक विरोध के लिए एक मंच के रूप में इस्तेमाल करने से रोकने के लिए हमने पूरे टूर्नामेंट के दौरान स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर काम किया है."

ये भी पढ़ें-World Cup: तीन फाइनल मैचों की कहानी, ऐसे इंग्‍लैंड के हाथों से फिसलता गया विश्‍व कप

क्रिकेट की शीर्ष संस्था ने कहा, "हम संबंधित एजेंसियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि लॉर्डस में फाइनल के दौरान मानवयुक्त और मानव रहित उड़ानों के लिए यह उड़ान निषिद्ध क्षेत्र है." इससे पहले, भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए पहले सेमीफाइनल मैच में ओल्ड ट्रेफर्ड स्टेडियम में से चार सिखों को इसलिए बाहर निकाल दिया गया था क्योंकि वह राजनीतिक संदेश लिखी टी-शर्ट पहन कर आए थे. आईसीसी ने इस विवाद के बारे में कहा था, "हमने पहली पारी के दौरान ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर कुछ लोगों को इसलिए बाहर निकाल दिया क्योंकि उन्होंने टिकट नियमों का उल्लंघन कर राजनीतिक संदेश फैलाने की कोशिश की थी."

ये भी पढ़ें- World Cup: सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारने के बाद विराट कोहली ने इन 2 लोगों को कहा Thank You

ऐसा पहली बार नहीं है कि इस विश्व कप में स्टेडियम के ऊपर से राजनीतिक संदेश का प्रचार करता हुआ हवाई जहाज निकला हो. इससे पहले पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच खेले गए मैच में भी बलूचिस्तान के पक्ष में नारा लिखा विमान स्टेडियम के ऊपर से गुजरा था. उसके बाद हेडिंग्ले में भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए मैच में भी 'कश्मीर के लिए न्याय' 'भारत नरसंहार बंद करो और कश्मीर को आजाद करो' जैसे नारे हवाई जहाज के बैनर पर लिखे थे. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस पर चिंता जाहिर की थी और आईसीसी के महानिदेशक स्टीव एलवर्थी ने भारतीय बोर्ड से वादा किया था कि इस तरह की चीजों को रोकने के लिए हर संभव उपाय किए जाएंगे.

First Published : 12 Jul 2019, 06:25:37 PM

For all the Latest Sports News, World Cup News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.