News Nation Logo
Banner

युवराज सिंह ने भारत को 3 बार बनाया विश्व कप चैंपियन, बनाया यह खास रिकॉर्ड

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भारत को अपने प्रदर्शन के दम पर एक या दो बार नहीं बल्कि 3-3 बार विश्वविजेता बनाया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar1 | Updated on: 11 Jun 2019, 07:01:39 AM
युवराज सिंह ने भारत को 3 बार बनाया विश्व चैंपियन, बनाया यह खास रिकॉर्ड

युवराज सिंह ने भारत को 3 बार बनाया विश्व चैंपियन, बनाया यह खास रिकॉर्ड

नई दिल्ली:

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 17 साल बिताने के बाद भारतीय क्रिकेट के बेहतरीन हरफनमौला खिलाड़ियों में से एक युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने सोमवार को क्रिकेट के हर फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भारत को अपने प्रदर्शन के दम पर एक या दो बार नहीं बल्कि 3-3 बार विश्वविजेता बनाया है. इस दौरान युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने एक बेहतरीन रिकॉर्ड अपने नाम किया जो क्रिकेट के इतिहास में किसी भी खिलाड़ी के नाम नहीं हैं. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने 3 मौकों पर भारत को विश्व चैंपियन बनने में मदद की और तीनों ही मौकों पर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) मैन ऑफ द टूर्नामेंट भी बनें.

2000 के अंडर 19 विश्व कप में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 25 गेंद में 58 रनों की पारी खेली थी और भारत को सेमीफाइनल में पहुंचाया था. अपनी इस पारी के दौरान युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने मिचेल जॉनसन, शेन वॉटसन और नॉथन हॉरिट्ज की गेंदबाजी की बखिया उधेड़ दी थी.

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने अंडर 19 विश्व कप में 8 मैच खेलकर 203 रन बनाए और 12 विकेट भी चटकाए जिसकी वजह से उन्हें मैन ऑफ द टूर्नामेंट के पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

और पढ़ें: VIdeo: क्रिकेट को अलविदा कह युवराज सिंह ने बताए करियर के 3 बेहतरीन लम्हे, जानें क्या है

पहली बार साल 2000 में अंडर-19 टीम को विश्वकप दिलाने के बाद युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने दूसरी बार साल 2007 में खेले गये पहले टी 20 विश्वकप के हीरो भी युवी बनें. इसी दौरान उन्होंने 6 गेंद पर 6 छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी बनाया.

इसके बाद भारत को साल 2011 में विश्वविजेता बनाने में युवराज का बड़ा योगदान रहा. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने 8 पारियों में 362 रन बनाए और 15 विकेट भी चटकाए. इस दौरान युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने एक बार 5 विकेट चटकाने का काम भी किया. इस टूर्नामेंट में भी वह ‘मैन ऑफ द सीरीज’ रहे.

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने अपना अंतिम टेस्ट साल 2012 में खेला था. सीमित ओवरों के क्रिकेट में वह अंतिम बार 2017 में दिखे थे. युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने साल 2000 में पहला वनडे, 2003 में पहला टेस्ट और 2007 में पहला टी-20 मैच खेला था.

और पढ़ें:  क्रिकेटर युवराज सिंह की कुल संपत्ति जानकर चौंक जाएंगे, पढ़ें पूरी खबर

चंडीगढ़ में साल 1981 में जन्में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी-20 मैच खेले. टेस्ट में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने तीन शतकों और 11 अर्धशतकों की मदद से कुल 1900 रन बनाए जबकि वनडे में उन्होंने 14 शतकों और 52 अर्धशतकों की मदद से 8701 रन जुटाए.

इसी तरह टी-20 मैचों में युवराज ने कुल 1177 रन बनाए. इसमें आठ अर्धशतक शामिल हैं. युवराज ने टेस्ट मैचों में 9, वनडे में 111 और टी-20 मैचो में 28 विकेट भी लिए हैं. युवराज ने 2008 के बाद कुल 231 टी-20 मैच खेले हैं और 4857 रन बनाए हैं. उन्होंने टी-20 मैचों में 80 विकेट भी लिए हैं.

युवराज खुद को भाग्यशाली मानते हैं कि उन्हें भारत के लिए 400 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने का मौका मिला.

First Published : 11 Jun 2019, 07:01:39 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×