News Nation Logo
Banner

India-Pak Match: गावस्कर के बयान पर गौतम का 'गंभीर' प्रहार, कहा- 2 अंक नहीं जवान की जान कीमती

गौतम गंभीर ने इस मुद्दे पर अपनी राय रखते हुए कहा कि मेरे लिए किसी भी क्रिकेट मैच में मिलने वाले 2 अंक से ज्यादा मेरे देश के जवानों की जिंदगी मायने रखती है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar1 | Updated on: 18 Mar 2019, 05:51:24 PM
INDvPAK: गावस्कर के बयान पर गौतम का 'गंभीर' प्रहार (ANI)

INDvPAK: गावस्कर के बयान पर गौतम का 'गंभीर' प्रहार (ANI)

नई दिल्ली:

14 फरवरी को पुलवामा (Pulwama) में हुए सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले में 40 जवानों की शहादत के बाद देश भर में आगामी विश्व कप (World Cup) में भारत-पाकिस्तान (Pakistan) के बीच होने वाले मैच का बहिष्कार करने की मांग तेज हो गई है. जहां सौरव गांगुली (Sourav Ganguly), युजवेंद्र चहल और हरभजन सिंह जैसे बड़े खिलाड़ी विश्व कप (World Cup) में होने वाले इस मैच का बहिष्कार करने की मांग कर रहे हैं वहीं सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर और कपिल देव जैसे दिग्गज खिलाड़ियों का मानना है कि हमें पाकिस्तान (Pakistan) को 2 अंक गिफ्ट के रूप में नहीं देना चाहिए. अब इस मुद्दे पर 2007 टी20 विश्व कप (World Cup) और 2011 विश्व कप (World Cup) जीत में अहम भूमिका निभाने वाले गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने भी अपनी राय रखी है.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने इस मुद्दे पर अपनी राय रखते हुए कहा कि मेरे लिए किसी भी क्रिकेट मैच में मिलने वाले 2 अंक से ज्यादा मेरे देश के जवानों की जिंदगी मायने रखती है.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा,' मैच खेलना न खेलना बीसीसीआई और सरकार के निर्णय पर निर्भर करता है. लेकिन निजी तौर पर मेरा मानना है कि पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ मैच ने खेलने में कुछ भी गलत नहीं है. मेरे लिए 2 अंक मायने नहीं रखते. मेरी राय में किसी भी क्रिकेट मैच से ज्यादा मेरे देश के जवान की जान कीमती है.'

और पढ़ें: ICC ने BCCI को दिया तगड़ा झटका, पाकिस्तान को अलग-थलग करने की मांग ठुकराई

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने आगे कहा,' यहां तक की अगर भारत और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच अगर विश्व कप (World Cup) का फाइनल मैच होता है तब पर भी भारत को मैच का बहिष्कार करने से नहीं हिचकना चाहिए. मुझे लगता है कि देश को इसके लिए भी तैयार रहना चाहिए. इस बात पर कोई भी विवाद नहीं होना चाहिए, हालांकि समाज का एक तबका यह जरूर कहता नजर आएगा कि खेल और राजनीति को अलग रखना चाहिए.'

इससे पहले भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा है कि आगामी विश्व कप में उन्हें दो अंक नहीं बल्कि खिताब चाहिए. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) का यह बयान सचिन तेंदुलकर के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि टूर्नामेंट में 16 जून को पाकिस्तान के साथ न खेलना और उन्हें दो अंक देना पाकिस्तान की मदद करना होगा. सचिन ने कहा था कि इससे उन्हें नफरत होगी.

और पढ़ें: ICC ने भारत को दी थी ये धमकी, BCCI ने कहा- जो मन करे वो कर सकता है अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने इससे पहले हरभजन सिंह के विचारों का समर्थन करते हुए कहा था कि पाकिस्तान के साथ सभी तरह के क्रिकेट रिश्तों को खत्म कर देना चाहिए.

उन्होंने कहा, 'यह 10 टीमों का विश्व कप है और प्रत्येक टीम को हर दूसरी टीम के खिलाफ मैच खेलना है. यदि भारत विश्व कप में एक मैच नहीं भी खेलता है, तो यह कोई बड़ा मुद्दा नहीं होगा.'

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने इन टिप्पणियों के लिए सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की आलोचना की और इसे ध्यान खींचने के लिए किया गया पब्लिक स्टंट बताया.

First Published : 18 Mar 2019, 05:44:22 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो