News Nation Logo

संन्‍यास का फैसला वापस लेकर टीम इंडिया के लिए फिर खेलता दिख सकता है यह धाकड़ बल्‍लेबाज

विश्‍व कप क्रिकेट 2019 की टीम में शामिल न किए जाने के चलते अचानक संन्‍यास की घोषणा कर देने वाले भारतीय बल्‍लेबाज एक बार फिर से देश और आईपीएल के लिए खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं.

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 25 Aug 2019, 09:46:59 AM
फाइल फोटो

नई दिल्‍ली:  

विश्‍व कप क्रिकेट 2019 की टीम में शामिल न किए जाने के चलते अचानक संन्‍यास की घोषणा कर देने वाले भारतीय बल्‍लेबाज एक बार फिर से देश और आईपीएल के लिए खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं. हम बात कर रहे हैं हाल ही में संन्‍यास लेने वाले अंबाती रायुडू की. उन्‍होंने स्पोर्टस्टार के साथ बातचीत करते हुए इस ओर इशारा किया है, हालांकि अब उन्‍हें भारतीय टीम में शामिल किया जाएगा कि नहीं यह भी अपने आप में बड़ा सवाल बना हुआ है. 

यह भी पढ़ें ः अगर पाकिस्तान ने दिल्ली पर गिराया परमाणु बम तो भारत की राजधानी को होगा ये हश्र

विश्‍व कप क्रिकेट में संभावना जताई जा रही थी कि अंबती रायुडू ही नंबर चार पर बल्‍लेबाजी करेंगे, लेकिन आईपीएल में अच्‍छा प्रदर्शन न कर पाने और इसी बीच विजय शंकर की अच्‍छी बल्‍लेबाजी के कारण अंबती को बाहर कर दिया गया और विजय शंकर टीम में आ गए. इस पूरे घटनाक्रम से नाराज होकर अंबती रायुडू ने संन्‍यास का ऐलान कर दिया था. उनके संन्‍यास के एलान के बाद हर कोई हैरान था कि अचानक इस तरह का फैसला आखिर क्‍यों लिया गया. कई दिनों तक इस पर चर्चा होती रही. तकरीबन दो महीने बाद अंबती ने फिर से खेलने की इच्‍छा जाहिर की है. वे एक दिवसीय और T-20 क्रिकेट में वापसी करना चाहते हैं.

यह भी पढ़ें ः गजब : इस भारतीय बल्‍लेबाज ने 39 गेंदों में जड़ दिया शतक, 15 रन देकर आठ विकेट

अंबती रायुडू ने स्पोर्टस्टार से बात करते हुए कहा कि वे भारत और आइपीएल में फिर से खेलने पर विचार कर रहे हैं. इससे पहले उन्‍होंने संन्‍यास लेते वक्‍त एक पत्र में लिखा था कि वह खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास का फैसला कर चुके हैं, वह बीसीसीआई और उन सभी राज्य संघों को धन्यवाद कहना चाहते हैं, जिन्होंने उन्‍हें खेलने का अवसर दिया और जिनका उन्‍होंने प्रतिनिधित्व किया. रायूडू ने भारत के लिए 55 एकदिवसीय पारियां खेली हैं, उनमें रायडू ने 47.05 की औसत से 1694 रन बनाए हैं, जिसमें नाबाद 124 का सर्वोच्च स्कोर है. उन्होंने तीन शतक और 10 अर्द्धशतक लगाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 79.04 है. उन्होंने जो पांच T-20 पारी खेली हैं, उनमें उन्होंने 10.50 की औसत से 42 रन बनाए हैं. शिखर धवन के अंगूठे की चोट के कारण वर्ल्‍ड कप से बाहर हो जाने के बाद भारतीय टीम प्रबंधन ने ऋषभ पंत को चुना था. उसके बाद ऑलराउंडर विजय शंकर को पैर की अंगुली में फ्रैक्चर के कारण बाहर निकालने के बाद मयंक अग्रवाल को चुन लिया गया. इसके बाद अंबती की सारी उम्‍मीदें धुल गई थी और उन्‍होंने आनन फानन में संन्‍यास ले लिया था. विश्व कप में भारतीय टीम में शामिल होने के लिए मयंक अग्रवाल के चुने जाने के बाद रायडू को सोशल मीडिया पर भी ट्रोल भी किया गया था. रायडू ने चयनकर्ताओं द्वारा विजय शंकर को लेने के फैसले पर भी सवाल उठाया था, जिसमें मुख्य चयनकर्ता के बयान का मजाक उड़ाया गया था.

यह भी पढ़ें ः वकार यूनुस ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम के गेंदबाजी कोच के लिए दी अर्जी, दो बार रह चुके हैं हेड कोच

उधर पूर्व सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर ने अंबती के संन्‍यास के ऐलान के बाद उनका पक्ष लिया था. गौतम गंभीर ने BCCI को जिम्‍मेदार बताते हुए कहा है कि उन्‍हें सबसे ज्यादा हैरानी इस बात की है कि पूरे बीसीसीआई के मौजूदा चयन पैनल का करियर भी बहुत अच्‍छा नहीं रहा है. इसके बावजूद वे अंबाती रायडू जैसी प्रतिभाओं को उचित मौका नहीं दे सके.

First Published : 24 Aug 2019, 08:49:46 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.